• होम
  • मोबाइल
  • ख़बरें
  • Apple ने किया iPhone के रेडिएशन स्टैंडर्ड को पूरा करने का दावा, फ्रांस ने लगाई थी रोक

Apple ने किया iPhone के रेडिएशन स्टैंडर्ड को पूरा करने का दावा, फ्रांस ने लगाई थी रोक

एपल ने कहा है कि ANFR को उसने कंपनी और थर्ड-पार्टी लैब के रिजल्ट्स उपलब्ध कराए हैं जिनसे यह पता चलता है कि आईफोन 12 सभी लागू SAR रेगुलेशंस का पालन करता है

Apple ने किया iPhone के रेडिएशन स्टैंडर्ड को पूरा करने का दावा, फ्रांस ने लगाई थी रोक

कंपनी को फ्रांस में इस स्मार्टफोन की बिक्री को रोकने का ऑर्डर दिया गया था

ख़ास बातें
  • एपल इस स्मार्टफोन की लगभग तीन वर्ष से बिक्री कर रही है
  • कंपनी ने आईफोन 12 में रेडिएशन का लेवल अधिक होने के आरोप को गलता बताया है
  • यूरोप में स्मार्टफोन्स के रेडिएशन लेवल के लिए तय स्टैंडर्ड हैं
विज्ञापन
दुनिया भर में लोकप्रिय iPhone बनाने वाली अमेरिकी कंपनी Apple ने बुधवार को कहा कि उसके iPhone 12 को कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की ओर से ग्लोबल रेडिएशन स्टैंडर्ड्स का पालन करने के लिए प्रमाणित किया गया है। फ्रांस के रेडिएशन रेगुलेटर ANFR ने कहा था कि आईफोन 12 में रेडिएशन का लेवल वैध लिमिट से अधिक है। इस वजह से कंपनी को फ्रांस में इस स्मार्टफोन की बिक्री को रोकने का ऑर्डर दिया गया था। 

ANFR की ओर से किए गए टेस्ट में iPhone 12 में स्पेसिफिक एब्जॉर्प्शन रेट (SAR) वैध लिमिट से कुछ अधिक पाया गया था। समाचार पत्र Le Parisien को दिए इंटरव्यू में  फ्रांस के डिजिटल इकोनॉमी के उप मंत्री Jean Noel Barrot ने यह जानकारी दी थी। उन्होंने बताया था कि रेडिएशन की समस्या को दूर करने के लिए एक सॉफ्टवेयर अपडेट करना होगा। एपल इस स्मार्टफोन की पिछले लगभग तीन वर्ष से बिक्री कर रही है। उन्होंने कहा था, "एपल से दो सप्ताह के अंदर जवाब मिलने की उम्मीद है। अगर वह ऐसा करने में नाकाम रहती तो मैं सभी आईफोन 12 को रिकॉल करने का ऑर्डर देने के लिए तैयार हूं। बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों सहित सभी के लिए नियम समान है।" 

एपल ने कहा है कि ANFR को उसने कंपनी और थर्ड-पार्टी लैब के रिजल्ट्स उपलब्ध कराए हैं जिनसे यह पता चलता है कि आईफोन 12 सभी लागू SAR रेगुलेशंस का पालन करता है। कंपनी ने बताया कि ANFR के रिव्यू के परिणामों को लेकर वह विरोध दर्ज करा रही है। ANFR ने बताया था कि एक्रेडिएटेड लैब्स ने टेस्ट्स के दौरान इस स्मार्टफोन के हाथ में पकड़े होने या ट्राउजर की पॉकेट में रखने पर इलेक्ट्रोमैग्नेटिक एनर्जी का शरीर की ओर से एब्जॉर्प्शन 5.74 वॉट प्रति किलोग्राम पाया है। इसके लिए यूरोपियन स्टैंडर्ड 4.0 वॉट प्रति किलोग्राम का है। एपल ने iPhone 15 सीरीज को मंगलवार को लॉन्च किया था। इसमें iPhone 15, iPhone 15 Plus, iPhone 15 Pro और iPhone 15 Pro Max शामिल हैं। 

आईफोन 15 के Pro मॉडल्स में नए A17 Bionic चिपसेट का इस्तेमाल किया गया है। कंपनी का दावा है कि यह चिपसेट A16 की तुलना में बेहतर एफिशिएंसी और ज्यादा पावर वाला है। iPhone 15 Pro और iPhone 15 Pro Max में भी iPhone 15 और iPhone 15 Plus के समान USB Type-C चार्जिंग पोर्ट है। 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Very good build quality
  • Dolby Vision HDR video recording
  • Excellent cameras
  • Smooth performance in everyday use
  • कमियां
  • Battery life could be better
  • Gets warm when stressed
डिस्प्ले6.10 इंच
प्रोसेसरऐप्पल ए14 बायोनिक
फ्रंट कैमरा12-मेगापिक्सल
रियर कैमरा12-मेगापिक्सल + 12-मेगापिक्सल
स्टोरेज64 जीबी
ओएसआईओएस 14
रिज़ॉल्यूशन1170x2532 पिक्सल
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »