• होम
  • ऐप्स
  • ख़बरें
  • Remove China Apps हुआ 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड, जानें इसके पीछे का कारण

Remove China Apps हुआ 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड, जानें इसके पीछे का कारण

Remove China Apps ऐसे समय पर आया है, जब देश में चीन विरोधी भावना बढ़ती जा रही है। यह भावना कई विवादों के बाद पनपी है, जिसमें YOUTUBE VS TIK-TOK, भारत-चीन सीमा विवाद और कोरोना वायरस महामारी शामिल हैं।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
Remove China Apps हुआ 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड, जानें इसके पीछे का कारण

Remove China Apps केवल एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए बनाया गया है

ख़ास बातें
  • चीनी ऐप्स की पहचान कर अनइंस्टॉल करने में मदद करता है Remove China Apps
  • कोरोना वायरस महामारी के कारण पनप रही है चीन विरोधी भावना
  • 'रिमूव चाइना ऐप्स' केवल एंड्रॉयड यूज़र्स के लिए उपलब्ध
Remove China Apps, एक एंड्रॉयड ऐप है जो आपके एंड्रॉयड फोन में मौजूद चाइनीज़ ऐप्स को पहचानने और उन्हें हटाने का काम करती है। यह ऐप भारत में तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसके पीछे भारत में चल रहा Boycott China ट्रैंड है। कल ही हमने रिपोर्ट किया था कि यह ऐप भारत में काफी लोकप्रियता हासिल करता जा रहा है और अब नई रिपोर्ट के अनुसार, यह ऐप फिलहाल देश में Google Play की टॉप फ्री ऐप्स की लिस्ट में सबसे ऊपर पहुंच गया है। दिलचस्प बात यह है कि ऐप को 17 मई को लॉन्च होने के बाद से अब तक 50 लाख से अधिक बार डाउनलोड किया जा चुका है। यह साफ अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि इसे भारत-चीन सीमा विवाद और दुनियाभर में चल रही कोरोनवायरस महामारी जैसे मुद्दों ने चिंगारी दी है। इन्हीं मुद्दों की वजह से एक अन्य ऐप 'Mitron' भी पिछले कई दिनों से चर्चा का विषय बना हुआ है और इसे भारत में टिकटॉक के विकल्प के रूप में तेज़ी से अपनाया जा रहा है।
 

क्या है Remove China Apps और यह कैसे करती है काम?

जैसा कि हमने बताया 'रिमूव चाइना ऐप्स' को दिन दुगनी रात चौगनी लोकप्रियता मिल रही है। ऐप को 17 मई को लॉन्च किया गया था और इसे अभी तक 50 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। यह ऐप मुफ्त में Google Play Store पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। यह ऐप बिना लॉग-इन मांगे ही काम करती है। इसमें यूज़र को बस अपने एंड्रॉयड डिवाइस में चीन द्वारा निर्मित ऐप की पहचान करने के लिए "scan" को चुनना होता है और 'Remove China Apps' ऐप फोन में चीनी डेवलपर्स द्वारा बनाई गई ऐप्स को पहचान लेता है और उन्हें हटाने का विकल्प भी देता है।

गौर करने वाली बात यह है कि यह ऐप केवल उन्हीं ऐप्स की पहचान करता है, जिन्हें यूज़र्स द्वारा गूगल प्ले स्टोर या फिर अन्य थर्ड पार्टी ऐप स्टोर से अपने एंड्रॉयड डिवाइस में इंस्टॉल किया गया है। जो चीनी ऐप्स आपके स्मार्टफोन में प्री-इंस्टॉल आए थे, उनकी पहचान यह ऐप नहीं करता।

गौरतलब है कि Remove China Apps को OneTouch AppLabs द्वारा बनाया गया है, जो केवल गूगल प्ले स्टोर पर लिस्ट है। दावा किया गया है कि OneTouch AppLabs जयपुर स्थित कंपनी है, जिसकी वेबसाइट 8 मई को बनाई गई थी।
 

Remove China Apps क्यों हो रहा है लोकप्रिय?

यह ऐप ऐसे समय पर आया है, जब देश में चीन विरोधी भावना बढ़ती जा रही है। यह भावना कई विवादों के बाद पनपी है, जिसमें YOUTUBE VS TIK-TOK, भारत-चीन सीमा विवाद और कोरोना वायरस महामारी शामिल हैं। हाल ही के एक सर्वे में सामने आया है कि 67 प्रतिशत भारतीय कोरोना वायरस महामारी फैलाने का जिम्मेदार चीन को मानते हैं।

आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. OnePlus ने भारत में लॉन्च किए तीन स्मार्ट Android TV, कीमत 12,999 रुपये से शुरू
  2. भारत की इस कंपनी ने 20,999 रुपये में लॉन्च किया 43 इंच का 4K LED Smart TV
  3. Tata Sky+ HD सेट-टॉप बॉक्स एक बार फिर हुआ सस्ता, जानें नया दाम
  4. PUBG Mobile Season 14 का ट्रेलर वीडियो हुआ लीक, नए 'Livik' मैप की भी मिली झलक
  5. Samsung Galaxy Z Flip स्मार्टफोन के दाम में 7,000 रुपये की कटौती
  6. WhatsApp में आएंगे एनिमिटेड स्टीकर्स, क्यूआर कोड, और भी कई फीचर्स
  7. Vivo S1 Pro की कीमत हुई कम, जानें नया दाम
  8. Mitron, Chingari, Hipi, Roposo, Moj: 'मेड इन इंडिया' ऐप्स जो दूर करेंगे TikTok की कमी
  9. ये 25 ऐप्स चुरा रहे थे आपका फेसबुक डेटा, गूगल प्ले स्टोर से हटाए गए: रिपोर्ट
  10. Realme 6 Pro, Poco X2, Vivo V19: सेल्फी के दीवानों के लिए लेटेस्ट डुअल फ्रंट कैमरा स्मार्टफोन
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2020. All rights reserved.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com