भारत में iPad की मैन्युफैक्चरिंग शुरू कर सकती है Apple

चीन के बाहर अपनी मैन्युफैक्चरिंग बढ़ाने के लिए एपल कोशिशें कर रही है और अगर रुकावटों को दूर कर लिया जाता है तो भारत में आईपैड की मैन्युफैक्चरिंग शुरू हो सकती है

भारत में iPad की मैन्युफैक्चरिंग शुरू कर सकती है Apple

आईफोन 14 के कुछ वेरिएंट्स की भी देश में मैन्युफैक्चरिंग हो रही है

ख़ास बातें
  • इसमें एपल को कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है
  • कंपनी ने किसी योजना को फाइनल नहीं किया है
  • iPhone के प्रोडक्शन में इस वर्ष भारी कमी हो सकती है
विज्ञापन
अमेरिकी स्मार्टफोन और टेक कंपनी पिछले कुछ वर्षों से चीन से बाहर प्रोडक्शन का कुछ हिस्सा ले जाने के विकल्प तलाश रही है। भारत में  कंपनी के iPhone का प्रोडक्शन होता है। यह देश में iPad की मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने पर भी विचार कर रही है। हालांकि, इसमें एपल को कुछ मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। 

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एपल ने भारत में अधिकारियों के साथ बातचीत शुरू की है। हालांकि, देश में प्रोडक्शन बढ़ाने की कंपनी की योजना में कुछ रुकावटें हैं। इसमें आईफैड की मैन्युफैक्चरिंग के लिए एक्सपर्टाइज शामिल है। कंपनी ने किसी योजना को फाइनल नहीं किया है लेकिन संभावना के बारे में बातचीत की जा रही है। चीन के बाहर अपनी मैन्युफैक्चरिंग बढ़ाने के लिए एपल कोशिशें कर रही है और अगर रुकावटों को दूर कर लिया जाता है तो भारत में आईपैड की मैन्युफैक्चरिंग शुरू हो सकती है। हालांकि, रिपोर्ट में कहा गया है कि यह रास्ता आसान नहीं होगा क्योंकि देश में कॉम्प्लेक्स डिवाइसेज बनाने के लिए अधिक स्किल वाले वर्कर्स की कमी है। 

एपल लगभग पांच वर्षों से भारत में आईफोन की मैन्युफैक्चरिंग कर रही है। कंपनी की ओर से सितंबर में लॉन्च किए गए आईफोन 14 के कुछ वेरिएंट्स की भी देश में मैन्युफैक्चरिंग हो रही है। iPhone के प्रोडक्शन में इस वर्ष भारी कमी हो सकती है। Apple के लिए कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरिंग करने वाली Foxconn की चीन के Zhengzhou की फैक्टरी में खराब स्थितियों के कारण वर्कर्स के उपद्रव और तोड़फोड़ से प्रोडक्शन पर बड़ा असर पड़ा है। इससे इस वर्ष iPhone Pro का प्रोडक्शन लगभग 60 लाख यूनिट्स घट सकता है। 

आईफोन की इस सबसे बड़ी फैक्टरी में स्थिति सामान्य नहीं हुई है और प्रोडक्शन में नुकसान का अनुमान बदल सकता है। फॉक्सकॉन के वर्कर्स को असेंबली लाइंस पर जल्द वापस लाने और कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन पर पर प्रोडक्शन निर्भर करेगा। इस फैक्टरी में iPhone 14 Pro और  Pro Max का अधिकतर प्रोडक्शन होता है। ये दोनों स्मार्टफोन इस वर्ष एपल के लिए सबसे अधिक डिमांड वाले रहे हैं। यह फैक्टरी कभी आईफोन के प्रो वेरिएंट्स के प्रोडक्शन में लगभग 85 प्रतिशत का योगदान देती थी। एपल की सबसे बड़ी कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरर फॉक्सकॉन की इस फैक्टरी से पिछले महीने 20,000 से अधिक वर्कर्स ने इस्तीफा दिया था।  
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: Devices, Apple, Manufacturing, China, Market, Plan, IPhone, Skill, Technology, Ipad, Sales
आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »