Apple की Vision Pro को चीन में लॉन्च करने की तैयारी, अलग हो सकती है ब्रांडिंग

चीन की बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों में शामिल Huawei के पास वहां ' Vision Pro' का ट्रेडमार्क है। इसका मतलब है कि एपल को किसी अलग ब्रांडिंग से इस हेडसेट को लाना होगा

Apple की Vision Pro को चीन में लॉन्च करने की तैयारी, अलग हो सकती है ब्रांडिंग

अमेरिका में इसकी बिक्री दो लाख यूनिट्स से अधिक हो गई है

ख़ास बातें
  • Vision Pro को अप्रैल में चीन में बिक्री के लिए उपलब्ध कराया जा सकता है
  • एपल की योजना मौजूदा वर्ष में इसकी लगभग पांच लाख यूनिट्स की शिपमेंट की है
  • चीन के स्मार्टफोन मार्केट में एपल को Huawei ने कड़ी टक्कर मिल रही है
विज्ञापन
अमेरिकी डिवाइसेज मेकर Apple ने पिछले सप्ताह मिक्स्ड रिएलिटी हेडसेट Vision Pro को लॉन्च किया था। अमेरिका में इसकी बिक्री दो लाख यूनिट्स से अधिक हो गई है। यह लगभग एक दशक पहले Apple Watch के बाद से कंपनी का एक नई प्रोडक्ट कैटेगरी में पहला लॉन्च है। इसे जल्द चीन में पेश किया जा सकता है। 

एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि Vision Pro को अप्रैल में चीन में बिक्री के लिए उपलब्ध कराया जा सकता है। यह जानकारी सप्लाई चेन के सूत्रों के हवाले से दी गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की इंडस्ट्री एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मिनिस्ट्री के पास इस डिवाइस का रजिस्ट्रेशन कराया जा रहा है। एपल के प्रोडक्ट्स को ट्रैक करने वाले Bloomberg के Mark Gurman ने पिछले महीने रिपोर्ट दी थी कि Vision Pro को अमेरिका में लॉन्च के बाद चीन सहित कुछ अन्य देशों में पेश किया जा सकता है। एपल की योजना मौजूदा वर्ष में इसकी लगभग पांच लाख यूनिट्स की शिपमेंट की है। 

हालांकि, चीन में इस AR/VR हेडसेट के साथ कुछ मुश्किलें हो सकती हैं। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन की बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों में शामिल Huawei के पास वहां ' Vision Pro'ट्रेडमार्क है। इसका मतलब है कि एपल को किसी अलग ब्रांडिंग से इस हेडसेट को लाना होगा। ऐसा बताया जा रहा है कि Huawei अपना VR हेडसेट लाने पर कार्य कर रही है। इस वर्ष के अंत तक इसे चीन में लॉन्च किया जा सकता है। चीन के स्मार्टफोन मार्केट में एपल के मार्केट शेयर में भी Huawei ने सेंध लगाई है। एपल के iPhone 15 की तुलना में Huawei के स्मार्टफोन्स की लोकप्रियता बढ़ी है। 

कंपनी की चीन में iPhone की सेल्स पिछले वर्ष की चौथी तिमाही में 2.1 प्रतिशत घटी है। एपल को चीन में सरकार की ओर से की सख्ती का सामना भी करना पड़ रहा है। इसके लिए चीन तीसरा सबसे बड़ा मार्केट है। चीन में सरकारी एजेंसियों और कुछ कंपनियों ने अपने एंप्लॉयीज पर एपल के डिवाइसेज का इस्तेमाल करने की रोक लगाई गई है। इससे पहले अमेरिकी सरकार ने सिक्योरिटी के कारणों से कुछ चाइनीज ऐप्स पर बंदिशें लगाई थी। Huawei के अमेरिका में बिजनेस पर भी असर पड़ा था। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Manas Mitul In his time as a journalist, Manas Mitul has written on a wide spectrum of beats including politics, culture and sports. He enjoys reading, walking around in museums ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Vivo X Fold 3 Pro भारत में इस दिन होगा लॉन्च, जानें सबकुछ
  2. iQoo Neo 9S Pro स्मार्टफोन 16GB रैम, 1TB स्टोरेज के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत
  3. Infinix GT 20 Pro की लॉन्च तारीख, अनुमानित कीमत से लेकर फीचर्स और स्पेसिफिकेशंस का खुलासा
  4. Noise Vibe 2 Launched : Rs 1499 में नॉइस ने लॉन्‍च किया पोर्टेबल ब्‍लूटूथ स्‍पीकर
  5. Android 15 से क्या 3 घंटे बढ़ जाएगी बैटरी लाइफ?
  6. Xiaomi ने लॉन्‍च किया 43 इंच का नया स्‍मार्ट TV, FHD रेजॉलूशन, 8GB स्‍टोरेज समेत कई खूबियां
  7. Samsung का बैक टू कैंपस कैंपेन शुरू, 13000 रुपये सस्ते में Samsung Galaxy S24, लैपटॉप पर तगड़ा डिस्काउंट
  8. Bell 212 : इसी हेलीकॉप्‍टर के क्रैश होने से गई ईरानी राष्‍ट्रपति की जान, जानें इसकी एक-एक डिटेल!
  9. 16GB रैम, 50MP कैमरा, 90W चार्जिंग वाले Redmi Turbo 3 का नया कलर वेरिएंट लॉन्‍च
  10. Vivo Y200t, Y200 GT Launched: 50MP कैमरा, 6000mAh बैटरी के साथ वीवो के ये 2 फोन लॉन्च
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »