• होम
  • ऐप्स
  • ख़बरें
  • अब नहीं मिलेगा Amazon Prime का यह सस्ता मंथली सब्सक्रिप्शन, ये है वजह...

अब नहीं मिलेगा Amazon Prime का यह सस्ता मंथली सब्सक्रिप्शन, ये है वजह...

Amazon अब भारत में मंथली प्राइम मेंबरशिप प्रदान नहीं करेगा। नए फैसले के बाद अब ई-कॉमर्स कंपनी केवल तीन महीने और एक साल तक की ही प्राइम मेंबरशिप देने वाली है। बता दें, Amazon Prime सब्सक्रिप्शन की शुरुआती कीमत 129 रुपये प्रति महीना थी।

अब नहीं मिलेगा Amazon Prime का यह सस्ता मंथली सब्सक्रिप्शन, ये है वजह...
ख़ास बातें
  • Amazon Prime के तीन महीने के सब्सक्रिप्शन की कीमत 329 रुपये है
  • अमेज़न प्राइम के सालाना सब्सक्रिप्शन की कीमत 999 रुपये है
  • मंथली सब्सक्रिप्शन की कीमत 129 रुपये प्रति महीना थी
Amazon अब भारत में मंथली प्राइम मेंबरशिप प्रदान नहीं करेगा। नए फैसले के बाद अब ई-कॉमर्स कंपनी केवल तीन महीने और एक साल तक की ही प्राइम मेंबरशिप देने वाली है। बता दें, Amazon Prime सब्सक्रिप्शन की शुरुआती कीमत 129 रुपये प्रति महीना थी, लेकिन अब इस शुरुआती पैक को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के नए आदेश के बाद बंद कर दिया गया है। गौरतलब है कि आरबीआई के अपने नए दिशानिर्देश में बैंकों और वित्तीय संस्थानों को रिकरिंग ऑनलाइन ट्रांसजेक्शन की प्रक्रिया के लिए Additional Factor of Authentication (AFA) को लागू करने का आदेश दिया है। इस नए आदेश को लागू करने की डेडलाइन 30 सितंबर है।

Amazon ने अपना सपोर्ट पेज भी अपडेट कर दिया है, जिसमें Amazon Prime का मंथली सब्सक्रिप्शन मौजूद नहीं है। इसके अतिरिक्त, 27 अप्रैल से अमेज़न ने अमेज़न प्राइम फ्री ट्रायल के लिए न्यू मेंबर साइन-अप को भी अस्थाई रूप से बंद कर रखा है। फिलहाल, यदि कोई यूज़र अमेज़न प्राइम मेंबरशिप खरीदना चाहेगा या रिन्यू कराना चाहेगा, तो उसके पास केवल तीन महीने या फिर सालाना सब्सक्रिप्शन लेने का ही विकल्प होगा। आपको बता दें, अमेज़न प्राइम के तीन महीने वाले सब्सक्रिप्शन की कीमत 329 रुपये है, जबकि इसका सालाना सब्सक्रिप्शन आपको 999 रुपये में प्राप्त होता है।

गौरतलब है कि आरबीआई के इस नए फ्रेमवर्क की घोषणा अगस्त 2019 में ही कर दी गई थी, लेकिन बाद में बैंकों और वित्तीय संस्थानों के लिए यह डेडलाइन इस साल 30 सितंबर तक बढ़ा दी गई थी। डेडलाइन में विस्तार करते हुए कहा गया था कि यह फैसल ग्राहकों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसे ध्यान में रखकर लिया गया है।

शुरुआत में RBI ने साल 2019 में 2 हजार रुपये तक के रिकरिंग ट्रांजेक्शन के लिए AFA को तैनात करने की रूपरेखा जारी की थी। हालांकि, पिछले साल दिसंबर तक यह नियम 5,000 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन की सीमा तक बढ़ा दिया गया था। इस कट-ऑफ से ऊपर के ट्रांसजेक्शन पर वन-टाइम पासवर्ड (OTP) की जरूरत पड़ेगी।
 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

तसनीम अकोलावाला Tasneem Akolawala is a Senior Reporter for Gadgets 360. Her reporting expertise encompasses smartphones, wearables, apps, social media, and the overall tech industry. She ... और भी »
पढ़ें: English
Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. 2022 के अंत तक लगभग 1.85 करोड़ रुपये होगी Bitcoin की कीमत!
  2. Battlegrounds Mobile India टेस्टिंग के लिए हुआ उपलब्ध
  3. Dell Inspiron 14 2-In-1, Inspiron 15, Inspiron 13 लैपटॉप भारत में लॉन्च, जानें कीमत और खूबियां
  4. 32MP कैमरा के साथ Vivo V21e 5G हो सकता है लॉन्च, स्पेसिपिकेशन और पोस्टर लीक
  5. एक्ट्रेस Swara Bhaskar और Twitter India के एमडी के खिलाफ दिल्ली पुलिस में शिकायत
  6. लॉन्च से पहले बैन नहीं हो सकता Battlegrounds Mobile India, सरकार ने दिया RTI का जवाब
  7. Realme Narzo 30 5G, Realme Narzo 30 और 32-Inch Realme Smart TV भारत में 24 जून को होंगे लॉन्च
  8. Airtel के बाद Jio ने मुंबई में शुरू किए 5G ट्रायल, 24 जून को होंगी बड़ी घोषणाएं
  9. Lenovo K13 Pro और Lenovo K13 Note गूगल प्ले कंसोल पर लिस्ट, स्पेसिफिकेशन लीक!
  10. Samsung Galaxy Tab A7 Lite और Galaxy Tab S7 FE टैबलेट की कीमत लीक, 18 जून को होंगे लॉन्च
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
तसनीम अकोलावाला को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी
 
 
 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com