बिटकॉइन में जोरदार तेजी, 29,000 डॉलर के पार हुआ प्राइस

बिटकॉइन ने पिछले वर्ष लगभग 68,000 डॉलर का हाई लेवल छुआ था। इसके बाद से इसके प्राइस में भारी गिरावट हुई है। इससे इनवेस्टर्स को भारी नुकसान उठाना पड़ा था

बिटकॉइन में जोरदार तेजी, 29,000 डॉलर के पार हुआ प्राइस

दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Ether का प्राइस 2.23 प्रतिशत बढ़कर 1,584 डॉलर पर था

ख़ास बातें
  • बिटकॉइन का प्राइस बढ़कर 29,190 डॉलर पर था
  • Binance Coin, Cardano, Litecoin और Tron में भी तेजी थी
  • पिछले वर्ष बिटकॉइन ने लगभग 68,000 डॉलर का हाई लेवल छुआ था
विज्ञापन
मार्केट कैपिटलाइजेशन में सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin में शुक्रवारको 3.30 प्रतिशत की तेजी थी। इससे बिटकॉइन का प्राइस बढ़कर 29,190 डॉलर पर पहुंच गया। पिछले कुछ महीनों में यह पहली बार है कि जब इसका प्राइस 29,000 डॉलर के लेवल को पार कर सका है। क्रिप्टो मार्केट के एक्सपर्ट्स का मानना है कि बिटकॉइन का इस मार्केट में दबदबा बढ़ रहा है और इसके प्राइस में तेजी का यह बड़ा कारण है। 

दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Ether का प्राइस 2.23 प्रतिशत बढ़कर 1,584 डॉलर पर था। तेजी वाली अन्य क्रिप्टोकरेंसीज में Binance Coin, Cardano, Litecoin, Tron, Avalancheand, Polygon, Stellar और Monero शामिल थी। Bitcoin Cash, USD Coin, Solana और Binance USD के प्राइसेज में गिरावट थी। पिछले एक दिन में क्रिप्टो की मार्केट वैल्यू 2.93 प्रतिशत बढ़कर 1.11 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंच गई। 

क्रिप्टो फर्म Mudrex के CEO, Edul Patel ने Gadgets 360 को बताया, "अमेरिका के फेडरल रिजर्व की ओर से नवंबर में रेट्स में कोई बदलाव नहीं किए जाने का संकेत मिलने के बाद बिटकॉइन 28,600 डॉलर के लेवल से अधिक पर ट्रेड कर रहा है। मार्केट में सेंटीमेंट बुलिश दिख रहा है।" CoinSwitch के मार्केट्स डेस्क के सीनियर मैनेजर, Shubham Hudda का कहना था, "इनवेस्टर्स की LINK पर नजर है क्योंकि  Chainlink ने हाल ही में स्टेकिंग v0.2 को लॉन्च करने की जानकारी दी थी। इससे स्टेकर्स को आसानी हो सकती है। इसके अलावा XRP में भी सात प्रतिशत की तेजी आई है।" 

बिटकॉइन ने पिछले वर्ष लगभग 68,000 डॉलर का हाई लेवल छुआ था। इसके बाद से इसके प्राइस में भारी गिरावट हुई है। इससे इनवेस्टर्स को भारी नुकसान उठाना पड़ा था। कुछ क्रिप्टो फर्मों के दिवालिया होने से भी मार्केट में गिरावट आई थी। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने क्रिप्टो सेगमेंट के लिए रूल्स बनाने पर जोर दिया था। उनका कहना था कि टेक्नोलॉजी के डिवेलपमेंट के साथ रफ्तार बरकरार रखने की जरूरत है। इससे पहले फाइनेंस मिनिस्ट्री और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने भी क्रिप्टो के लिए रूल्स बनाने का पक्ष लिया था। कुछ देशों में रेगुलेटर्स इस सेगमेंट के लिए रूल्स बना रहे हैं। इससे इस मार्केट में स्कैम के मामलों में कमी हो सकती है और इनवेस्टर्स का भरोसा भी मजबूत हो सकता है। 
 

भारतीय एक्सचेंजों में क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

राधिका पाराशर

राधिका पाराशर के पास Gadgets 360 में वरिष्ठ संवाददाता की पोस्ट है। ये ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. Ether के स्पॉट ETFs की जोरदार शुरुआत, लॉन्च पर हुई 1 अरब डॉलर से ज्यादा की ट्रेडिंग
  2. Google की Pixel 9 सीरीज में हो सकता है Samsung का OLED डिस्प्ले
  3. Xiaomi 14T Pro स्मार्टफोन 12GB रैम और इस MediaTek चिपसेट के साथ होगा लॉन्च! Geekbench स्कोर आया सामने
  4. U&I ने भारत में लॉन्च किए 30 घंटे के बैटरी बैकअप वाले 2 वायरलेस नेकबैंड, कीमत 2,499 रुपये
  5. Panasonic ने लॉन्च किए हाई-डेफिनेशन कैमरा और Wi-Fi कनेक्टिविटी वाले 5 नए वीडियो डोर फोन, जानें फीचर्स
  6. Jio Freedom Offer: 15 अगस्त तक 1,000 रुपये का Jio AirFiber ब्रॉडबैंड इंस्टॉलेशन बिल्कुल फ्री!
  7. BSNL को सरकार ने बजट में दिए 82,916 करोड़ रुपये, टेक्नोलॉजी और नेटवर्क होंगे अपग्रेड
  8. iQOO अगले महीने लॉन्च करेगी Z9s और Z9s Pro
  9. गाड़ी चलाते समय नहीं छूटेगा फ्लाइओवर! Google Maps ने पेश कर दिया बड़ा फीचर! जानें पूरी डिटेल
  10. फ्लाइट में मिलेगा हाईस्‍पीड इंटरनेट! Starlink की सर्विस अब 1000 विमानों में शुरू
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »