नए साल पर यूं धधका सूर्य, निकले सोलर फ्लेयर, Nasa ने शेयर की तस्‍वीर

स्‍पेस एजेंसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘स्‍टार ऑफ द शो’ की ओर से #HappyNewYear जिसने यह सब संभव किया है।

नए साल पर यूं धधका सूर्य, निकले सोलर फ्लेयर, Nasa ने शेयर की तस्‍वीर

Photo Credit: Nasa

सूर्य की यह तस्‍वीर सोलर डायनैमिक ऑब्‍जर्वेट्री (SDO) ने ली है। एक स्‍पेसक्राफ्ट के जरिए यह ऑब्‍जर्वेट्री सूर्य में होने वाली गतिविधियों पर नजर बनाए रखती है।

ख़ास बातें
  • Nasa ने शेयर की सूर्य की धधकती हुई तस्‍वीर
  • सूर्य से निकलते हुए सोलर फ्लेयर्स को देखा जा सकता है
  • नासा ने नए साल का क्रेडिट सूर्य को दिया है
विज्ञापन
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (Nasa) ने ‘नववर्ष 2023' के मौके पर सूर्य की हैरान करने वाली तस्‍वीर शेयर की है। नासा ने नए साल का क्रेडिट सूर्य को दिया है। स्‍पेस एजेंसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘स्‍टार ऑफ द शो' की ओर से #HappyNewYear जिसने यह सब संभव किया है। जैसाकि हम जानते हैं पृथ्‍वी को सूर्य की एक परिक्रमा पूरी करने में लगभग 365 दिनों का समय लगता है यानी पूरा एक साल। और अब पृथ्‍वी ने दोबारा सूर्य की परिक्रमा करना शुरू कर दिया है। पृथ्‍वी की सूर्य से दूरी लगभग 150 मिलियन किलोमीटर है।  

4.6 अरब साल के हो चुके सूर्य की इस शानदार इमेज के साथ नासा ने कुछ और जानकारियां भी दी हैं। बताया है कि सूर्य हमारे सौर मंडल के केंद्र में है। यह करीब 8 लाख 65 हजार मील चौड़ा है। इसका अधिकतम तापमान 15 मिलियन डिग्री सेल्सियस है। सूर्य ही है, जो हमारे सौरमंडल को एकसाथ रखता है।
 

सूर्य की यह तस्‍वीर सोलर डायनैमिक ऑब्‍जर्वेट्री (SDO) ने ली है। एक स्‍पेसक्राफ्ट के जरिए यह ऑब्‍जर्वेट्री सूर्य में होने वाली गतिविधियों पर नजर बनाए रखती है। रिपोर्टों के अनुसार, सूर्य की इमेज में सोलर फ्लेयर्स (Solar Flare) निकलते हुए देखे जा सकते हैं। जब सूर्य की चुंबकीय ऊर्जा रिलीज होती है, तो उससे निकलने वाली रोशनी और पार्टिकल्‍स से सौर फ्लेयर्स बनते हैं। सोलर फ्लेयर्स हमारे सौर मंडल के सबसे शक्तिशाली विस्फोट हैं, जिनमें अरबों हाइड्रोजन बमों की तुलना में ऊर्जा रिलीज होती है। 

सोलर फ्लेयर्स की दिशा पृथ्‍वी की ओर होने पर यह कई तरह से हमारे ग्रह को प्रभावित कर सकते हैं। रेडियो कम्‍युनिकेशन, इलेक्ट्रिक पावर ग्रिड और नेविगेशन सिग्‍नलों पर असर डाल सकते हैं। सोलर फ्लेयर्स की वजह से अंतरिक्ष यान और अंतरिक्ष यात्रियों के लिए भी गंभीर खतरा रहता है। गौरतलब है कि हमारा सूर्य अपने 11 साल के चक्र से गुजर रहा है और बहुत अधिक एक्टिव फेज में है। इस वजह से सूर्य से सोलर फ्लेयर्स निकल रहे हैं और कोरोनल मास इजेक्‍शन (CME) की घटनाएं हो रही हैं।   
 

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

प्रेम त्रिपाठी

प्रेम त्रिपाठी Gadgets 360 में चीफ सब एडिटर हैं। 10 साल प्रिंट मीडिया ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Samsung Galaxy M35 5G फोन लॉन्‍च, इसमें है 6000mAh बैटरी, 50MP कैमरा, 8जीबी रैम, जानें प्राइस
  2. क्रिप्टो मार्केट में तेजी, Bitcoin का प्राइस 72,000 डॉलर से ज्यादा
  3. Realme ने डुअल रियर कैमरा यूनिट के साथ लॉन्च किया Narzo N65 5G
  4. Samsung Galaxy F55 5G भारत में 50MP कैमरा, 12GB रैम के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और स्पेसिफिकेशन्स
  5. 5500mAh बैटरी, 50MP कैमरा वाले Realme GT 6T को 6 हजार रुपये सस्ते में खरीदें
  6. Xiaomi के इस प्रोडक्ट से बिना बिजली खर्च किए चलेगा CCTV कैमरा! जानें कीमत
  7. LG Gram +View : एलजी ने चीन में पेश किया 16 इंच का पोर्टेबल मॉनिटर, जानें इसके बारे में
  8. Realme लॉन्‍च करेगी 2 नए स्‍मार्टफोन! Realme 13 Pro+ और GT 6 में मिलेंगी ये खूबियां
  9. Motorola Razr 50 फ्लिप फोन 16GB रैम, 4200mAh बैटरी के साथ हुआ स्पॉट, जानें खास फीचर्स
  10. गुस्सा करने वालों सावधान! दिल की गंभीर बिमारी का खतरा- स्टडी
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »