क्या क्रिप्टो मार्केट में गिरावट से लग सकता है ग्लोबल फाइनेंशियल सिस्टम को झटका

क्रिप्टो मार्केट का साइज कम होने के बावजूद अमेरिकी फेडरल रिजर्व, ट्रेजरी डिपार्टमेंट और इंटरनेशनल फाइनेंस स्टेबिलिटी बोर्ड ने स्टेबलकॉइन्स को फाइनेंशियल स्थिरता के लिए एक खतरा होने का संकेत दिया है

क्या क्रिप्टो मार्केट में गिरावट से लग सकता है ग्लोबल फाइनेंशियल सिस्टम को झटका

पिछले महीने में क्रिप्टोकरेंसीज में लगभग 800 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है

ख़ास बातें
  • पिछले वर्ष नवंबर में बिटकॉइन ने 68,000 डॉलर का हाई लेवल बनाया था
  • इससे क्रिप्टो मार्केट की वैल्यू बढ़कर लगभग 3 लाख करोड़ डॉलर हो गई थी
  • क्रिप्टोकरेंसीज में पिछले कुछ वर्षों में तेजी से ग्रोथ हुई है
मार्केट कैपिललाइजेशन के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin का प्राइस मंगलवार को 10 महीनों में पहली बार 30,000 डॉलर से नीचे गया था। क्रिप्टो मार्केट में बड़ी गिरावट आने का प्रमुख कारण अमेरिका के फेडरल रिजर्व की ओर से रेट में की गई बढ़ोतरी है। इसका असर स्टॉक मार्केट पर भी पड़ा है। 

CoinMarketCap के डेटा के अनुसार, पिछले महीने में क्रिप्टोकरेंसीज में लगभग 800 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है। पिछले वर्ष नवंबर में बिटकॉइन ने 68,000 डॉलर के साथ अभी तक का हाई लेवल बनाया था। इससे क्रिप्टो मार्केट की वैल्यू बढ़कर लगभग 3 लाख करोड़ डॉलर पर पहुंच गई थी। हालांकि, यह आंकड़ा मंगलवार को 1.51 लाख करोड़ डॉलर का रह गया। इस वैल्यू में बिटकॉइन की हिस्सेदारी लगभग 600 अरब डॉलर और इथेरियम की 285 अरब डॉलर की है। क्रिप्टोकरेंसीज में पिछले कुछ वर्षों में तेजी से ग्रोथ हुई है लेकिन इसके बावजूद इस मार्केट का साइज काफी कम है। 

उदाहरण के लिए, अमेरिका का सिक्योरिटीज मार्केट लगभग 49 लाख करोड़ डॉलर का है। अमेरिका की सिक्योरिटीज इंडस्ट्री एंड फाइनेंशियल मार्केट्स एसोसिएशन ने अमेरिकी फिक्स्ड इनकम मार्केट की वैल्यू पिछले वर्ष के अंत में लगभग 52.9 लाख करोड़ डॉलर बताई थी। क्रिप्टोकरेंसी की शुरुआत रिटेल सेगमेंट के साथ हुई थी लेकिन एक्सचेंजों, फर्मों, हेज फंड्स, बैंकों और म्यूचुअल फंड्स की इसमें दिलचस्पी तेजी से बढ़ी है।  क्रिप्टो मार्केट का साइज कम होने के बावजूद अमेरिकी फेडरल रिजर्व, ट्रेजरी डिपार्टमेंट और इंटरनेशनल फाइनेंस स्टेबिलिटी बोर्ड ने स्टेबलकॉइन्स को फाइनेंशियल स्थिरता के लिए एक खतरा होने का संकेत दिया है। 

स्टेबलकॉइन्स ऐसी क्रिप्टोकरेंसीज होते हैं जो अपने मार्केट प्राइस को गोल्ड या सामान्य करेंसीज जैसे किसी रिजर्व एसेट से जोड़ने की कोशिश करते हैं। ये ऐसी डिजिटल ट्रांजैक्शंस के लिए अधिक इस्तेमाल होते हैं जिनमें वर्चुअल एसेट्स को वास्तविक एसेट्स में कन्वर्ट करना शामिल होता है। USD Coin, Tether और Binance USD कुछ लोकप्रिय स्टेबलकॉइन्स हैं, जो अमेरिकी डॉलर से जुड़े हैं। क्रिप्टो का तेजी से बढ़ता वर्जन स्टेबलकॉइन एक्सचेंज के प्रमुख माध्यम के तौर पर उभरा है। इसका इस्तेमाल अक्सर ट्रेडर्स की ओर से फंड भेजने के लिए किया जाता है। प्रमुख स्टेबलकॉइन्स को बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टोकरेंसीज के लिए एक्सचेंज करना आसान है। हाल के महीनों में स्टेबलकॉइन्स के नए वेरिएंट गोल्ड कॉइन्स की लोकप्रियता बढ़ी है। गोल्ड कॉइन्स के साथ गोल्ड की गारंटी होती है और वोलैटिलिटी कम करने के लिए ये डॉलर से जुड़े होते हैं। 

भारतीय एक्सचेंजों में क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

गैजेट्स 360 स्टाफ The resident bot. If you email me, a human will respond. और भी
Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. Pathaan Full Movie Leaked: ऑनलाइन लीक हुई 'पठान', Telegram पर उपलब्ध!
  2. इस भारतीय फिल्म के कायल हुए Apple के CEO, iPhone 14 Pro से शूट हुई है पूरी फिल्म
  3. अमेरिका में 60 हजार रुपये सस्ता मिल रहा iPhone 14 Pro Max, भारत में क्यों बिकते हैं महंगे, जानें वजह
  4. Dogecoin और Shiba Inu की बढ़ती कीमत के बावजूद इस करोड़पति दिग्गज ने दिया कुछ ऐसा बयान...
  5. सिंगल चार्ज में 100km चलने वाले Joy Mihos इलेक्ट्रिक स्कूटर के लिए 15 दिनों में 18 हजार से ज्यादा बुकिंग! सिर्फ Rs 999 में करें बुक
  6. सिंगल चार्ज में 315km रेंज वाली Tata Tiago EV की डिलीवरी शुरू, मात्र Rs 21 हजार में करें बुक
  7. विवादों से घिरी पाकिस्तानी फिल्म Joyland को भारत में किया जाएगा रिलीज
  8. 32GB RAM के साथ Infinix Zero Book Ultra भारत में लॉन्च, जानें फीचर्स और कीमत
  9. 108MP कैमरा, 5000mAh बैटरी के साथ Poco X5 और X5 Pro की होगी एंट्री, लॉन्च तारीख का खुलासा
  10. Xiaomi Redmi Note 6 Pro मिल रहा ओपन सेल में
  11. Redmi Note 7 Pro को आज इन ऑफर्स के साथ खरदीने का मौका
  12. Revolt ने लॉन्च किया सोलर पैनल से चार्ज होने वाला 30000 mAh का पावर बैंक
  13. 5000mAh बैटरी वाले Samsung Galaxy A03 की कीमत का खुलासा, 10 जनवरी से खरीदें
  14. 6000mAh की विशाल बैटरी और 50MP कैमरा से लैस Vivo Y72t लॉन्च, सस्ते में महंगे वाला फील देगा यह स्मार्टफोन
  15. सेक्‍स को लेकर हुई यह स्‍टडी क्‍या आपने पढ़ी? चौंकाने वाले हैं नतीजे
#ताज़ा ख़बरें
  1. विवादों से घिरी पाकिस्तानी फिल्म Joyland को भारत में किया जाएगा रिलीज
  2. Tata की कारों पर भारत के 250 से ज्यादा शहरों में Rs. 60 हजार तक की छूट, जानें कब तक रहेगी स्कीम
  3. सिंगल चार्ज में 100km चलने वाले Joy Mihos इलेक्ट्रिक स्कूटर के लिए 15 दिनों में 18 हजार से ज्यादा बुकिंग! सिर्फ Rs 999 में करें बुक
  4. इस भारतीय फिल्म के कायल हुए Apple के CEO, iPhone 14 Pro से शूट हुई है पूरी फिल्म
  5. Dell ने की 6.5 हजार से ज्यादा कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा, ये बताई वजह
  6. Vivo Y100 5G में हो सकता है 64 मेगापिक्सल का मेन कैमरा, लीक हुआ प्राइस और स्पेसिफिकेशंस
  7. 5000mAh बैटरी और 8GB रैम के साथ भारत में लॉन्च हुआ Poco X5 Pro 5G स्मार्टफोन, जानें कीमत
  8. ADO ने लॉन्च की केवल 16kg की फोल्डेबल इलेक्ट्रिक बाइक ADO Air, सिंगल चार्ज में 100km है रेंज, जानें डिटेल्स
  9. कार टेस्टिंग का हब बन सकता है भारत, केंद्र सरकार ने हटाई 252 प्रतिशत कस्टम्स ड्यूटी
  10. Pathaan Full Movie Leaked: ऑनलाइन लीक हुई 'पठान', Telegram पर उपलब्ध!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2023. All rights reserved.