• होम
  • electric vehicle
  • ख़बरें
  • टेस्ला को लगा बड़ा झटका, अमेरिका में मार्केट शेयर 50 प्रतिशत से घटा

टेस्ला को लगा बड़ा झटका, अमेरिका में मार्केट शेयर 50 प्रतिशत से घटा

दूसरी तिमाही में अमेरिका के मार्केट में Hyundai, General Motors और Ford की हिस्सेदारी बढ़ी है। पिछले वर्ष टेस्ला की मॉडल Y दुनिया में सबसे अधिक बिकने वाली कार रही है

टेस्ला को लगा बड़ा झटका, अमेरिका में मार्केट शेयर 50 प्रतिशत से घटा

कंपनी का दूसरी तिमाही में अमेरिका में मार्केट शेयर घटकर 49.7 प्रतिशत रह गया है

ख़ास बातें
  • EV के इंटरनेशनल मार्केट में भी सेल्स की रफ्तार घटी है
  • टेस्ला ने 2012 में मॉडल S के साथ बिजनेस की शुरुआत की थी
  • पिछले कुछ महीनों में कंपनी की सेल्स में कमी हुई है
विज्ञापन
बड़ी इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) कंपनियों में शामिल Tesla को अपने बड़े मार्केट अमेरिका में झटका लगा है। अमेरिका के EV मार्केट में कंपनी की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत से कम हो गई है। हालांकि, अपने राइवल्स से यह काफी आगे है। EV के इंटरनेशनल मार्केट में भी सेल्स की रफ्तार घटी है। 

मार्केट रिसर्च फर्म Cox Automotive के डेटा के अनुसार, बिलिनेयर Elon Musk की टेस्ला का दूसरी तिमाही में अमेरिका में मार्केट शेयर घटकर 49.7 प्रतिशत रह गया है। एक वर्ष पहले की समान अवधि में यह 59.3 प्रतिशत का था। टेस्ला ने 2012 में मॉडल S के साथ बिजनेस की शुरुआत की थी। कंपनी के मॉडल S की बड़ी संख्या में बिक्री हुई थी। इसके बाद पेश किए गए मॉडल X और मॉडल 3 भी लोकप्रिय हुए थे। हालांकि, पिछले कुछ महीनों में कंपनी की सेल्स में कमी हुई है। 

दूसरी तिमाही में अमेरिका के मार्केट में Hyundai, General Motors और Ford की हिस्सेदारी बढ़ी है। पिछले वर्ष टेस्ला की मॉडल Y दुनिया में सबसे अधिक बिकने वाली कार रही है। जापान की ऑटोमोबाइल कंपनी Toyota की Corolla लगभग दो दशक से इंटरनेशनल मार्केट में सबसे अधिक बिकने वाली कार थी। पिछले वर्ष यह बिक्री के लिहाज से चौथे स्थान पर रही है। टेस्ला को विदेश में अपने सबसे बड़े मार्केट चीन में ग्रोथ को बरकरार रखने में संघर्ष करना पड़ रहा है। चीन में BYD से इसे कड़ी टक्कर मिल रही है। इसके अलावा Nio Inc, Xpeng और Li Auto की बिक्री भी बढ़ी है। इलेक्ट्रिक कारों के प्राइसेज घटाने के बावजूद टेस्ला की सेल्स नहीं बढ़ रही है। इस वजह से मस्क ने कंपनी में छंटनी करने का भी फैसला किया है। 

Jato Dynamics के डेटा के अनुसार, पिछले वर्ष टेस्ला ने मॉडल Y की लगभग 12.2 लाख यूनिट्स की बिक्री की थी। यह वर्ष-दर-वर्ष आधार पर लगभग 64 प्रतिशत की बढ़ोतरी है। टोयोटा ने कोरोला की बिक्री में लगभग 19 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की है। पिछले वर्ष टोयोटा की RAV4 लगभग 10.8 लाख यूनिट्स की बिक्री के साथ दूसरी सबसे अधिक बिकने वाली कार रही। इसके बाद Honda की CR-V (8,46,000 यूनिट्स) थी। टेस्ला की मॉडल 3 ने भी सबसे अधिक बिकने वाली 10 कारों में जगह बनाई है। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. भारत से ऑटोमोबाइल का एक्सपोर्ट 15 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ा
  2. स्मार्टफोन के इंटरनेशनल मार्केट की शिपमेंट्स 6 प्रतिशत बढ़ी, सैमसंग का पहला स्थान
  3. Honor Magic V3 स्मार्टफोन 16GB रैम, वायरलेस चार्जिंग सपोर्ट के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स
  4. Elon Musk की Tesla Robotaxi के आने में हुई देरी, जानें अब कब लॉन्च होगी अपने आप चलने वाली टैक्सी?
  5. Acerpure ने 65-इंच तक स्क्रीन साइज वाले 4 स्मार्ट टीवी भारत में किए लॉन्च, कीमत 11,490 रुपये से शुरू
  6. Huawei की ट्राई-फोल्ड स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी, 10 इंच की हो सकती है स्क्रीन
  7. बिटकॉइन में हुई रिकवरी, प्राइस 62,700 डॉलर से ज्यादा
  8. Realme 13 Pro सीरीज होगी 30 जुलाई को लॉन्च,क्या कुछ होगा खास यहां जानें सबकुछ
  9. Kia ने EV6 इलेक्ट्रिक कार की भारत में बिकी 1,138 यूनिट्स को वापस सर्विस सेंटर बुलाया, पाई गई ये गंभीर समस्या
  10. Jio के ये प्लान पूरे 365 दिन देते हैं डेली 2.5GB डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »