• होम
  • विज्ञान
  • ख़बरें
  • हजारों वर्ष पहले ही मिस्र में किया जा चुका था ब्रेन कैंसर का इलाज! 4,000 साल पुराने स्कल की हुई जांच

हजारों वर्ष पहले ही मिस्र में किया जा चुका था ब्रेन कैंसर का इलाज! 4,000 साल पुराने स्कल की हुई जांच

यह रिसर्च महत्वपूर्ण है क्योंकि यह प्राचीन मिस्र चिकित्सा के एडवांसमेंट के बारे में नए तथ्यों को उजागर करती है।

हजारों वर्ष पहले ही मिस्र में किया जा चुका था ब्रेन कैंसर का इलाज! 4,000 साल पुराने स्कल की हुई जांच

Photo Credit: Frontiers in Medicine

रिसर्च महत्वपूर्ण है क्योंकि यह प्राचीन मिस्र चिकित्सा के एडवांसमेंट के बारे में नए तथ्यों को उजागर करती है।

ख़ास बातें
  • रिसर्च से पता चलता है प्राचीन मिस्र के सर्जरी मैथड का एडवांसमेंट
  • रिसर्चर्स ने जांचने के लिए 4,000 साल पुरानी खोपड़ियों को चुना
  • इससे पता चलता है कि मिस्र के डॉक्टर कैंसर का निदान और इलाज कर सकते थे
विज्ञापन
रिसर्चर्स द्वारा Micro-CT स्कैनिंग और माइक्रोस्कोपिक बोन सरफेस एनालिसिस का इस्तेमाल करके मिस्र की दो प्राचीन खोपड़ियों की जांच की गई है। स्टडी से पता चला कि एक खोपड़ी में जानलेवा कैंसर के घाव थे और दूसरी खोपड़ी में स्कल फ्रैक्चर ठीक होने का सबूत था। दिलचस्प बात यह है कि कैंसर से लैस इन इंसानी खोपड़ियों में पेरिमॉर्टम कट के निशान भी दिखे, जिससे पता चलता है कि इन व्यक्तियों की सर्जरी या शव परीक्षण हुआ हो सकता है।

Frontiers in Medicine जर्नल में पब्लिश की गई रिसर्च का मानना ​​है कि ये दो खोपड़ियां प्राचीन मिस्र के एडवांस सर्जरी मैथड  के बारे में बताती है। इससे अंदेशा लगाया गया है कि स्कल के फ्रैक्चर वाला व्यक्ति बच गया होगा। यदि ऐसा है तो यह बताता है कि मिस्र के डॉक्टर सिर की गंभीर चोटों का इलाज करने में सक्षम थे। कैंसर के साथ खोपड़ी पर कटे निशानों की व्याख्या करना अधिक कठिन है, लेकिन वे संकेत दे सकते हैं कि मिस्रवासी ट्यूमर को हटाने के लिए किसी प्रकार की सर्जरी कर रहे थे।

यह रिसर्च महत्वपूर्ण है क्योंकि यह प्राचीन मिस्र चिकित्सा के एडवांसमेंट के बारे में नए तथ्यों को उजागर करती है। इससे पता चलता है कि मिस्र के डॉक्टर न केवल कैंसर का निदान और इलाज करने में सक्षम थे, बल्कि वे जटिल सर्जिकल प्रोसेस को अंजाम देने में भी सक्षम थे।

ट्युबिंगन विश्वविद्यालय के एक रिसर्चर और पेपर के पहले लेखक, तातियाना टोंडिनी ने कहा, "हम अतीत में कैंसर की भूमिका के बारे में जानना चाहते थे, प्राचीन काल में यह बीमारी कितनी प्रचलित थी और प्राचीन समाज इस विकृति के साथ कैसे प्रतिक्रिया करते थे।"

रिसर्चर्स का कहना है कि इनमें से एक खोपड़ी में उन्हें एक बड़ा घाव मिला है जो ऊतकों की असामान्य वृद्धि का संकेत देता है। खोपड़ी के चारों ओर कई अन्य छोटे घाव भी थे जो बताते हैं कि इसे मेटास्टेसिस हो गया था। टीम ने इनमें से प्रत्येक घाव के चारों ओर चाकू के निशान भी देखें जैसे कि किसी ने जानबूझकर इन कैंसरयुक्त वृद्धि को काटने की कोशिश की हो।

न्यूजवीक के अनुसार, जिन खोपड़ियों की उन्होंने जांच की, वे कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के डकवर्थ कलेक्शन की हैं। पहला, 2687 और 2345 ईसा पूर्व के बीच का, 30 से 35 साल के पुरुष का था, जबकि दूसरा 663 और 343 ईसा पूर्व के बीच का, 50 वर्ष से अधिक उम्र की महिला का था।

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

नितेश पपनोई Nitesh has almost seven years of experience in news writing and reviewing tech products like smartphones, headphones, and smartwatches. At Gadgets 360, he is covering all ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Honor X60i फोन 16GB रैम, 5000mAh बैटरी के साथ स्पॉट, स्पेसिफिकेशंस का हुआ खुलासा
  2. Oppo Reno 12F 5G फोन 8GB रैम, 5000mAh बैटरी, 45W फास्ट चार्जिंग के साथ होगा लॉन्च! Geekbench पर स्पॉट
  3. Hyundai भारत में लॉन्च करेगी 4 इलेक्ट्रिक कार, जानें कब आएगी Creta EV?
  4. नए पीले रंग के वेरिएंट में पेश हो सकता है Samsung Galaxy S24 Ultra स्मार्टफोन! कंपनी ने शेयर किया टीजर
  5. TCL C69B 4K QLED Google TV भारत में 43-इंच और 55-इंच साइज में लॉन्च, कीमत Rs. 32,990 से शुरू
  6. Ola Electric के S1 X इलेक्ट्रिक स्कूटर में मिलेंगे नए फीचर्स
  7. Google Pixel 9 Pro XL आया गीकबेंच पर नजर, 16GB RAM, Tensor G4 SoC के साथ देगा दस्तक
  8. परमाणु हथियारों पर हर मिनट Rs 1.45 करोड़ खर्च कर रहे ये 9 देश, भारत भी शामिल
  9. Tecno Spark 20 Pro 5G हुआ 108MP कैमरा, 5000mAh बैटरी के साथ लॉन्च, जानें कीमत
  10. क्रिप्टो मार्केट में मामूली तेजी, बिटकॉइन का प्राइस 66,000 डॉलर से ज्यादा 
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »