Xiaomi के बिजनेस के लिए भारत में बढ़ी चुनौती, कंपनी करेगी स्टाफ की छंटनी

इसके मार्केट शेयर में Samsung जैसी कंपनियों ने सेंध लगाई है। कम प्राइस वाले स्मार्टफोन्स की कैटेगरी में कम मौजूदगी से भी कंपनी को नुकसान हो रहा है

Xiaomi के बिजनेस के लिए भारत में बढ़ी चुनौती, कंपनी करेगी स्टाफ की छंटनी

पिछले कुछ महीनों में कंपनी का मार्केट शेयर कम हुआ है

ख़ास बातें
  • शाओमी ने देश में अपनी यूनिट की रिस्ट्रक्चरिंग करने का फैसला किया है
  • केंद्र सरकार ने चाइनीज मोबाइल कंपनियों के लिए नए रूल्स बनाए हैं
  • यह अपने रिसोर्सेज का बेहतर इस्तेमाल करने, खर्च घटाने जैसे उपाय कर रही है
विज्ञापन
चाइनीज स्मार्टफोन मेकर Xiaomi के भारत में बिजनेस के लिए मुश्किलें बढ़ रही हैं। कंपनी को मार्केट शेयर में कमी और रेगुलेटरी सख्ती जैसी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। शाओमी ने देश में अपनी यूनिट की रिस्ट्रक्चरिंग करने का फैसला किया है। इस वजह से कंपनी से वर्कर्स की छंटनी की जा रही है। 

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, शाओमी के पास इस वर्ष की शुरुआत में देश में लगभग 1,500 वर्कर्स थे। कंपनी ने हाल ही में लगभग 30 वर्कर्स की छंटनी की है। यह जल्द ही दोबारा छंटनी कर सकती है। पिछले कुछ महीनों में कंपनी का मार्केट शेयर कम हुआ है। इस वजह से यह अपने रिसोर्सेज का बेहतर इस्तेमाल करने और खर्च को घटाने जैसे उपाय कर रही है। इसके मार्केट शेयर में Samsung जैसी कंपनियों ने सेंध लगाई है। कम प्राइस वाले स्मार्टफोन्स की कैटेगरी में कम मौजूदगी से भी कंपनी को नुकसान हो रहा है। 

हाल ही में केंद्र सरकार ने चाइनीज मोबाइल कंपनियों के लिए नए रूल्स बनाए हैं। सरकार ने Realme, Oppo, Xiaomi और Vivo जैसी कंपनियों को देश में उनके कारोबार में भारतीय इक्विटी पार्टनर्स को शामिल करने के लिए कहा है। इसके अलावा इन कंपनियों को चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर, चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर और चीफ टेक्निकल ऑफिसर जैसी सीनियर पोजिशंस पर भारतीय एग्जिक्यूटिव्स को नियुक्त करने के लिए कहा गया है। इन कंपनियों को भारतीय कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरर्स को लाने, लोकल मैन्युफैक्चरिंग बढ़ाने और देश से एक्सपोर्ट में बढ़ोतरी करने का भी निर्देश दिया गया है। 

मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की ओर से बनाए गए इन रूल्स के तहत चाइनीज मोबाइल कंपनियों को केवल लोकल डिस्ट्रीब्यूटर्स ही रखने होंगे। इन कंपनियों को टैक्स चोरी के खिलाफ चेतावनी भी दी गई है। सरकार चाहती है कि ये कंपनियां भारत को अपने प्रोडक्शन और एक्सपोर्ट का हब बनाएं। इस महीने की शुरुआत में शाओमी सीनियर एग्जिक्यूटिव्स और तीन बैंकों को FEMA के 5,551 करोड़ रुपये के उल्लंघन के मामले में एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) ने कारण बताओ नोटिस दिया था। इनमें शाओमी के CFO, Sameer Rao और पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर, Manu Jain शामिल हैं। ED ने एक ट्वीट कर पुष्टि की थी कि उसने शाओमी, इसके चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर राव और पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर जैन और तीन विदेशी बैंकों को कथित तौर पर फॉरेन एक्सचेंज के उल्लंघन के लिए नोटिस दिए हैं। इस मामले में CITI Bank, HSBC Bank और Deutsche Bank को नोटिस दिए गए हैं। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Black Hole : आकाशगंगा में मिला अबतक का सबसे बड़ा तारकीय ब्‍लैक होल, क्‍या होते हैं ये? जानें
  2. Motorola Edge 50 Fusion, Edge 50 Ultra हुए 50MP कैमरा, 125W फास्ट चार्जिंग के साथ लॉन्च
  3. Redmi Pad SE भारत में 90Hz डिस्प्ले, Snapdragon 680 चिपसेट के साथ 23 अप्रैल को होगा लॉन्च, जानें सबकुछ
  4. OnePlus 11R सोलर रेड कलर मॉडल हुआ लॉन्च, 8GB रैम, 5000mAh बैटरी, 100W चार्जिंग जैसे फीचर्स
  5. iPhone 15 पर यहां मिल रहा है Rs. 13,991 का जबरदस्त डिस्काउंट, बैंक ऑफर अलग से...
  6. Bajaj Chetak EV की बिक्री में 295.52% का सालाना इजाफा, Ola ई-स्कूटर ने भी किया कमाल, जानें TVS और Ather का हाल!
  7. 2 टचस्क्रीन डिस्प्ले और 32GB रैम के साथ आता है Asus का नया Zenbook Duo (2024) लैपटॉप, जानें कीमत
  8. WhatsApp वेब यूजर्स को जल्द ही मिलेगा नया कस्टमाइज साइडबार, जानें सबकुछ
  9. Redmi K70 Ultra में होगा तगड़ा प्रोसेसर! मिलेगी 24GB रैम और 120W चार्जिंग
  10. Anand Mahindra: इस्राइल के एयर डिफेंस सिस्‍टम के मुरीद हुए आनंद महिंद्रा, बोले- हमें भी करना होगा फोकस
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »