क्रिप्टोकरेंसी को अभी भी उभरती मार्केट के लिए खतरा मानता है रिजर्व बैंक, जानें गवर्नर ने क्या कहा?

RBI गवर्नर ने क्रिप्टोकरेंसी में आंतरिक मूल्य की अनुपस्थिति और व्यापक आर्थिक और वित्तीय स्थिरता पर संभावित प्रभाव पर प्रकाश डाला।

क्रिप्टोकरेंसी को अभी भी उभरती मार्केट के लिए खतरा मानता है रिजर्व बैंक, जानें गवर्नर ने क्या कहा?
ख़ास बातें
  • दास ने उभरती अर्थव्यवस्थाओं के लिए क्रिप्टो के बड़े जोखिमों की बात की
  • भारत के ई-रुपये (e-rupee) को उपयोग का बेहतर ऑप्शन बताया
  • एक खास पायलट कार्यक्रम आयोजित करने की योजना की भी घोषणा की गई है
विज्ञापन
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने क्रिप्टोकरेंसी से जुड़े जोखिमों के बारे में चिंताओं को दोहराया है और इस बात पर जोर दिया है कि हालिया ग्लोबल डेवलपमेंट के बावजूद इसपर केंद्रीय बैंक का रुख अपरिवर्तित बना हुआ है। इतना ही नहीं, दास ने अमेरिकी सिक्टोरिटीज रेगुलेटरी द्वारा बिटकॉइन (Bitcoin) पर नजर रखने वाले पहले यूएस-लिस्टेड एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड की मंजूरी के बारे में आशंका व्यक्त की।

रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, दास ने उभरती और उन्नत दोनों अर्थव्यवस्थाओं के लिए क्रिप्टोकरेंसी के बड़े जोखिमों की ओर इशारा किया और व्यापक रूप से अपनाने के प्रति आगाह किया। दास ने क्रिप्टोकरेंसी में आंतरिक मूल्य की अनुपस्थिति और व्यापक आर्थिक और वित्तीय स्थिरता पर संभावित प्रभाव पर प्रकाश डाला।

दास ने कहा, "उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाओं और उन्नत अर्थव्यवस्थाओं के लिए भी, उस रास्ते पर चलने से बड़े जोखिम पैदा होंगे जिन्हें आगे बढ़ने में रोकना बहुत मुश्किल होगा।"  

क्रिप्टोकरेंसी के विपरीत, दास ने उदाहरण के तौर पर भारत के ई-रुपये (e-rupee) का हवाला देते हुए केंद्रीय बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) के फायदों पर जोर दिया। उन्होंने कुशल कैश ट्रांसफर, विशेष रूप से किसानों को लक्षित ट्रांसफर के लिए ई-रुपये की प्रोग्रामयोग्यता को बढ़ाने के लिए चल रहे प्रयासों का उल्लेख किया। आरबीआई गवर्नर ने थोक क्षेत्र के भीतर नए क्षेत्रों में e-rupee को लागू करने के लिए पायलट कार्यक्रम आयोजित करने की योजना की भी घोषणा की।

रिपोर्ट बताती है कि दास ने खुलासा किया कि भारतीय बैंकों ने दिसंबर में कर्मचारी बेनिफिट्स वितरित करने के लिए डिजिटल रुपये का सफलतापूर्वक उपयोग किया, जिससे आरबीआई के 2023 के अंत तक दस लाख दैनिक लेनदेन प्राप्त करने के लक्ष्य में योगदान मिला। उन्होंने आरबीआई और भारतीय राष्ट्रीय भुगतान परिषद के बीच सीमा पार लेनदेन में भारत के यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) को अपनाने के लिए कई देशों के साथ चल रही चर्चा का भी खुलासा किया।

भारतीय एक्सचेंजों में क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

नितेश पपनोई Nitesh has almost seven years of experience in news writing and reviewing tech products like smartphones, headphones, and smartwatches. At Gadgets 360, he is covering all ...और भी

संबंधित ख़बरें

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Xiaomi ने लॉन्च किया Mijia Refrigerator French 439L, 360 डिग्री कूलिंग के साथ 10 साल की वारंटी, जानें डिटेल
  2. DC Vs SRH Live: दिल्ली कैपिटल्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद IPL मैच कुछ देर में, यहां देखें फ्री!
  3. Vivo ने लॉन्च किया Y200i, 50 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा
  4. धरती में तेजी धंस रहे हैं इस देश के आधे से ज्यादा शहर!
  5. Pixel 9 Pro की रियल लाइफ इमेज लीक, 16GB रैम, फ्लैट डिस्प्ले से होगा लैस!
  6. भारत का विजिट नहीं करेंगे Elon Musk, टेस्ला में काम के बोझ का बताया कारण
  7. UP Board 10th Result 2024: यूपी बोर्ड 10वीं रिजल्ट रोल नम्बर से ऐसे करें चेक
  8. HP Omen Transcend 14 गेमिंग लैपटॉप लॉन्च, 11.5 घंटे की बैटरी, 2.8K 120Hz डिस्प्ले से है लैस, जानें कीमत
  9. Samsung ने 8GB के RAM के साथ लॉन्च किया Galaxy F15 5G, जानें प्राइस, स्पेसिफिकेशंस
  10. Prime Gaming: Amazon दे रहा है Fallout 76 गेम को फ्री में खेलने का मौका, ऐसे करें डाउनलोड
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »