• होम
  • इंटरनेट
  • ख़बरें
  • भारत की इंटरनेट इकोनॉमी 2030 तक बढ़कर 1 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचने की संभावना

भारत की इंटरनेट इकोनॉमी 2030 तक बढ़कर 1 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचने की संभावना

बड़ी कंपनियों के साथ ही स्मॉल और मीडियम एंटरप्राइसेज ने अधिक प्रतिस्पर्धी बनने के लिए डिजिटल टेक्नोलॉजीज का इस्तेमाल शुरू किया है

भारत की इंटरनेट इकोनॉमी 2030 तक बढ़कर 1 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचने की संभावना

इसमें ई-कॉमर्स कंपनियों की बड़ी हिस्सेदारी होगी

ख़ास बातें
  • पिछले वर्ष देश की इंटरनेट इकोनॉमी 155-175 अरब डॉलर की रेंज में थी
  • देश में 5G सर्विसेज की शुरुआत से इंटरनेट से जुड़े बिजनेस को फायदा होगा
  • सॉफ्टवेयर इंडस्ट्री का बिजनेस तेजी से बढ़ सकता है
विज्ञापन
पिछले कुछ वर्षों में इंटरनेट की पहुंच तेजी से बढ़ने के साथ इससे जुड़े कारोबारों की संख्या भी बढ़ रही है। भारत की इंटरनेट इकोनॉमी के 2030 तक छह गुना बढ़कर एक लाख करोड़ डॉलर (लगभग 82,58,950 करोड़ रुपये) पर पहुंचने की संभावना है। इसमें ई-कॉमर्स कंपनियों की बड़ी हिस्सेदारी होगी। 

इंटरनेट सर्च इंजन Google, Temasek और Bain & Company की एक संयुक्त रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले वर्ष देश की इंटरनेट इकोनॉमी 155-175 अरब डॉलर के बीच थी। इसकी ग्रोथ में B2C ई-कॉमर्स कंपनियों, B2B ई-कॉमर्स, सॉफ्टवेयर सर्विस प्रोवाइडर्स और ओवर-द-टॉप प्लेटफॉर्म्स की अगुवाई में ऑनलाइन मीडिया का बड़ा योगदान होगा। गूगल के भारत में कंट्री मैनेजर और वाइस प्रेसिडेंट, Sanjay Gupta ने कहा, "देश की इंटरनेट इकोनॉम 2030 तक छह गुना बढ़कर एक लाख करोड़ डॉलर पर पहुंचने की संभावना है।" उनका कहना था कि आगामी वर्षों में अधिकतर खरीदारियां ऑनलाइन जरिए से होंगी। उन्होंने बताया कि स्टार्टअप्स ने डिजिटल इनोवेशन को बढ़ाया है। बड़ी कंपनियों के साथ ही स्मॉल और मीडियम एंटरप्राइसेज ने अधिक प्रतिस्पर्धी बनने के लिए डिजिटल टेक्नोलॉजीज का इस्तेमाल शुरू किया है। 

रिपोर्ट के अनुसार,  B2C ई-कॉमर्स 2030 तक पांच से छह गुना बढ़कर 35-38 अरब डॉलर तक पहुंच सकता है। यह पिछले वर्ष 60-65 अरब डॉलर का था। B2B ई-कॉमर्स के लगभग 14 गुना बढ़कर 105-120 अरब डॉलर पर पहुंचने की संभावना है। यह सेगमेंट पिछले वर्ष आठ-नौ अरब डॉलर का था। सॉफ्टवेयर सर्विस प्रोवाइडर्स का बिजनेस पांच से छह गुना की बढ़ोतरी के साथ 65-75 अरब डॉलर तक हो सकता है। यह पिछले वर्ष 12-13 अरब डॉलर पर था। Temasek के मैनेजिंग डायरेक्टर, Vishesh Shrivastav ने कहा कि ग्लोबल GDP के लिए भारत एक अब एक नई उम्मीद है। 

पिछले वर्ष टेलीकॉम कंपनियों ने 5G सर्विसेज की शुरुआत की थी। इस हाई-स्पीड नेटवर्क से डेटा की स्पीड में काफी बढ़ोतरी होने की संभावना है। 4G की तुलना में 5G में बहुत कम लेटेंसी है जिससे विभिन्न सेक्टर्स में यूजर्स का एक्सपीरिएंस बेहतर होगा। कम लेटेंसी का मतलब डेटा मैसेज की अधिक वॉल्यूम को न्यूनतम देरी के साथ प्रोसेस करना होता हैइससे इंटरनेट से जुड़े कारोबारों को भी फायदा होगा। इन सर्विसेज से माइनिंग, टेलीमेडिसिन, वेयरहाउसिंग और मैन्युफैक्चरिंग जैसे सेक्टर्स में रिमोट डेटा मॉनिटरिंग को बढ़ाया जा सकेगा। 


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: Online, Economy, Software, Google, Market, 5G, Report, Business, Growth, Internet, Demand
आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. itel S24, itel T11 Pro जल्द होंगे भारत में लॉन्च, जानें सबकुछ
  2. Xiaomi ने लॉन्च किया मोबाइल से कंट्रोल होने वाला स्मार्ट वाटर हीटर, इसमें एंटीबैक्टीरियल टेक्नोलॉजी भी मिलती है
  3. टाटा मोटर्स की तमिलनाडु की फैक्टरी में बनेंगी JLR की लग्जरी कारें!
  4. Elon Musk के विजिट से पहले भारत की नई EV पॉलिसी पर मीटिंग में शामिल हुई Tesla  
  5. चीन ने WhatsApp और Threads को Apple App Store से हटाया, जानें कारण
  6. 6000mAh की बड़ी बैटरी, 44W चार्जिंग वाला Vivo Y200i 5G कल होगा लॉन्च, जानें प्राइस, फीचर्स सबकुछ
  7. सुजुकी मोटरसाइकिल ने भारत में की 80 लाख टू-व्हीलर्स की मैन्युफैक्चरिंग
  8. Honor X9b 5G पर बंपर छूट, Rs 18,999 में खरीदें! Amazon पर ऐसे मिलेगी डील
  9. क्रिप्टो मार्केट में गिरावट, बिटकॉइन का प्राइस 61,000 डॉलर से ज्यादा
  10. Vivo V30e स्‍मार्टफोन भारत में 2 मई को होगा लॉन्‍च, मिलेंगे ये तगड़े फीचर्स
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »