• होम
  • मोबाइल
  • ख़बरें
  • Xiaomi के 67 करोड़ डॉलर के एसेट्स पर ED की रोक बरकरार, कर्नाटक हाई कोर्ट से कंपनी को झटका

Xiaomi के 67 करोड़ डॉलर के एसेट्स पर ED की रोक बरकरार, कर्नाटक हाई कोर्ट से कंपनी को झटका

शाओमी की देश में यूनिट पर अपने बैंकर Deutsche Bank को वर्षों तक गलत जानकारी देने का आरोप लगा था। कंपनी ने दावा किया था कि उसका रॉयल्टी की पेमेंट के लिए एग्रीमेंट है, जबकि ऐसा कुछ नहीं था

Xiaomi के 67 करोड़ डॉलर के एसेट्स पर ED की रोक बरकरार, कर्नाटक हाई कोर्ट से कंपनी को झटका

कंपनी ने अपनी याचिका में कहा था कि उसके एसेट्स पर रोक लगाना अनुचित है

ख़ास बातें
  • ED ने पिछले वर्ष कंपनी के एसेट्स पर रोक लगाई थी
  • शाओमी ने किसी गड़बड़ी से इनकार किया था
  • कंपनी ने दावा किया था कि उसका रॉयल्टी की पेमेंट के लिए एग्रीमेंट है
विज्ञापन
कर्नाटक हाई कोर्ट ने चाइनीज स्मार्टफोन मेकर Xiaomi के 67 करोड़ डॉलर से अधिक के एसेट्स पर एन्फोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) की रोक को बरकरार रखा है। कंपनी ने एसेट्स पर रोक लगाने को कोर्ट में चुनौती दी थी। ED ने पिछले वर्ष कंपनी के एसेट्स पर रोक लगाई थी। ED का आरोप था कि शाओमी ने विदेशी फर्मों को रॉयल्टी के भुगतान की मद में गैर कानूनी तरीके से रकम भेजी थी। 

हालांकि, शाओमी ने किसी गड़बड़ी से इनकार किया था। Live Law की रिपोर्ट के अनुसार, शाओमी ने अपनी याचिका में कहा था कि उसके एसेट्स पर रोक लगाना अनुचित है और इससे देश में कंपनी के कामकाज में रुकावट आई है। पिछले वर्ष शाओमी के वकील ने कोर्ट  से इन रोक को समाप्त करने की मांग की थी। इस पर कोर्ट ने कहा था कि कंपनी को पहले रोक वाले एसेट्स के समान बैंक गारंटी उपलब्ध करानी चाहिए। इस पर कंपनी के वकील ने कोर्ट को बताया था कि ऐसी बैंक गारंटी का मतलब पूरी रकम को जमा कराना होगा। इससे कंपनी के लिए कामकाज करना मुश्किल हो जाएगा। हालांकि, इसे लेकर कोर्ट ने कोई राहत देने से मना कर दिया था। 

कंपनी की देश में यूनिट पर अपने बैंकर Deutsche Bank को वर्षों तक गलत जानकारी देने का आरोप लगा था। कंपनी ने दावा किया था कि उसका रॉयल्टी की पेमेंट के लिए एग्रीमेंट है, जबकि ऐसा कुछ नहीं था। कंपनी के खिलाफ जांच में पाया गया था कि उसने रॉयल्टी की 'मद' में अमेरिकी चिप कंपनी Qualcomm और अन्यों को 'गैर कानूनी' तरीके से रकम भेजी थी। 

पिछले वर्ष भारत में स्मार्ट TV के मार्केट में 11 प्रतिशत की हिस्सेदारी के साथ शाओमी ने अपना पहला स्थान बरकरार रखा था। पिछले वर्ष देश में स्मार्ट TV की शिपमेंट्स में 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। इसके पीछे तीसरी तिमाही में फेस्टिव सीजन के दौरान नए लॉन्च, डिस्काउंट और प्रमोशंस प्रमुख कारण रहे। मार्केट रिसर्च फर्म Counterpoint की रिपोर्ट के अनुसार, कम प्राइस वाले सेगमेंट में बड़ी स्क्रीन वाले TV की डिमांड से भी बिक्री बढ़ी है। दिसंबर तिमाही में फेस्टिव सीजन के बाद स्मार्ट TV की शिपमेंट्स डिमांड में कमी से वर्ष-दर-वर्ष आधार पर लगभग दो प्रतिशत बढ़ी हैं। इस मार्केट में शाओमी के बाद Samsung, LG, OnePlus और TCL थी। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

आकाश आनंद

Gadgets 360 में आकाश आनंद डिप्टी न्यूज एडिटर हैं। उनके पास प्रमुख ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. दुनिया के सबसे रईस व्यक्ति का खिताब Elon Musk से छिना, इनसे मिली मात....
  2. Nothing Phone 2a आज भारत में 12GB रैम, 50MP कैमरा के साथ होगा पेश, ऐसे देखें लॉन्च इवेंट लाइव
  3. OnePlus 13 होगा Snapdragon 8 Gen 4 के साथ लॉन्च! लीक में हुआ खुलासा क्या कुछ होगा खास
  4. Lava Blaze Curve 5G स्मार्टफोन 64MP कैमरा, 16GB RAM के साथ लॉन्च, जानें खासियतें
  5. 60 किलोमीटर रेंज के साथ Xiaomi Electric Scooter 4 Pro Max हुआ लॉन्च, जानें फीचर्स
  6. Ulefone Armor 23 Ultra स्मार्टफोन सैटेलाइट कनेक्टिविटी के साथ MWC 2024 में हुआ पेश
  7. Cult Active TR लॉन्च हुई 1.52" डिस्प्ले, 7 दिन बैटरी लाइफ के साथ, जानें स्मार्टवॉच की कीमत
  8. टैटू बनवाने वाले सावधान! सेहत को हो सकता है नुकसान
  9. Realme 12 5G, 12+ 5G की कीमत लीक, 8GB रैम, 5000mAh बैटरी के साथ 6 मार्च को होंगे लॉन्च
  10. TVS Motor की सेल्स 33 प्रतिशत बढ़कर 3.68 लाख यूनिट्स से ज्यादा
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »