• होम
  • विज्ञान
  • ख़बरें
  • क्‍या चंद्रमा पर प्राइवेट कंपनी उतार पाएगी लैंडर? IM 1 मिशन की उल्‍टी गिनती शुरू, लैंडिंग कल

क्‍या चंद्रमा पर प्राइवेट कंपनी उतार पाएगी लैंडर? IM-1 मिशन की उल्‍टी गिनती शुरू, लैंडिंग कल

IM1 mission : इसका मकसद चांद पर लैंडिंग की क्षमताओं को दिखाना है।

क्‍या चंद्रमा पर प्राइवेट कंपनी उतार पाएगी लैंडर? IM-1 मिशन की उल्‍टी गिनती शुरू, लैंडिंग कल

Photo Credit: @Int_Machines

मिशन की खूबी है कि यह अपनी लॉन्चिंग के महज 8 दिनों में पृथ्‍वी से चांद की दूरी पूरी कर रहा है।

ख़ास बातें
  • IM-1 मिशन कल यानी 22 फरवरी को चांद पर लै‍ंडिंग की कोशिश करेगा
  • 8 दिनों में पृथ्‍वी से चांद का सफर पूरा कर रहा है मिशन
  • ओडीसियस नाम के लूनार लैंडर को चांद पर उतारा जाएगा
विज्ञापन
दुनियाभर की अंतरिक्ष एजेंसियों के लिए चंद्रमा (moon) पृथ्‍वी के बाहर वो हॉट पॉइंट है, जहां उतरने और एक्‍सपेरिमेंट करने के लिए मिशन लॉन्‍च किए जा रहे हैं। भारत ने पिछले साल चंद्रयान-3 मिशन को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड कराकर इत‍िहास रचा था। अमेरिका की नासा, रूस और चीन भी चांद पर अपने मिशन पहुंचा चुके हैं। दिलचस्‍प यह है कि आजतक कोई प्राइवेट मून मिशन चांद पर लैंड नहीं हो सकता है। साल 2019 से इसकी कोशिश की जा रही है, लेकिन इस्राइल और जापान जैसे देशों की कंपनियां फेल हो चुकी हैं। 

अब इंट्यूटिव मशीन्‍स (Intuitive Machines) नाम की एक कंपनी ने कोशिश की है। यह IM-1 मिशन को चांद पर लैंड कराने के लिए आगे बढ़ रही है। कंपनी का मकसद चांद पर लैंडिंग की क्षमताओं को दिखाना है। 
 

चंद्रमा पर कब लैंड होगा IM-1 मिशन 

जानकारी के अनुसार, IM-1 मिशन कल यानी 22 फरवरी को चांद पर लै‍ंडिंग का प्रयास करेगा। ओडीसियस नाम के लूनार लैंडर को चांद पर उतारा जाएगा। मिशन की खूबी है कि यह अपनी लॉन्चिंग के महज 8 दिनों में पृथ्‍वी से चांद की दूरी पूरी कर रहा है। 
 

अपोलो मिशन के रास्‍ते से गुजर रहा ओडीसियस

IM-1 मिशन के तहत भेजा गया ओडीसियस लूनार लैंड वही रास्‍ता फॉलो कर रहा है, जो कभी अपोलो मिशन के लिए चुना गया था। पृथ्‍वी से चांद की दूरी 3 लाख 84 हजार 400 किलोमीटर है। यह दूरी 8 दिन में आईएम-1 मिशन पूरी करते हुए कल चांद पर लैंड करने की कोशिश करेगा। 
 

मिशन पर क्‍या है लेटेस्‍ट अपडेट 

मिशन के बारे में बताते हुए कंपनी ने कहा है कि ओडीसियस की कंडीशन हेल्‍दी है। सभी सिस्‍टम और पेलोड ठीक काम कर रहे हैं। यह स्‍पेसक्राफ्ट कल सुबह 4:19 बजे चंद्रमा पर की सतह पर उतरने की कोशिश करेगा। खबर पर लेटेस्‍ट अपडेट पाने के लिए जुड़े रहे गैजेट्स 360 हिंदी के साथ। 
 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

प्रेम त्रिपाठी

प्रेम त्रिपाठी Gadgets 360 में चीफ सब एडिटर हैं। 10 साल प्रिंट मीडिया ...और भी

संबंधित ख़बरें

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. अमेरिकी चुनाव में बाइडन के हटने से झूमा बिटकॉइन, प्राइस 68,000 डॉलर से पार
  2. Pixel 9 Pro XL स्‍मार्टफोन में होगी 16GB रैम, लेकिन स्‍टोरेज करेगा निराश!
  3. Realme Watch S2 सिंगल चार्ज में चलेगी 20 दिन! 110 स्‍पोर्ट्स मोड के साथ लॉन्चिंग जल्‍द
  4. Redmi ने 5,500mAh की बैटरी के साथ लॉन्च किया K70 Extreme Edition
  5. Google Pixel 9 में Apple जैसी 2 साल की सैटेलाइट SOS सर्विस मिलेगी फ्री
  6. Xiaomi के ‘सस्‍ते’ टैबलेट Redmi Pad SE 8.7 के फीचर्स लीक, 29 जुलाई को लॉन्चिंग!
  7. Xiaomi Watch S4 Sport, Mi Band 9 और Xiaomi Buds 5 लॉन्च, जानें कीमत और स्पेसिफिकेशंस
  8. Xiaomi का फोल्‍डेबल स्‍मार्टफोन Mix Fold 4 लॉन्‍च, 6 कैमरे, 5100mAh बैटरी समेत कई खूबियां, जानें प्राइस
  9. Flipkart GOAT Sale: 20 हजार में आने वाले स्मार्टफोन पर बंपर डिस्काउंट
  10. बुध ग्रह में मिला हीरे का भंडार! 485km नीचे 15km मोटी परत, लेकिन निकालना ‘नामुमकिन’
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »