जियोनी एस6एस का रिव्यू

Gionee S6s Review in Hindi। जियोनी भारत में अपने स्मार्टफोन पोर्टफोलियो को 'बुद्धिमानी' से आगे बढ़ा रही है। कहने का मतलब है कि कुछ दूसरे चीनी हैंडसेट की तरह जियोनी स्मार्टफोन सिर्फ एक प्राइस सेगमेंट तक ही सीमित नहीं है।

जियोनी एस6एस का रिव्यू
ख़ास बातें
  • जियोनी एस6एस की कीमत 17,999 रुपये है
  • इस फोन का सबसे खास फ़ीचर फ्रंट फेसिंग फ्लैश है
  • गैज़ेट्स 360 ने फोन को 10 में से 7 नंबर दिए हैं
विज्ञापन
जियोनी भारत में अपने स्मार्टफोन पोर्टफोलियो को 'बुद्धिमानी' से आगे बढ़ा रही है। कहने का मतलब है कि कुछ दूसरे चीनी हैंडसेट की तरह जियोनी स्मार्टफोन सिर्फ एक प्राइस सेगमेंट तक ही सीमित नहीं है।

कंपनी की 'एस' सीरीज़ में प्रीमियम हैंडसेट आते हैं और हमने इस साल की शुरुआत में जियोनी एस6 की लॉन्चिंग देखी। चीनी कंपनी ने अब जियोनी एस6 का अपग्रेडेड वेरिएंट जियोनी एस6एस लॉन्च किया है। जियोनी का दावा है कि 'सेल्फी फ्लैश' इस स्मार्टफोन की सबसे बड़ी खासियतों में से एक है। जियोनी का दावा है कि उसका लक्ष्य 18 साल से 25 साल के युवा ग्राहक हैं जो नए हैंडसेट के साथ सेल्फी के शौकीन हैं।

लेकिन यूनीबॉडी मेटल से बने शानदार डिज़ाइन वाला जियोनी एस6एस क्या इस कीमत वाले दूसरे स्मार्टफोन को टक्कर दे पाएगा? रिव्यू में जानें।

लुक और डिज़ाइन
यूनिबॉडी डिज़ाइन वाला जियोनी एस6एस हाथों में पकड़ने पर सुविधाजनक महसूस होता है। इसके मेटल के बने किनारे शानदार ग्रिप देते हैं। लेकिन 166 ग्राम वज़न के साथ जियोनी एस6एस अपने साइज़ के हिसाब से थोड़ा भारी है।
 

फोन के अगले हिस्से में 5.5 इंच 2.5डी कर्व्ड डिस्प्ले है जो कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास कोटिंग के साथ आता है। जबकि फोन का रियर मेटल का बना है। फोन में रियर पर किनारे में एक गोल्ड लाइनिंग है जिससे फोन को प्रीमियम लुक मिलता है। जियोनी ने अपने दूसरे स्मार्टफोन की तरह ही बैक, होम और रीसेंट के लिए तीन कैपेसिटिव बटन दिए हैं। फ्रंट कैमरे को एक एलईडी फ्लैश के साथ डिस्प्ले के ऊपर दिया गया है।

फोन के रियर पैनल पर एलईडी फ्लैश के साथ एक रियर कैमरा है। और कैमरे के ठीक नीचे एक फिंगरप्रिंट स्कैनर दिया गया है। जियोनी का नया लोगो फिंगरप्रिंट स्कैनर के नीचे है। कंपनी की ब्रांडिंग के साथ रियर पर नीचे की तरफ स्पीकर ग्रिल है। फोन में दायीं तरफ पैनल पर पावर व वॉल्यूम बटन हैं जबकि बायीं तरफ एक हाइब्रिड सिम स्लॉट है। नीचे की तरफ रेगुलर माइक्रो-यूएसबबी चार्जिंग स्लॉट और एक 3.5 एमएम ऑडियो जैक दिया गया है। 8.15 मिलीमीटर की मोटाई वाला जियोनी एस6एस बाजार में उपलब्ध सबसे स्लिम स्मार्टफोन तो निश्चित तौर पर नहीं है लेकिन इस्तेमाल के दौरान यह असुविधाजनक नहीं लगा।
 

हालांकि हम यह बताना चाहते हैं कि अगर हैंडसेट के रियर से 'जियोनी' ब्रांडिंग को हटा दिया जाए तो एस6एस को आसानी से ओप्पो, हुवावे या लेईको का स्मार्टफोन होने का भ्रम हो सकता था। मेटल यूनीबॉडी डिज़ाइन के साथ आने वाले कई हैंडसेट के रियर पैनल अब हर तरफ से एक से लगने लगे हैं। उदाहरण के लिए, हैंडसेट के ऊपर व नीचे दी गईं लाइनें और गोल फिंगरप्रिंट स्कैनर के अलावा कैमरे की प्लेसमेंट सब एक तरह का ही होता है।

कंपनी ने एस6एस को लाटे गोल्ड और मोचा गोल्ड कलर में भारत लॉन्च किया है। हमें रिव्यू के लिए लाटे गोल्ड यूनिट मिली।

फोन में दिया गया 5.5 इंच फुल एचडी डिस्प्ले शार्प और काफी ब्राइट है। सूरज की रोशनी में एस6एस स्मार्टफोन को भी हम काफी अच्छे से इस्तेमाल कर पाए। हमें इस्तेमाल के दौरा व्यूइंग एंगल से कोई समस्या नहीं हुई। जियोनी एस6एस में एक इन-सेल आईपीएस डिस्प्ले है। फोन पर मूवी देखना और गेम खेलने भी मजेदार अनुभव रहा और इस दौरान हमें कोई परेशानी नहीं हुई।

कुल मिलाकर, जियोनी एस6ए का डिज़ाइन काफी अच्छा है और फोन की बनावट शानदार है। हालांकि, हैंडसेट के किनारों को आसान इस्तेमाल के लिए और ज्यादा गोल किया जा सकता था।

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
जियोनी एस6एस में 5.5 इंच फुल एचडी (1080x1920 पिक्सल) आईपीएस डिस्प्ले है और यह कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास के साथ आता है। कंपनी ने ने एस6एस में 2.5डी कर्व्ड ग्लास दिया गया है। डुअल सिम जियोनी एस6एस कंपनी के एमिगो 3.2 पर चलता है जो एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर चलता है।
 

इस फोन में 1.3 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर मीडियाटेक एमटी6753 प्रोसेसर है। इस फोन में 3 जीबी रैम है। गौर करने वाली बात है कि जियोनी उन ब्रांड में से एक है जो लगतार मीडियाटेक चिपसेट का इस्तेमाल कर रही है।

एस6एस में सोनी आईएमएक्स258 सेंसर, एलईडी फ्लैश और एफ/2.0 के साथ 13 मेगापिक्सल ऑटोफोकस रियर कैमरा दिया गया है। इस फोन में एलईडी फ्लैश के साथ 8 मेगापिक्सल का फिक्स्ड-फोकस फ्रंट फेसिंग कैमरा भी है। फ्रंट कैमरा भी अपर्चर एफ/2.2 अपर्चर और एक 5पी लेंस के साथ आता है। इसके अलावा फ्रंट कैमरे में स्क्रीन फ्लैश सपोर्ट भी है। एस6ए में 32 जीबी इनबिल्ट स्टोरेज है। यह फोन हाइब्रिड डुअल सिम कार्ड स्लॉट के साथ आता है। स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 128 जीबी तक बढ़ाया सकता है।

बात करें कनेक्टिविटी की तो जियोनी एस6एस 4जी वीओएलटीई, वाई-फाई 802.11 ए/बी/जी/एन, ब्लूटूथ 4.0, 3.5 एमएम हेडफोन जैक और माइक्रो-यूएसबी जैसे फ़ीचर दिए गए हैं। इस फोन में 3150 एमएएच की नॉन-रिमूवेबल बैटरी दी गई है। रियर पैनल पर एक फिंगरप्रिंट सेंसर है एस6एस रेगुलर माइक्रो यूएसबी स्लॉट के साथ आता है। जियोनी एस6एस एक डिस्प्ले प्रोटेक्टर फिल्म और एक ट्रांसपेरेंट केस के साथ आता है।
 

जियोनी एस6एस कंपनी के एमिगो 3.2 कस्टम रोम पर चलता है जो एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर आधारित है। एस6एस में कुछ नए विज़ुअल इफेक्ट दिए गए हैं जो पिछले फोन में उपलब्ध नहीं थे। यूज़र अब होम स्क्रीन पर दो नए विकल्प के साथ ऐप को अरेंज कर सकते हैं। क्लीनअप के साथ होम स्क्रन के ऊपर या नीचे की तरफ नए ऐप को हटाया जा सकता है। इसके अलावा अरेंज के साथ यूज़र विभिन्न पैन में ऐप को अरेंज कर सकते हैं।

पहले की तरह ही फोन में कोई ऐप ड्रॉयर नहीं है और सभी ऐप मल्टीपल होम-स्क्रीन पर दिखते हैं। कई चीनी हैंडसेट निर्माताओं ने अपने कस्टम एंड्रॉयड वर्जन को नया रूप दिया है जिससे इन डिवाइस में अप पहले कम ऐप प्री-लोडेड आते हैं। हालांकि, जियोनी के लिए ऐसा नहीं कहा जा सकता क्योंकि एस6एस में कई सारे ऐप पहले से इंस्टॉल आते हैं। इनमें जियोनी ज़ेडर, होटोडे, कंपास, मोबाइल एंटी-थेफ्ट ऐप, जी स्टोर, सिस्टम मैनेजर और मूड वॉलपेपर शामिल हैं। जियोनी एस6एस अपने शैमिलियोन ऐप के साथ आता है जिससे कैमरे का इस्तेमाल कर किसी ऑब्जेक्ट से कोई कलर पिक कर उसे कलर थीम बेस्ड कलर बनाया जा सकता है।
 

जियोनी एस6एस में कई सारे फ़ीचर हैं जैसे कि फेक कॉल्स, सुपर स्क्रीनशॉट टूल, थीम पार्क और एक्सट्रीम बैटरी मोड सेटिंग। इसके अलावा इस फोन में दिए गए दूसरे सॉफ्टवेयर फ़ीचर को जियोनी मैराथन एम5 प्लस (रिव्यू) में भी देखा गया।

जियोनी एस6एस में दिया गया सॉफ्टवेयर निश्चित तौर पर मैराथन एम5 प्लस से बेहतर दिखता है। मैराथन एम5 प्लस एमिगो 3.1 पर चलता है जो एंड्रॉयड 5.1 लॉलीपॉप पर आधारित है। हालांकि, सॉफ्टवेयर में जो सबसे बड़ी परेशानी है वो है पहले से इंस्टॉल आए ऐप जिन्हें हटाया नहीं जा सकता।

परफॉर्मेंस
हमें जियोनी एस6एस में मल्टी टास्किंग के दौरान कोई परेशानी नहीं हुई और ना ही रोजमर्रा के इस्तेमाल के दौरान परफॉर्मेंस से जुड़ी कोई दिक्कत हुई। हमने गौर किया कि जियोनी एस6एस में डेड ट्रिगर 2 खेलने के दौरान कुछ फ्रेम ड्रॉप हुए। इसके अलावा हमें देर तक गेम खेलते समय फोन में गर्माहट भी महसूस हुई लेकिन इस दौरान फोन इस्तेमाल के लिए असुविधाजनक कभी नहीं लगा।
 

जियोनी एस6एस में वॉयस कॉल साफ आती है और हमें इस हैंडसेट में कॉल ड्रॉप की भी दिक्कत नहीं हुई। हमने जियोनी एस6एस में ई-बुक पढ़ने में भी कुछ समय गुज़ारा और हमें डिस्प्ले से कोई समस्या नहीं हुई। 4जी कनेक्टिविटी के दौरान फोन में कोई दिक्कत नहीं हुई, हालांकि हम फोन में वीओएलटीई टेस्ट नहीं कर सके

जियोनी एस6एस परफॉर्मेंस शानदार रही और हम फोन में सबब कुछ चला पाए। बेंचमार्किंग टेस्ट में फोन से ठीकठाक आंकड़े मिले।  
 

हमें फोन में म्यूज़िक ऐप की खास चर्चा करनी पड़ेगी क्योंकि इसमें ढेर सारे ट्वीकिंग विकल्प मौज़ूद हैं। स्पीकर से मिलने वाली ऑडियो क्वालिटी शानदार है और हम बिना परेशानी के लाउड म्यूज़िक चला पाए। देर तक मूवी देखने के हिसाब से स्पीकर बहुत अच्छे नहीं हैं।
 
जियोनी एस6एस में सोनी सेंसर के साथ 13 मेगापिक्सल रियर कैमरा है। और कैमरे से अच्छी डिटेल और सटीक कलर के साथ हमने कुछ अच्छी तस्वीरें ली। हालांकि फोन से ली गई तस्वीरों को ज़ूम और क्रॉप करने पर डिटेलिंग की कमी दिखती है। लेकिन एस6एस से कम रोशनी में ली गई तस्वीरें मैराथन एम5 प्लस से कहीं बेहतर आती हैं।
 

जियोनी एस6एस की सबसे बड़ी खासियत कंपनी ने इसके फ्रंट कैमरे को बताया है। फोन से बेहतरीन सेल्फी सटीक कलर के साथ आती हैं अगर रोशनी अच्छी हो। लेकिन, कम रोशनी में सेल्फी की क्वालिटी भी उतनी बेहतर नहीं होती। जियोनी ने सेल्फी को और ज्यादा बेहतर बनाने के लिए फ्रंट फ्लैश के साथ-साथ वीडियो फ्लैश भी दिया है। लेकिन यह फ्लैश भी बहुत ज्यादा काम नहीं करता।

जियोनी एस6एस का कैमरा ऐप हमें पसंद आया और यह फटाफट लॉन्च हो जाता है। ऐप में हमें किसी तरह की दिक्कत नहीं हुई। इसके अलावा कैमरे में पैनोरमा, स्लो मोशन, मैक्रो, नाइट, टाइम लैप्स, टेक्स्ट रिकगनाइज़ेशन, एचडीआर, प्रोफेशनल, स्मार्ट सीन, अल्ट्रा पिक्सल, मूड फोटो, पिकनोट, जिफ़ और स्मार्ट स्कैन जैसे फ़ीचर हैं। इसके अलावा कैमरा ऐप में सीन मोड, एक्सपोज़र और व्हाइट बैलेंस जैसे दूसरे फ़ीचर भी हैं। रियर कैमरे से 1080 पिक्सल तक वीडियो रिकॉर्ड की जा सकती है।

बैटरी लाइफ
जियोनी एस6एस स्मार्टफोन में 3150 एमएएच की नॉन-रिमूवेबल बैटरी दी गई है। हमारे वीडियो लूप टेस्ट में जियोनी एस6एस की बैटरी 13 घंटे 10 मिनट तकचली जिसे बुरा नहीं कहा जा सकता। एस6एस की बैटरी अपने पिछले स्मार्टफोन एस6 से ज्यादा चलती है।

साधारण इस्तेमाल के दौरान, जियोनी एस6एस एक दिन से ज्यादा चली। एक बार फुल चार्ज करने पर हम फोन को 30 घंटे से ज्यादा चला पाए। फोन को ज़ीरो से 100 प्रतिशत तक चार्ज होने में सिर्फ 2 घंटे लगे। हालांकि, आधिकारिक तौर पर यह फोन फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट नहीं करता।  
 

हमारा फैसला
17,999 रुपये में जियोनी एस6एस ऑल-मेटल डिज़ाइन के साथ शानदार पैकेज है। लेकिन कंपनी इस स्मार्टफोन को बाजार में उपलब्ध सबसे बेहतर सेल्फी के तौर पर बेच रही है और हम कम रोशनी में फोन की परफॉर्मेंस से बहुत ज्यादा प्रभावित नहीं हुए।

इसके अलावा हमें फोन की ओवरऑल परफॉर्मेंस भी पसंद नहीं आई और हमने गंभीर काम करते हुए फोन में गर्माहट और गेमिंग के दौरान फ्रेम ड्रॉप जैसी समस्या महसूस की। जियोनी ए6एस कुल मिलाकर एक ठीकठाक फोन है। फोन में रोजमर्रा के इस्तेमाल के दौरान हमें कोई समस्या नहीं हुई।

बाजार में 15,000 रुपये की कीमत में ढेर सारे फोन मौज़ूद हैं जो उन्हीं स्पेसिफिकेशन के साथ आते हैं जैसे जियोनी एस6एस में दिए गए हैं। हमें देखना है कि जियोनी कैसे बाजार में खुद को स्थापित करेगी। एस6एस की कीमत कम होने से कंपनी को बाजार में इस स्मार्टफोन के लिए कामयाबी दिला सकती है। जियोनी एस6एस का सबस बड़ा फायदा है कि यह बाजार में ऑफलाइन रिटेलर पर आसानी से उपलब्ध है।
  • रिव्यू
  • मुख्य स्पेसिफिकेशन
  • ख़बरें
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Good build quality
  • Decent battery life
  • Good overall performance
  • कमियां
  • No way to delete preinstalled apps
  • Front camera low-light performance could be better
  • Minor performance issues
डिस्प्ले5.50 इंच
प्रोसेसरमीडियाटेक एमटी6735व्यू
फ्रंट कैमरा8-मेगापिक्सल
रियर कैमरा13-मेगापिक्सल
रैम3 जीबी
स्टोरेज32 जीबी
बैटरी क्षमता3150 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड 6.0
रिज़ॉल्यूशन1080x1920 पिक्सल
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

केतन प्रताप Ketan Pratap is the editor at Gadgets 360 - with over 12 years of experience covering the technology domain. With a breadth and depth of knowledge in the field, he's ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. U&I ने भारत में लॉन्च किए 30 घंटे के बैटरी बैकअप वाले 2 वायरलेस नेकबैंड, कीमत 2,499 रुपये
  2. Panasonic ने लॉन्च किए हाई-डेफिनेशन कैमरा और Wi-Fi कनेक्टिविटी वाले 5 नए वीडियो डोर फोन, जानें फीचर्स
  3. Jio Freedom Offer: 15 अगस्त तक 1,000 रुपये का Jio AirFiber ब्रॉडबैंड इंस्टॉलेशन बिल्कुल फ्री!
  4. BSNL को सरकार ने बजट में दिए 82,916 करोड़ रुपये, टेक्नोलॉजी और नेटवर्क होंगे अपग्रेड
  5. iQOO अगले महीने लॉन्च करेगी Z9s और Z9s Pro
  6. गाड़ी चलाते समय नहीं छूटेगा फ्लाइओवर! Google Maps ने पेश कर दिया बड़ा फीचर! जानें पूरी डिटेल
  7. फ्लाइट में मिलेगा हाईस्‍पीड इंटरनेट! Starlink की सर्विस अब 1000 विमानों में शुरू
  8. इस देश ने बनाया पानी से टेक-ऑफ, लैंडिंग करने वाला ड्रोन, तैरना भी जानता है!
  9. Oppo डुअल कैमरा के साथ जल्द लॉन्च कर सकती है A3X 5G
  10. Nothing Phone (2a) Plus होगा Dimensity 7350 Pro, 12GB RAM के साथ लॉन्च, जानें सबकुछ
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »