थोड़ी सी अमेरिकी मदद के साथ चंद्रयान-2 पूरी तरह देशज अभियान होगा: इसरो

भारत ने चंद्रयान-2 की अपनी महत्वाकांक्षी परियोजना में ‘एकला चलो’ का रूख अपनाते हुए रूस के साथ कोई रिश्ता नहीं रखने का फैसला किया है और इस तरह अमेरिका की ‘‘थोड़ी’’ सी मदद के साथ यह एक देशज परियोजना होगी।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
थोड़ी सी अमेरिकी मदद के साथ चंद्रयान-2 पूरी तरह देशज अभियान होगा: इसरो
भारत ने चंद्रयान-2 की अपनी महत्वाकांक्षी परियोजना में ‘एकला चलो’ का रूख अपनाते हुए रूस के साथ कोई रिश्ता नहीं रखने का फैसला किया है और इस तरह अमेरिका की ‘‘थोड़ी’’ सी मदद के साथ यह एक देशज परियोजना होगी।

इसरो के अध्यक्ष ए. एस. किरण कुमार ने कहा चंद्रयान में देश में बने लैंडर और रोवर होंगे और इसे दिसंबर 2017 या 2018 के पूर्वार्ध में भेजा जाएगा। इस यान में ऐसे उपकरण होंगे जो नमूने जमा करेगा और धरती पर आंकड़े भेजेगा।

चंद्रयान इसरो की तरफ से बाह्य अंतरिक्ष में भेजे जाने वाले अभियानों की एक जारी श्रंखला है।

इसरो अपने पहले चंद्रयान अभियान में चांद पर पानी की एक अहम खोज करने में कामयाब रहा था। भारत ने रूस को इस परियोजना से हटा दिया। अब यह एक देशज परियोजना होगी, अलबत्ता अमेरिका की थोड़ी सी मदद के साथ।

उल्लेखनीय है कि दिसंबर 2010 में भारत ने इस पर सहमति जताई थी कि रूसी अंतरिक्ष एजेंसी रोसकॉसमोस चंद्रयान के लूनर लैंडर के लिए जिम्मेदार होगा जबकि इसरो ऑरबिटर और रोवर के साथ ही साथ जीएसएलवी के माध्यम से उसे प्रक्षेपित भी करेगा। बाद में, कार्यकर्मात्मक विन्यास में परिवर्तन के बाद यह फैसला किया गया कि लूनर लैंडर के विकास का काम भी इसरो करेगा और चंद्रयान-2 पूरी तरह एक भारतीय अभियान होगा।

इसरो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘रूसी लैंडर के साथ कुछ दिक्कतें थीं और उन्होंने कहा था कि उन्हें परीक्षण के लिए कुछ और समय चाहिए। इस बीच, हमने इसे देशज स्तर पर विकास करने का फैसला किया।’’ बहरहाल, देशज होने के बावजूद इसरो परियोजना के लिए नासा की सेवाएं लेगा।

कुमार ने कहा, ‘‘आप एक स्थल से उपग्रह पर निगाह नहीं रख सकते..क्योंकि आपको अन्य स्थलों से समर्थन की जरूरत है। नासा के साथ गठजोड़ चंद्रयान के उद्देश्य से डीप स्पेस नेटवर्क की सेवाओं तक सीमित है। हम इस परियोजना में रूसी मदद का उपयोग नहीं कर रहे हैं।’’ पिछले कुछ साल के दौरान नासा के साथ इसरो का अंतरिक्ष सहयोग बढ़ रहा है। गौरतलब है कि 1974 और 1998 में भारत के परमाणु परीक्षणों के बाद दोनों एजेंसियों के बीच गठबंधन रूक गया था। अब जब दोनों देशों के बीच रिश्ते प्रगाढ़ हो रहे हैं तो दोनों अंतरक्षि एजेंसियों के बीच सहयोग भी बढ़ रहा है।

दोनों एजेंसियों के बीच मंगल परियोजना में भी सहयोग हो रहा है।

उधर, यह बात दीगर है कि चंद्रयान परियोजना पर भारत ने ‘एकला चलो’ का रूख अपनाया है वह दूसरी परियोजनाओं पर रूस के साथ सहयोग कर रहा है।

कुमार ने कहा, ‘‘भविष्य में सेमी-क्रायोजेनिक इंजन के परीक्षण के लिए कुछ सुविधाओं की जरूरत पड़ेगी। इसलिए हम उनके साथ काम करने की संभावनाओं पर अब भी विचार कर रहे हैं। सभी अंतरिक्ष एजेंसियों ने महसूस किया कि जब तक वे एक साथ काम नहीं करेंगे उनके अभियानों के बहुत सारी लागत साझा नहीं की जा सकती है।’’
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. Whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी का असर: 82% भारतीय यूजर्स व्हाट्सएप छोड़ने को तैयार!
  2. Vu Cinema TV Action Series 55LX और 65LX भारत में लॉन्च, जानें कीमत और खासियतें
  3. Airtel Xstream Fiber ब्रॉडबैंड प्लान के साथ अब मिलेगा कॉम्पलिमेंट्री 1Gbps वाई-फाई राउटर
  4. PUBG Mobile के कॉम्पटीटर FAUG के भारत में लॉन्च होने में बचे हैं महज 7 दिन, जानें सबकुछ
  5. Amazon & Flipkart Republic Day Sale: हाथ से जानें न दें स्मार्टफोन्स पर मिल रही ये शानदार डील्स...
  6. Realme X सीरीज़ के तहत भारत में जल्द लॉन्च होगा नया फोन, Realme X7 Pro होने की है संभावना
  7. Whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर बवाल, भारत सरकार ने CEO को लिखा पत्र, वापस लें प्राइवेसी पॉलिसी
  8. PUBG Lite का बीटा वर्जन लॉन्च हुआ भारत में, ऐसे करें डाउनलोड
  9. BSNL Bharat Fiber के चार प्लान्स पर अब मिलेगा 1 साल तक का सब्सक्रिप्शन: रिपोर्ट
  10. PUBG Mobile vs FAU-G : कौन करेगा 2021 में भारत में पहले एंट्री, हुआ कंफर्म!
#ताज़ा ख़बरें
  1. BSNL Bharat Fiber के चार प्लान्स पर अब मिलेगा 1 साल तक का सब्सक्रिप्शन: रिपोर्ट
  2. Mi 11 Pro फोन 120X ज़ूम सपोर्ट के साथ दे सकता है दस्तक
  3. Vivo Y31 स्नैपड्रैगन 662 प्रोसेसर के साथ भारत में लॉन्च, जानें कीमत व अन्य खूबियां
  4. Poco M3 भारत में फरवरी में हो सकता है लॉन्च, इन खूबियों से है लैस
  5. Whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर बवाल, भारत सरकार ने CEO को लिखा पत्र, वापस लें प्राइवेसी पॉलिसी
  6. Motorola Edge S नए स्नैपड्रैगन 870 प्रोसेसर के साथ 26 जनवरी को होगा लॉन्च
  7. Realme X सीरीज़ के तहत भारत में जल्द लॉन्च होगा नया फोन, Realme X7 Pro होने की है संभावना
  8. Samsung Galaxy A52 के क्वाड रियर कैमरा और 3.5mm ऑडियो जैक की मिली झलक!
  9. Tata Sky यूजर्स के लिए खुशखबरी, कैशबैक के साथ जीतें कार
  10. Xiaomi Republic Day सेल में Redmi Note 9 सीरीज़ व Mi Watch Revolve जैसे डिवाइस पर मिल रही जबरदस्त छूट
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
गैजेट्स 360 स्टाफ को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी
 
 
 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com