• होम
  • विज्ञान
  • ख़बरें
  • चीन ने रचा इतिहास! चंद्रमा के उस इलाके से 2 किलो ‘धूल पत्‍थर’ लेकर पृथ्‍वी पर लौटा, जिसे हम नहीं देख पाते

चीन ने रचा इतिहास! चंद्रमा के उस इलाके से 2 किलो ‘धूल-पत्‍थर’ लेकर पृथ्‍वी पर लौटा, जिसे हम नहीं देख पाते

Change 6 mission returned : अंतरिक्ष के क्षेत्र में चीन ने एक और इतिहास रच दिया है। चीन का रोबोटिक चांग'ई 6 मिशन (Chang'e 6 mission) मंगलवार को चंद्रमा के सुदूर इलाके से सैंपल इकट्ठा करके पृथ्‍वी पर लौट आया।

चीन ने रचा इतिहास! चंद्रमा के उस इलाके से 2 किलो ‘धूल-पत्‍थर’ लेकर पृथ्‍वी पर लौटा, जिसे हम नहीं देख पाते

Photo Credit: scmp

दुनिया में पहली बार कोई मून मिशन चंद्रमा के सुदूर हिस्‍से से सैंपल लेकर वापस धरती पर लौटा है।

ख़ास बातें
  • चंद्रमा के मून मिशन की बहुत बड़ी कामयाबी
  • चंद्रमा के सुदूर इलाके से मटीरियल लेकर धरती पर लौटा
  • पहली बार उस हिस्‍से से कोई देश लेकर आया सैंपल
विज्ञापन
Chang'e 6 mission returned : अंतरिक्ष के क्षेत्र में चीन ने एक और इतिहास रच दिया है। चीन का रोबोटिक चांग'ई 6 मिशन (Chang'e 6 mission) मंगलवार को चंद्रमा के सुदूर इलाके से सैंपल इकट्ठा करके पृथ्‍वी पर लौट आया। चंद्रमा का सुदूर इलाका वह जगह है, जो पृथ्‍वी से नहीं दिखाई देती। दुनिया में पहली बार कोई मून मिशन उस जगह से सैंपल लेकर वापस धरती पर लौटा है। मी‍डिया रिपोर्टों के अनुसार, भारतीय समय के मुताबिक आज सुबह 11 बजकर 37 मिनट पर चांग'ई 6 मिशन का कैप्‍सूल चीन के इनर मंगोलिया ऑटोनॉमस रीजन में उतरा। 

Chang'e 6 मिशन के चार मुख्‍य हिस्‍से थे। ये थे- लूनार लैंडर, वापस लौटने वाला कैप्‍सूल, एक ऑर्बिटर और लैंडर के साथ गया छोटा रॉकेट। चीन ने इस मून मिशन को 3 मई को लॉन्‍च किया था, जो 5 दिनों के बाद ही चंद्रमा की कक्षा में पहुंच गया था। 

1 जून को चांग'ई 6 मिशन के लैंडर ने चंद्रमा के विशाल दक्षिणी ध्रुव- ऐटकेन बेसिन (Aitken basin) के अपोलो क्रेटर में लैंड किया था। स्‍पेसडॉटकॉम के अनुसार, लैंडर ने स्कूप और ड्रिल का इस्‍तेमाल करके लगभग 4.4 पाउंड (2 किलोग्राम) सैंपल इकट्ठा किए। उस मटीरियल को पृथ्‍वी पर लौटने वाले कैप्‍सूल में डालकर चंद्रमा पर गए छोटे से रॉकेट की मदद से चंद्रमा की कक्षा तक पहुंचा गया और फ‍िर पृथ्‍वी पर लैंड कराया गया। 

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (Nasa) के अनुसार, चीनी कैप्सूल ने 21 जून के आसपास पृथ्वी की ओर बढ़ना शुरू कर दिया था। इनके सकुशल धरती पर पहुंचने के बाद चीन का यह मून मिशन सफलता के साथ पूरा हो गया है। 
 

सैंपल तो सोवियत यूनियन और USA भी लाए हैं, फ‍िर यह कैसे अलग? 

Chang'e 6 मिशन ऐसा पहला मिशन नहीं है, जो चंद्रमा से सैंपल लेकर धरती पर आया हो। सोवियत यूनियन और यूएसए पहले यह काम कर चुके हैं। फ‍िर चीन का मिशन कैसे अलग है? दरअसल, अमेरिका और सोवियत यूनियन ने चंद्रमा के जिस हिस्‍से से सैंपल जुटाए थे, वह हमेशा पृथ्‍वी की ओर फोकस्‍ड रहता है। पहली बार चांद के उस हिस्‍से से किसी देश ने सैंपल जुटाए हैं, जो पृथ्‍वी से कभी भी दिखाई नहीं देता। 

 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

प्रेम त्रिपाठी

प्रेम त्रिपाठी Gadgets 360 में चीफ सब एडिटर हैं। 10 साल प्रिंट मीडिया ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. भारत से ऑटोमोबाइल का एक्सपोर्ट 15 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ा
  2. स्मार्टफोन के इंटरनेशनल मार्केट की शिपमेंट्स 6 प्रतिशत बढ़ी, सैमसंग का पहला स्थान
  3. Honor Magic V3 स्मार्टफोन 16GB रैम, वायरलेस चार्जिंग सपोर्ट के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स
  4. Elon Musk की Tesla Robotaxi के आने में हुई देरी, जानें अब कब लॉन्च होगी अपने आप चलने वाली टैक्सी?
  5. Acerpure ने 65-इंच तक स्क्रीन साइज वाले 4 स्मार्ट टीवी भारत में किए लॉन्च, कीमत 11,490 रुपये से शुरू
  6. Huawei की ट्राई-फोल्ड स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी, 10 इंच की हो सकती है स्क्रीन
  7. बिटकॉइन में हुई रिकवरी, प्राइस 62,700 डॉलर से ज्यादा
  8. Realme 13 Pro सीरीज होगी 30 जुलाई को लॉन्च,क्या कुछ होगा खास यहां जानें सबकुछ
  9. Kia ने EV6 इलेक्ट्रिक कार की भारत में बिकी 1,138 यूनिट्स को वापस सर्विस सेंटर बुलाया, पाई गई ये गंभीर समस्या
  10. Jio के ये प्लान पूरे 365 दिन देते हैं डेली 2.5GB डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »