• होम
  • विज्ञान
  • ख़बरें
  • चीन की अमेरिका को चुनौती! पहली बार स्पेस में भेजेगा सिविलियन! 2029 तक नया चांद मिशन भी करेगा लॉन्च!

चीन की अमेरिका को चुनौती! पहली बार स्पेस में भेजेगा सिविलियन! 2029 तक नया चांद मिशन भी करेगा लॉन्च!

चीन अब अपने Tiangong space station में एक सिविलियन को भेजने वाला है। यानि कि किसी भी चीनी नागरिक के लिए यह अंतरिक्ष में जाने का पहला मौका होगा।

चीन की अमेरिका को चुनौती! पहली बार स्पेस में भेजेगा सिविलियन! 2029 तक नया चांद मिशन भी करेगा लॉन्च!

Photo Credit: NASA

चीन का लक्ष्य चांद पर बेस स्टेशन बनाना भी है।

ख़ास बातें
  • चुने गए यात्री गुई हाईचाओ पेलोड एक्‍सपर्ट हैं।
  • साथ में कमांडर जिंग हैपेंग और चालक दल के तीसरे सदस्य झू यांग्झू भी होंगे।
  • चीन का लक्ष्य चांद पर बेस स्टेशन बनाना भी है।
विज्ञापन
अंतरिक्ष में चीन एक और बड़ा कदम उठाने जा रहा है। देश ने नए स्पेस मिशन का ऐलान किया है जिसमें एक सिविलियन को स्पेस स्टेशन में भेजा जाएगा। यानि कि यह पहला मिशन होगा जिसमें एक चीनी नागरिक को अंतरिक्ष में भेजा जाने वाला है। अभी तक जो एस्ट्रोनॉट स्पेस मिशन पर गए हैं वे पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) से रहे हैं। यह सिविलियन तियांगोंग स्‍पेस स्टेशन के चालक दल में शामिल होगा। आइए विस्तार से जानते हैं चीन के इस मिशन के बारे में। 

चीन अंतरिक्ष में अमेरिका को चुनौती देता नजर आ रहा है। देश अब अपने Tiangong space station में एक सिविलियन को भेजने वाला है। यानि कि किसी भी चीनी नागरिक के लिए यह अंतरिक्ष में जाने का पहला मौका होगा। NDTV के अनुसार, अभी तक स्पेस में भेजे गए यात्री पीपुल्स लिबरेशन आर्मी से थे। देश की स्पेस एजेंसी की ओर से यह जानकारी दी गई है। जिसमें बताया गया है कि चुने गए यात्री गुई हाईचाओ पेलोड एक्‍सपर्ट हैं और बीजिंग यूनिवर्सिटी ऑफ एरोनॉटिक्स एंड एस्ट्रोनॉटिक्स में प्रोफेसर भी हैं। उनके साथ मिशन के कमांडर जिंग हैपेंग और चालक दल के तीसरे सदस्य झू यांग्झू भी होंगे। 

मिशन के लिए उड़ान उत्तर पश्चिमी चीन स्थित जिउक्वान सैटेलाइट लॉन्च सेंटर से भरी जाएगी। जिसके लिए कल, यानि मंगलवार के दिन सुबह 9.31 बजे का समय निर्धारित है। चीन को दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था कहा जाता है। पिछले कुछ सालों में देश ने अरबों डॉलर का निवेश अपने स्पेस प्रोग्राम में किया है। देश का मकसद चांद पर मनुष्य को भेजना है। देश की पूरी कोशिश है कि वह अमेरिका और रूस, जो स्पेस में काफी उपलब्धि हासिल कर चुके हैं, की बराबरी करते हुए इनसे आगे निकल जाए। 

चीन का लक्ष्य चांद पर बेस स्टेशन बनाना भी है। साथ ही यह 2029 तक एक नया चांद मिशन लॉन्च करने की तैयारी कर रहा है। स्पेस में चीनी सिविलियन को भेजकर चीन नई उपलब्धि हासिल करने जा रहा है। आने वाले समय में देखना होगा कि अमेरिका और रूस को अंतरिक्ष में हराने के लिए यह कौन सा कदम उठाता है। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

हेमन्त कुमार

हेमन्त कुमार Gadgets 360 में सीनियर सब-एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. Amazon Prime Day Sale: LG, Samsung, Daikin के एयर कंडीशनर्स पर बेस्ट डील्स
  2. OnePlus 12R का नया नवेला वेरिएंट Rs 3000 सस्ता खरीदें, साथ में OnePlus Buds 3 फ्री! जानें ऑफर
  3. Amazon Prime Day Sale: वॉशिंग मशीन पर बेस्ट डील्स, 40 प्रतिशत तक डिस्काउंट
  4. BSNL का बड़ा धमाका! इन रिचार्ज प्लान पर मिलेगा Rs 1 लाख का ईनाम
  5. Amazon Prime Day Sale: लोकप्रिय ब्रांड्स के रेफ्रीजरेटर्स पर बेस्ट डील्स
  6. Amazon Prime Day 2024 Sale में iPhone 13 मात्र Rs 47,799 में खरीदें
  7. Reliance Jio ने चीन को भी पछाड़ा! इंटरनेट डाटा खपत में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी
  8. Amazon Prime Day Sale: 50,000 रुपये से कम प्राइस में स्मार्ट TV पर बेस्ट डील्स
  9. Amazon Prime Day Sale: 20 हजार के अंदर खरीदें ये बेहतरीन स्मार्टफोन
  10. Amazon सेल में Rs 80 हजार के अंदर मिल रहे बेस्ट गेमिंग लैपटॉप! देखें लिस्ट
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »