Battlegrounds Mobile India भारत में हुआ ब्लॉक, आई रिएक्शन की बाढ़

Krafton ने Gadgets 360 को आज बताया "हम स्पष्ट कर रहे हैं कि कैसे गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर से बीजीएमआई को हटा दिया गया था और विशिष्ट जानकारी प्राप्त होने के बाद आपको बताएंगे।"

Battlegrounds Mobile India भारत में हुआ ब्लॉक, आई रिएक्शन की बाढ़

इससे पहले सरकार PUBG Mobile को भी भारत में बैन कर चुकी है

ख़ास बातें
  • Krafton के BGMI गेम को भारत में किया गया ब्लॉक
  • Google Play और Apple App Store से हटाया गया गेम
  • ब्लॉक करने के लिए आईटी अधिनियम की धारा 69A का किया गया है इस्तेमाल
विज्ञापन
भारत सरकार ने दक्षिण कोरियाई गेम डेवलपमेंट फर्म Krafton के एक लोकप्रिय बैटल-रोयाल गेम Battlegrounds Mobile India (BGMI) के एक्सेस को  ब्लॉक कर दिया है, क्योंकि सरकार डेवलपर द्वारा चीन में डेटा शेयरिंग और माइनिंग को लेकर चिंतित थी। इस बात की जाननकारी भारत सरकार के एक सूत्र ने शुक्रवार को समाचार एजेंसी Reuters को दी। यहब ब्लॉक देश में PUBG Mobile पर बैन लगाने के लगभग दो साल बाद हुआ है। भारत के IT Act की धारा 69A सरकार को राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में और कुई अन्य कारणों के चलते कंटेंट तक पब्लिक एक्सेस को ब्लॉक करने की अनुमति देती है। धारा के तहत जारी आदेश आम तौर पर गोपनीय होते हैं।

नई दिल्ली ने दक्षिण कोरियाई कंपनी क्राफ्टॉन के एक गेम बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया को ब्लॉक करने के लिए भारत के आईटी कानून का इस्तेमाल किया। जो कि चीन के Tencent द्वारा समर्थित है। इसके लिए सरकार ने एक प्रावधान का सहारा लिया है, जिसे राष्ट्रीय सुरक्षा चिंताओं के चलते कई अन्य चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के लिए 2020 से लागू किया गया था। इसकी जानकारी एक सरकारी अधिकारी और इस घटना से सीधा संबंध रखने वाले एक अन्य स्रोत ने Reuters को बताया।

आईटी अधिनियम की धारा 69A सरकार को राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में और कुछ अन्य कारणों से कंटेंट तक पब्लिक पहुंच को रोकने की अनुमति देती है। धारा के तहत जारी आदेश आम तौर पर गोपनीय होते हैं।

भारत सरकार ने सार्वजनिक रूप से अवरुद्ध करने की घोषणा नहीं की है। लेकिन भारत में गुरुवार शाम तक ऐप को Google Play स्टोर और Apple App Store से हटा दिया गया था।

स्वदेशी जागरण मंच (SJM) और गैर-लाभकारी Prahar ने सरकार से BGMI के "चीन प्रभाव" की जांच करने के लिए बार-बार कहा था, प्रहार अध्यक्ष अभय मिश्रा ने रायटर को बताया। एसजेएम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की आर्थिक शाखा है।

मिश्रा ने कहा, "तथाकथित नए अवतार में, BGMI अपने पिछले वर्जन PUBG से अलग नहीं था, Tencent अभी भी इसे बैकग्राउंड से कंट्रोल कर रही है।"

इस बैन को Twitter और YouTube पर भारत के लोकप्रिय गेमर्स से कड़ी ऑनलाइन प्रतिक्रियाएं मिलीं।

92,000 से अधिक फॉलोअर्स के साथ एक ट्विटर यूजर अभिजीत अंधारे ने ट्वीट किया "मुझे उम्मीद है कि हमारी सरकार समझती है कि हजारों एथलीट और कंटेंट क्रिएटर्स और उनका जीवन BGMI पर निर्भर है।"

Krafton ने Gadgets 360 को आज बताया "हम स्पष्ट कर रहे हैं कि कैसे गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर से बीजीएमआई को हटा दिया गया था और विशिष्ट जानकारी प्राप्त होने के बाद आपको बताएंगे।"

Google के एक प्रवक्ता ने पुष्टि की है कि बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया को हटाना एक सरकारी आदेश का परिणाम था। प्रवक्ता ने Gadgets 360 को बताया, "आदेश प्राप्त होने पर, स्थापित प्रक्रिया के बाद, हमने प्रभावित डेवलपर को सूचित कर दिया है और भारत में प्ले स्टोर पर उपलब्ध ऐप तक एक्सेस को ब्लॉक कर दिया है।" 

भारतीय ईस्पोर्ट्स इंडस्ट्री ने Apple और Google के ऐप स्टोर से BGMI को ब्लॉक करने का जवाब कुछ ऐसा दिए है।

ईस्पोर्ट्स प्रीमियर लीग के निदेशक विश्वलोक नाथ ने कहा "हमें प्ले स्टोर और ऐप स्टोर से गेम को हटाने के पीछे के कारण पर सरकार से एक आधिकारिक बयान प्राप्त करना बाकी है। यह पब्लिशर और सरकार के बीच है और हमें उम्मीद है कि यह मुद्दा जल्द ही हल हो जाएगा। ESPL के लिए यह आगे के निर्णय लेने के लिए प्रतीक्षा का समय है।"

रोहित जगसिया, संस्थापक और सीईओ, रेवेनेंट एस्पोर्ट्स ने कहा, "बीजीएमआई प्रतिबंध निश्चित रूप से टूर्नामेंट संगठनों, ईस्पोर्ट्स टीमों, कोच, सपोर्ट स्टाफ और सबसे महत्वपूर्ण एथलीटों जैसे सभी प्रमुख हितधारकों के लिए एक झटका होगा। हालांकि, रेवेनेंट ईस्पोर्ट्स में, हम अभी भी अपने बीजीएमआई एथलीटों का समर्थन करेंगे और सुनिश्चित करेंगे कि वे कंटेंट बनाने और विभिन्न गेम्स में अपना हाथ आजमाने के लिए हमारे ट्रेनिंग सेंटर का इस्तेमाल कर सके। माना जा रहा है कि इससे पूरे उद्योग को एक झटका लगेगा, लेकिन रेवेनेंट को प्रतिबंध के पहले कार्यकाल के दौरान बनाया गया था और हम हमेशा विविधीकरण में विश्वास करते हैं, हमारे पास अभी भी पोकेमोन यूनाइट में प्रतिस्पर्धा करने वाले खिलाड़ी हैं, जो लंदन में विश्व चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। [इसके अलावा] कॉल ऑफ ड्यूटी मोबाइल, जो विश्व चैम्पियनशिप के लिए क्षेत्रीय प्लेऑफ खेलेगा, एपेक्स लीजेंड्स जो पहले स्टॉकहोम में एएलजीएस प्लेऑफ में एसईए क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते थे। हम 8 महीनों में 3 बार अपने क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाली सबसे कम उम्र की टीम रहे हैं। हमने हमेशा विविधता में विश्वास किया है फिक्शन और ऐसा करना जारी रखेंगे, हम इन कोशिशों के दौरान अपने बीजीएमआई एथलीटों का समर्थन करने के लिए आशावादी हैं।”

मार्केटिंग फर्म अल्फा ज़ेगस के संस्थापक और निदेशक रोहित अग्रवाल ने कहा, "हम सभी जानते हैं कि इस तरह की घटनाएं साल-दर-साल आम होती जा रही हैं, और बिना किसी दूरदर्शिता के हो रही हैं। बहुत पहले नहीं, हमने चीन-आधारित ऐप्स की एक लहर को रातोंरात प्रतिबंधित होते देखा, और फ्री फायर जैसे को लाल झंडा दिखाते हुए भी देखा - बिना किसी पूर्व चेतावनी के सब कुछ हो रहा है। साथ ही, हाल ही में एक लड़के द्वारा अपनी मां को बीजीएमआई तर्क पर मारने की घटना के साथ, गेम फिर से सरकार के रडार पर आ गया था और इसे "युवा वयस्कों के लिए असुरक्षित" के रूप में चिह्नित किया गया था। गेम के कारण बहस और नुकसान की इसी तरह की घटनाएं अतीत में हुई हैं।"

उन्होंने आगे कहा, "प्रतिबंध के पीछे के तर्क के संदर्भ में सरकार ने अभी तक एक आधिकारिक बयान जारी नहीं किया है (यह देखते हुए कि क्राफ्टॉन ने निर्धारित दिशानिर्देशों के भीतर गेम को लॉन्च करने के लिए लगभग सभी संभावित सावधानियां बरती हैं) लेकिन अब तक हमने जो महसूस किया है वह यह है कि मोबाइल गेम अधिक अप्रत्याशित होते जा रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि एक नियामक संस्था गेम में आएगी, जो गेम्स पर रातों-रात प्रतिबंध लगाने के बजाय समय के साथ निगरानी करेगी।" 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

गैजेट्स 360 स्टाफ The resident bot. If you email me, a human will respond. और भी

संबंधित ख़बरें

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. सुजुकी मोटरसाइकिल ने भारत में की 80 लाख टू-व्हीलर्स की मैन्युफैक्चरिंग
  2. Honor X9b 5G पर बंपर छूट, Rs 18,999 में खरीदें! Amazon पर ऐसे मिलेगी डील
  3. क्रिप्टो मार्केट में गिरावट, बिटकॉइन का प्राइस 61,000 डॉलर से ज्यादा
  4. Vivo V30e स्‍मार्टफोन भारत में 2 मई को होगा लॉन्‍च, मिलेंगे ये तगड़े फीचर्स
  5. Gold Volcano : हर रोज Rs 5 लाख का सोना ‘हवा’ में उड़ा रहा यह ज्‍वालामुखी, जानें पूरी खबर
  6. BrahMos : भारत आज फ‍िलीपीन को देगा ब्रह्मोस मिसाइलों का पहला सेट, जानें इसकी खूबियां
  7. सैटेलाइट इंटरनेट के दिन आ गए! Elon Musk की स्‍टारलिंक को जल्‍द मिल सकती है सरकार से मंजूरी
  8. OnePlus Ace 3 Pro के स्पेसिफिकेशंस, डिजाइन का हुआ खुलासा, जानें क्या होगा खास
  9. Moto E14 में होगी 5000mAh बैटरी, 20W चार्जिंग, TDRA सर्टिफिकेशन में दिखा फोन
  10. लोकसभा चुनाव का बजा बिगुल, Google ने अलग अंदाज में मनाया लोकतंत्र के पर्व का जश्न
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »