Realme GT Neo 3 (150W) रिव्यू : स्पीड के लिए बना स्मार्टफोन?

Realme GT Neo 3 में कार रेसिंग से प्रेरित डिजाइन है, 150W का चार्जिंग सिस्टम है, 120Hz वाला क्रिस्प डिस्प्ले है और अच्छा परफॉर्म करने वाला एक प्रोसेसर है। पुराने मॉडल की तुलना में इसके कैमरा में काफी सुधार हुआ है। 

Realme GT Neo 3 (150W) रिव्यू : स्पीड के लिए बना स्मार्टफोन?

Realme GT Neo 3 (150W) की भारत में कीमत 42,999 रुपये है।

ख़ास बातें
  • Realme GT Neo 2 की तुलना में मिल रहा बेहतर कैमरा
  • जीरो से 100 प्रतिशत केवल 16 मिनट में होता है चार्ज
  • इसमें 120Hz वाला क्रिस्प डिस्प्ले है
विज्ञापन
Realme GT Neo 2 एक ब्रैंड न्यू स्मार्टफोन था और भारत में Neo सीरीज के अंतर्गत लॉन्च होने वाला पहला स्मार्टफोन था। इसकी साधारण कैमरा परफॉर्मेंस के बावजूद अपने 800 सीरीज के स्नैपड्रैगन प्रोसेसर की बदौलत यह एक अच्छा मिडरेंज गेमिंग स्मार्टफोन कहलाया। इसमें अच्छे कूलिंग सिस्टम और 31,999 की एग्रेसिव प्राइसिंग का भी हाथ रहा। 

हाल ही में Realme ने इसका सक्सेसर GT Neo 3 लॉन्च किया है। इसमें OIS फीचर वाला मेन कैमरा और एक नया प्रोसेसर दिया गया है। इसका एक स्पेशल 150W फास्ट चार्जिंग मॉडल भी आता है जिसका मैं आज रिव्यू करने जा रहा हूं। क्या Realme GT Neo 3 (150W) इसके पुराने मॉडल से एक कदम आगे है? रिव्यू में जानते हैं कि यह इस सेग्मेंट के बाकी प्रीमियम स्मार्टफोन्स के साथ कैसे मुकाबला करता है। 
 

Realme GT Neo 3 (150W) प्राइस इन इंडिया

Realme GT Neo 3 (150W) की भारत में कीमत 42,999 रुपये है। इस मॉडल में 4,500mAh बैटरी मिलती है और बॉक्स में 150W चार्जर मिलता है। इसके 80W मॉडल में 5,000mAh बैटरी मिलती है। यह मॉडल दो वेरिएंट्स में आता है। एक में 8GB रैम और 128GB स्टोरेज मिलती है, इसकी कीमत 36,999 रुपये है। दूसरे वेरिएंट में 8GB रैम और 256GB स्टोरेज मिलती है। इसकी कीमत 38,999 रुपये है। दोनों मॉडल तीन कलर विकल्पों के साथ आते हैं जिनमें एस्फाल्ट ब्लैक, नाइट्रो ब्लू और स्प्रिंग वाइट शामिल हैं। इनमें नाइट्रो ब्लू और स्प्रिंग वाइट में रियर पैनल पर रेसिंग स्ट्राइप्स मिलते हैं जबकि ब्लैक वेरिएंट में प्लेन फिनिश दी गई है। 
 

Realme GT Neo 3 (150W) डिजाइन

Realme GT Neo 3 की बनावट GT Neo 2 के जैसी है। अंतर इसके नए फिनिश, रियर कैमरा ले-आउट और सेल्फी के लिए सेंटर पंच होल कटआउट में देखने को मिलता है। कंपनी ने GT Neo 2 में मिलने वाले चमकदार डुअल टोन रियर ग्लास पैनल की जगह अबकी बार साधारण मैटे फिनश AG ग्लास दिया है, जिस पर उंगलियों के निशान बहुत जल्दी पड़ते हैं। 
Realme


GT Neo 3, OnePlus 10R से भी ज्यादा प्रीमियम लगता है और हाथ में अच्छी फील देता है। इसका वजन 188 ग्राम है जो कि ज्यादा भारी नहीं है, लेकिन एक हाथ के इस्तेमाल के लिए बेहतर नहीं कहा जा सकता। बड़ी सी डिस्प्ले पर Gorilla Glass 5 का प्रोटेक्शन मिलता है और इस पर फिंगरप्रिंट दिखते हैं। लेकिन इन्हें आसानी से साफ किया जा सकता है। इसके होल पंच एमोलेड डिस्प्ले में चारों ओर पतले बेजल हैं जो कि इसके प्रीमियम लुक में ज्यादा वैल्यू एड करते हैं। 

फोन का मिड फ्रेम पॉलीकार्बोनेट का बना है। बैक पैनल की तरह इसमें भी मैटे फिनिश है जिससे कि यह हाथ में फिसलता सा लगता है। लेकिन कंपनी ने बॉक्स के साथ एक पारदर्शी टीपीयू केस दिया है जो अच्छी ग्रिप देता है और लगाने के बाद भी फोन का डिजाइन आसानी से सबको दिखता रहता है। 
Realme
 

Realme GT Neo 3 स्‍पेसिफ‍िकेशंस और सॉफ्टवेयर

Realme GT Neo 3 में MediaTek Dimensity 8100 SoC दिया गया है। कंपनी ने इसमें एक इमेजिंग चिपसेट दिया है जिसे डेडिकेटेड डिस्प्ले प्रोसेसर कहा गया है। कंपनी का कहना है कि यह पावर के इस्तेमाल को कम कर देगा और गेमिंग परफॉर्मेंस को बढ़ा देगा। कनेक्टिविटी के लिए इसमें Wi-Fi 6, Bluetooth 5.3, NFC, और Type-C पोर्ट के साथ ही सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम का सपोर्ट मिल जाता है। फिंगरप्रिंट स्कैनर डिस्प्ले के भीतर दिया गया है और यह अच्छी तरह काम करता है। 

रियलमी ने एंड्रॉयड 12 के साथ Material You और Realme UI को मिक्स करके एक बेहतर यूजर इंटरफेस बनाया है। Realme UI 3.0 फोन में स्टॉक जैसा ही लगता है और इसके आइकन, पिक्सल फोन से थोड़े अलग लगते हैं। Android 12 के सभी विजेट्स उम्मीद के मुताबिक काम करते हैं और लगाए गए वॉलपेपर के आधार पर इसका थीम इंजन कीबोर्ड, विजेट्स और दूसरे आइकन के कलर को बदल देता है। सेटिंग्स ऐप में मिलने वाला पर्सनलाइजेशन सेक्शन OnePlus और Oppo के समान दिखता है। इसमें आप आइकन की शेप, क्विक सेटिंग्स आइकन और सिस्टम फॉन्ट जैसी चीजें कस्टमाइज कर सकते हैं। 
Realme


दूसरे रियलमी फोन्स की तरह इसमें भी दुनियाभर के प्री-इंस्टॉल्ड थर्ड पार्टी ऐप्स मिलते हैं। लेकिन ये सॉफ्टवेयर अनुभव को खराब नहीं करते और जरूरत पड़ने पर इन्हें अनइंस्टॉल भी किया जा सकता है। लेकिन Themes Store ऐप से मिलने वाली नोटिफिकेशंस ने मुझे काफी परेशान किया। 
 

Realme GT Neo 3 (150W) परफॉर्मेंस

Realme GT Neo 3 में 6.7 इंच फुलएचडी प्लस एमोलेड डिस्प्ले है जिसका रिफ्रेश रेट 120Hz है। सूरज की सीधी रोशनी में भी यह काफी चमकता है और पढ़ने में कोई परेशानी नहीं होती। इसके डिफॉल्ट विविड स्क्रीन कलर मोड में कलर्स काफी पंची दिखते हैं। रिफ्रेश रेट एडेप्टिव है लेकिन केवल 60Hz और 120Hz के बीच ही स्विच हो सकता है, जो कि रन कर रही ऐप पर निर्भर करता है। मूवी देखते समय यह 60Hz पर चल रहा था और यूजर इंटरफेस में नेविगेट करते समय 120Hz पर चल रहा था। गेम्स में डिस्प्ले 60Hz पर लॉक हो गई जबकि आमतौर पर यह 120Hz होना चाहिए, जिसने मुझे निराश किया।   
Realme


Netflix जैसे ऐप्स के लिए HDR10 वीडियो स्ट्रीमिंग सर्टिफिकेशन मिसिंग है लेकिन स्टैंडर्ड कंटेंट शार्प दिखता है, जिसमें ब्लैक लेवल भी अच्छा दिखता है। फोन में दिए गए स्टीरिओ स्पीकर्स लाउड और क्लियर साउंड करते हैं जिससे वीडियो और गेमिंग एक्सपीरियंस ज्यादा बेहतर हो जाता है। 
Realme


इसके सॉफ्टवेयर की परफॉर्मेंस भी ठीक रही। इसके बेंचमार्क स्कोर किसी Snapdragon 888 चिप वाले फोन के करीब पहुंच जाते हैं। AnTuTu पर फोन ने 8,10,225 पॉइंट्स का स्कोर किया। Geekbench पर सिंगल और मल्टी कोर टेस्ट में इसने क्रमश: 969 और 4,065 पॉइंट्स का स्कोर किया। GFXBench के T-rex और Manhattan 3.1 गेमिंग टेस्ट में इसने 54fps और 60fps को मैनेज किया जबकि Snapdragon 888 से लैस Xiaomi 11T Pro यहां 121fps और 100fps पर रन कर लेता है। 

इसकी रियल वर्ल्ड गेमिंग परफॉर्मेंस भी खास लुभा नहीं पाई, जब तक कि GT मोड इनेबल नहीं किया गया। रेगुलर मोड में Call of Duty: Mobile और Asphalt 9: Legends जैसे गेम हाई ग्राफिक सेटिंग पर फ्रेम स्किप करते नजर आए, लेकिन मीडियम मोड में अच्छे चले। GT Mode में ये गेम सबसे हाई संभावित सेटिंग में भी अच्छे चले लेकिन उस तरह से स्मूद नहीं लगे जैसा कि मैं पसंद करता हूं। आश्चर्यजनक रूप से मुझे  इसमें Asphalt 9:Legends खेलते समय एक 60fps मोड भी मिला जो अब तक केवल किसी स्नैपड्रेगन प्रोसेसर वाले डिवाइस में ही मैंने नोटिस किया है। 

फोन की बैटरी लाइफ अच्छी है। यह सिंगल चार्ज में डेढ़ दिन तक चल गया, जबकि मैंने इसमें हैवी गेमिंग और कैमरा का इस्तेमाल किया था। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में फोन 19 घंटे और 26 मिनट चला जो कि एक प्रीमियम स्मार्टफोन के लिए काफी अच्छी बात है। 

इसके 150W चार्जर ने फोन को जीरो से 100 प्रतिशत केवल 16 मिनट में चार्ज कर दिया। अब तक यह किसी फोन में मिलने वाली सबसे तेज चार्जिंग स्पीड है। इस दौरान फोन काफी गर्म हो गया था जिससे कि मुझे थोड़ी चिंता भी हो रही थी। हालांकि कंपनी ने दावा किया है कि किसी तरह की दुर्घटना को रोकने के लिए इसमें कई सारे सेफ्टी उपाय किए गए हैं। OnePlus 10R Endurance Edition की तरह इसमें भी एक नोटिफिकेशन मिलता है, जो चार्जिंग के दौरान फोन गर्म होने की चेतावनी देता है। 
 

Realme GT Neo 3 के कैमरा

Realme GT Neo 3 में प्राइमरी कैमरा (OIS) के साथ आता है, यह एक 50 मेगापिक्सल का Sony IMX766 सेंसर है। दूसरा कैमरा 8 मेगापिक्सल का अल्ट्रावाइड लेंस है और तीसरा कैमरा 2 मेगापिक्सल का मैक्रो शूटर है। दोनों सेकेंडरी कैमरा में फोकस फिक्स्ड दिया गया है। सेल्फी के लिए एक 16 मेगापिक्सल का कैमरा फ्रंट में दिया गया है। इसमें कंपनी ने सैमसंग सेंसर का इस्तेमाल किया है जिसका अपर्चर अधिक बड़ा और फील्ड ऑफ व्यू भी ज्यादा है। 
Realme


GT Neo 2 से तुलना करें तो डे-लाइट में फोन की परफॉर्मेंस काफी अच्छी साबित होती है। लैंड्सकेप फोटो में एक्सपोजर अच्छा मिला और डाइनेमिक रेंज भी बढिया थी। प्राइमरी कैमरा से ली गईं फोटो में डिटेल्स अच्छी थीं लेकिन फोटो थोड़े सैचुरेटेड लगे, खासकर अल्ट्रावाइड कैमरा से लिए गए फोटो से तुलना करने पर। 

अल्ट्रावाइड कैमरा से लिए गए फोटो में 120 डिग्री का बड़ा फील्ड ऑफ व्यू मिलता है लेकिन इन फोटो में तुलनात्मक रूप से डाइनेमिक रेंज सीमित थी और फ्रेम के किनारों पर फोटो हल्का ब्लर इफेक्ट दे रही थीं। प्राइमरी कैमरा से लिए गए फूलों के क्लोजअप शॉट्स में शार्पनेस अच्छी थी लेकिन फोटो सैचुरेटेड लग रही थी। इसका 2X डिजिटल जूम ठीक काम करता है लेकिन फोटो में डिटेल थोड़ी कम हो जाती है।
img20220609123705
img20220609123707
img20220609123833
 

पोर्ट्रेट मोड में खींचे गए फोटो कलर्स को अच्छी तरह से मैनेज कर रहे थे। इनमें टोन डाउन थी और देखने में ये नैचरल लग रहे थे। एज डिटेक्शन अच्छा था और बैकग्राउंड एक्सपोजर के साथ डाइनेमिक रेंज भी अच्छी थी। इसके फ्रंट कैमरा से ली गई सेल्फी थोड़ी ओवरशार्प थीं और सैचुरेटेड लगीं। बैकग्राउंड बहुत ज्यादा ब्राइट लग रहा था। पोर्ट्रेट मोड की सेल्फी क्वालिटी में बेहतर लगीं लेकिन यहां एज डिटेक्शन औसत रहा।  
img20220620214059
img20220620212443


मैक्रो कैमरा ने औसत फोटो खीचीं जिनमें एज पर पर्पल झालर जैसा इफेक्ट आ रहा था। यहां पर फोकस सिस्टम ने थोड़ा परेशान किया। फोन के प्राइमरी कैमरा से लो-लाइट में ली गई फोटो में अच्छी डिटेल्स थीं और डाइनेमिक रेंज भी बेहतर थी। नाइट मोड से ली गई फोटो में सीन अधिक ब्राइट हुआ लग रहा था जिससे असल सीन के ब्राइट एरिया और ज्यादा ब्लो आउट लग रहे थे। लो-लाइट में ली गई सेल्फी खास नही थीं और कम डिटेल्स के साथ सॉफ्ट लगीं। पोर्ट्रेट मोड से लो-लाइट की सेल्फी काफी नॉइज के साथ खीचीं गईं जिसमें सब्जेक्ट पर टेक्स्चर की भारी कमी लग रही थी। 

फोन से रिकॉर्ड किए गए वीडियो की क्वालिटी काफी अच्छी थी। डे लाइट में 1080p पर शूट किए गए वीडियो अच्छे थे लेकिन डिटेल्स इतनी ज्यादा नहीं थीं। 4K में शूट किए गए वीडियो में अच्छी डिटेल्स आईं लेकिन यहां पर डाइनेमिक रेंज कम हो गई। इनमें स्टेबलाइजेशन की भी कमी थी। इसके AI हाइलाइट फीचर ने डाइनेमिक रेंज में सुधार किया लेकिन वीडियो उतने स्मूद और शार्प नहीं थे और रेजॉल्यूशन 1080p 30fps पर सीमित हो गया। लो-लाइट में 1080p पर रिकॉर्ड किए गए वीडियो में लिमिटिड डाइनेमिक रेंज थी और यह सॉफ्ट दिखा। 4K में 30fps पर रिकॉर्डेड फुटेज बेस्ट दिखी, लेकिन फिर से यहां पर स्टेबलाइजेशन की कमी रही। 

Realme GT Neo 2 की तुलना में इसके प्राइमरी कैमरा की इमेज क्वालिटी काफी बेहतर हो गई है। Realme 9 Pro+ 5G जैसे कम कीमत वाले स्मार्टफोन में भी कंपनी ने यह सेंसर इस्तेमाल किया है। फोटो की क्वालिटी मुझे अच्छी लगी लेकिन iQoo 9 SE जैसे कंपीटीटिव डिवाइस से यह काफी पीछे है।  
 

हमारा फैसला

GT Neo 3 (150W) के लिए मैं कंपनी से सहमत हूं कि यह स्पीड के लिए बना स्मार्टफोन है। इसमें कार रेसिंग से प्रेरित डिजाइन है, 150W का चार्जिंग सिस्टम है, 120Hz वाला क्रिस्प डिस्प्ले है और अच्छा परफॉर्म करने वाला एक प्रोसेसर है। पुराने मॉडल की तुलना में इसके कैमरा में काफी सुधार हुआ है। 

अधिक फीचर्स का होना इसे कंपीटिटिव स्मार्टफोन नहीं बनाता है। पुराने मॉडल से अपग्रेड के अलावा यह बाकी प्रतिद्वंदियों के करीब ही पहुंचता है। इसका 150W चार्जिंग सिस्टम फोन को बहुत ज्यादा गर्म कर देता है और इसका 120Hz का रिफ्रेश रेट अधिकतर गेम्स में काम में नहीं आता है, जिनको मैंने खेलने की कोशिश की। Qualcomm Snapdragon 888 वाले प्रतिद्वंदियों से फोन परफॉर्मेंस के मामले में थोड़ा पीछे रह जाता है। इसमें आईपी रेटिंग और वायरलेस चार्जिंग जैसे फीचर्स नहीं मिलते हैं जो कि Samsung Galaxy S20 FE 5G और Apple iPhone (2022) में इसी कीमत में मिल जाते हैं। 

मैं यहां तक कहूंगा कि इसका रेगुलर 80W मॉडल भी थोड़ा महंगा लगता है क्योंकि iQoo 9 SE इससे कम शुरुआती कीमत में ज्यादा अच्छा कैमरा और परफॉर्मेंस देता है। अगर आप रियलमी के फैन हैं तो इसकी मौजूदा कीमत पर आप Realme GT Neo 3 (150W) को खरीद सकते हैं, या फिर वर्तमान में सबसे तेज चार्जिंग स्पीड वाले स्मार्टफोन के रूप में भी इसको खरीदने के बारे में सोच सकते हैं। 
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Good quality main camera
  • 150W wired charging
  • Good battery life
  • Fluid software experience
  • Feels premium
  • कमियां
  • No IP rating or wireless charging
  • Phone gets hot when charging at 150W
  • Plenty of preinstalled apps
डिस्प्ले6.70 इंच
प्रोसेसरमीडियाटेक डिमेंसिटी 8100 5जी
फ्रंट कैमरा16-मेगापिक्सल
रियर कैमरा50-मेगापिक्सल + 8-मेगापिक्सल + 2-मेगापिक्सल
रैम12 जीबी
स्टोरेज256 जीबी
बैटरी क्षमता4500 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड 12
रिज़ॉल्यूशन2,120x1,080 पिक्सल
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Impressive primary camera
  • 150W wired charging
  • Good battery life
  • Lean software with few preinstalled apps
  • कमियां
  • Does not feel premium
  • Ergonomics could be better
  • No Alert slider
  • No IP Rating or wireless charging
डिस्प्ले6.70 इंच
प्रोसेसरमीडियाटेक डिमेंसिटी 8100 5जी
फ्रंट कैमरा16-मेगापिक्सल
रियर कैमरा50-मेगापिक्सल + 8-मेगापिक्सल + 2-मेगापिक्सल
रैम12 जीबी
स्टोरेज256 जीबी
बैटरी क्षमता4500 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड 12
रिज़ॉल्यूशन1080x2412 पिक्सल
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Crisp display with Dolby Vision support
  • Clear stereo speakers
  • Excellent performance
  • Good camera performance for stills and video
  • Useful macro camera
  • 120W charger
  • कमियां
  • Ultra-wide-angle camera is not up to the mark
  • Lacks an IP Rating
  • Comes with lots of preloaded apps
  • Average low-light selfie camera performance
डिस्प्ले6.67 इंच
प्रोसेसरक्वालकॉम स्नैपड्रैगन 888
फ्रंट कैमरा16-मेगापिक्सल
रियर कैमरा108-मेगापिक्सल + 8-मेगापिक्सल + 5-मेगापिक्सल
रैम12 जीबी
स्टोरेज256 जीबी
बैटरी क्षमता5000 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड 11
रिज़ॉल्यूशन1080x2400 पिक्सल
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Powerful SoC
  • IP67 rating, wireless charging
  • Slim and light
  • Regular software updates
  • कमियां
  • Small, low-res display
  • Gets warm when stressed
  • Average low-light camera performance
  • Expensive
डिस्प्ले4.70 इंच
प्रोसेसरऐप्पल ए15 बायोनिक
फ्रंट कैमरा7-मेगापिक्सल
रियर कैमरा12-मेगापिक्सल
स्टोरेज64 जीबी
ओएसआईओएस 15
रिज़ॉल्यूशन750x1334 पिक्सल
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

शेल्डन पिंटो

शेल्डन पिंटो मुंबई में रहते हैं और इन्हें स्मार्टफोन और ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. 5000mAh बैटरी, 64MP कैमरा के साथ Lava Blaze Curve 5G का प्राइस लीक! लॉन्च से पहले जानें सबकुछ
  2. Google Pixel Watch 3 के साइज में होगा बड़ा बदलाव! Apple, Samsung को मिलेगी टक्कर
  3. Redmi Note 12 4G और Redmi 12 4G हो गए सस्ते! AMOLED डिस्प्ले, 5000mAh बैटरी जैसे धांसू फीचर्स
  4. गूगल को सरकार की चेतावनी, भारत में Play Store से ऐप्स हटाने की अनुमति नहीं मिलेगी
  5. बंदूक की गोली से तेज आवाज करती है ये मछली! आदमी के नाखून जितना है साइज, वैज्ञानिक हैरान
  6. 365 दिनों तक 900GB से ज्यादा डेटा, अनलिमिटिड कॉलिंग, और OTT मनोरंजन वाला Jio का यह प्लान है कमाल!
  7. Article 370 Box Office Collection Day 8: यामी गौतम की फिल्म ने 8 दिनों में कमा डाले इतने करोड़!
  8. Paytm Payments Bank पर फाइनेंशियल इंटेलिजेंस यूनिट ने लगाई भारी पेनल्टी
  9. 11,811 फीट गहरा गड्ढा बर्फ में क्यों खोदने जा रहा चीन!
  10. Google ने भारत के ये 10 ऐप्स प्ले स्टोर से हटाए! जानें वजह
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »