Zomato का प्लान, आने वाले दिनों में शराब की होम डिलिवरी

बता दें कि फिलहाल भारत में शराब की डिलिवरी का कोई कानुनी प्रावधान नहीं है और इसी को बदलने के लिए ISWAI और Zomato, Swiggy के बातचीत चल रही है।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
Zomato का प्लान, आने वाले दिनों में शराब की होम डिलिवरी

लॉकडाउन के चलते Zomato इस समय ग्रॉसरी को भी डिलिवर कर रही है

ख़ास बातें
  • Zomato फिलहाल फूड के साथ-साथ किराने का सामान भी कर रहा है डिलिवर
  • लॉकडाउन के चलते बंद फूट आउटलेट के कारण कंपनी की कमाई पर असर
  • शराब डिलिवर कर मुनाफा कमाने की योजना बना रही है कंपनी
भारत में पिछले लगभग दो महीने से लॉकडाउन लगा हुआ है। ऐसे में कुछ दिनों पहले तक सरकार ने केवल आवश्यक सामान के अलावा सभी गैर-ज़रूरी सामान की बिक्री ऑनलइन और ऑफलाइन दोनों मार्केट में बंद की हुई थी। लॉकडाउन 3.0 में अब सरकार ने कुछ नियम बनाए हैं, जिसके तहत कुछ सुरक्षित क्षेत्रों में गैर-ज़रूरी सामान की बिक्री चालू कर दी गई है। इतना ही नहीं, हाल ही में सरकार ने शराब की कुछ चुनिंदा दुकानों को भी खोल दिया था। हालांकि शराब की दुकानों के बाहर लग रही भीड़ और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न होने की वजह से सरकार की चिंताएं बढ़ती नज़र आ रही है। अब एक नई रिपोर्ट सामने आई है, जहां फूड डिलिवरी स्टार्टअप Zomato ने देश में लगे कोरोनोवायरस लॉकडाउन के दौरान शराब की बढ़ रही मांग को कमाई में बदलने की योजना बनाई है। कंपनी शराब को लोगो के घरो तक डिलिवरी करने में मदद करने की कोशिश कर रही है।

Reuters द्वारा देखे गए दस्तावेज़ के अनुसार, Zomato भारत में लॉकडाउन के दौरान शराब की डिलिवरी करने का प्रयास कर रही है। कंपनी पहले से ही किराने की डिलीवरी में भी अपने पैर पसार चुकी है, क्योंकि प्रतिबंध ने चलते कई रेस्तरां बंद हैं और लोगों संक्रमण के खतरे को देखते हुए बाहर के खाने से बच रहे हैं। ऐसे में कंपनी लगातार कमाई के साधन खोज रही है।

देश भर में 25 मार्च से शराब की दुकानों पर ताले लगे हुए थे, जिन्हें इस हफ्ते से खोलने की अनुमति मिल गई। हालांकि इस फैसले के आने के तुरंत बाद कुछ शहरों में शराब की दुकानों के बाहर सैकड़ों लोगों की कतारें लग गई। भीड़ इतनी थी कि कई जगह पुलिस को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए लाठी चार्ज तक करना पड़ गया। भीड़ को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने शराब पर 70 प्रतिशत स्पेशल कोरोना फीस लगा दी और मुंबई सरकार ने दो दिन के भीरत सभी दुकानों को फिर से बंद कर दिया।

बता दें कि फिलहाल भारत में शराब की डिलिवरी का कोई कानुनी प्रावधान नहीं है और इसी को बदलने के लिए इंटरनेशनल स्पीरिट्स एंड वाइन एसोशिएशन ऑफ इंडिया (ISWAI) और ऑनलाइन फूड डिलिवरी ऐप Zomato के साथ कुछ अन्य ऐप्स के बीच बातचीत चल रही है।

ISWAI के एक्ज़िक्यूटिव चेयरमैन अम्रित किरन सिंग का कहना है कि राज्य सरकारों को शराब की डिलिवरी शुरू कर देनी चाहिए, जिससे लॉकडाउन की मार झेल रहे राज्यों के राजस्व में कुछ सुधार आए।

रिपोर्ट में बताया गया है कि ISWAI ने Zomato के साथ-साथ Swiggy को भी इस मामले पर संपर्क किया है।

लंदन स्थित रिसर्च ग्रुप IWSR ड्रिंक्स मार्केट एनालिसिस के सबसे हालिया आंकड़ों के मुताबिक, 2018 में भारत में अल्कोहल ड्रिंक्स का बाज़ार लगभग 27.2 बिलियन डॉलर (लगभग 2.06 लाख करोड़ रुपये) का था।
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2020. All rights reserved.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com