इंसान को किचन से भी बाहर कर देंगे रोबोट! बनेंगे शेफ

रिसर्चर्स का कहना है कि इंसान के खाना चबाने और चखने की प्रोसेस की नकल करके एक दिन रोबोट ऐसा भोजन बनाने में काबिल हो सकते हैं जिसे लोग पसंद करेंगे।

इंसान को किचन से भी बाहर कर देंगे रोबोट! बनेंगे शेफ

रोबोट ऐसा खाना बना सकेंगे, जिसे हर व्‍यक्ति की जरूरत के हिसाब से मॉडिफाई किया जा सकता है।

ख़ास बातें
  • कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स ऐसा रोबोट डिवेलप कर रहे हैं
  • वो रोबोट ‘शेफ’ को खाने का स्‍वाद लेने की ट्रेनिंग दे रहे हैं
  • भविष्‍य में ऐसे रोबोट हकीकत बन सकते हैं
विज्ञापन
क्‍या किचन शेफ की जगह अब रोबोट लेने वाले हैं? कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स की कोशिश को देखकर तो ऐसा ही लगता है। ये एक रोबोट ‘शेफ' को खाने का स्‍वाद लेने और यह तय करने की ट्रेनिंग दे रहे हैं कि खाने को पर्याप्‍त रूप से पकाया गया है, जैसे इंसान पकाते हैं। इससे जुड़ा एक वीडियो भी शेयर किया गया है। इसमें रोबोट को अंडे और टमाटर की एक प्‍लेट को टेस्‍ट करते हुए देखा जा सकता है। वह टेस्‍ट को ग्रेडिंग देता हुआ भी नजर आता है। 

वीडियो देखकर पहली बार में यह समझ नहीं आता कि आखिर रोबोट कर क्‍या रहा है। फ‍िर ध्‍यान देने पर पता चलता है कि वह खाने को चबा रहा है, लेकिन यह प्रक्रिया प्‍लेट में ही पूरी की जा रही है। रोबोट तीन अलग-अलग चरणों में 9 किस्‍मों के तले हुए अंडे और टमाटर को टेस्‍ट करता है। इसके निष्‍कर्ष रोबोट द्वारा ऑटोमेटेड भोजन तैयार करने में अहम कड़ी साबित हो सकते हैं। मुमकिन है कि आने वाले वक्‍त में रोबोट ही खाना बनाने लगें। साथ ही वह टेस्‍ट को भी परख पाएंगे।  

ये निष्कर्ष, फ्रंटियर्स इन रोबोटिक्स एंड AI जर्नल में प्रकाशित हुए हैं।

रिसर्चर्स का कहना है कि इंसान के खाना चबाने और चखने की प्रोसेस की नकल करके एक दिन रोबोट ऐसा भोजन बनाने में काबिल हो सकते हैं जिसे लोग पसंद करेंगे। वो ऐसा खाना बना सकेंगे, जिसे हर व्‍यक्ति की जरूरत के हिसाब से मॉडिफाई किया जा सकता है। 

पेपर के पहले लेखक कैम्ब्रिज के इंजीनियरिंग विभाग के ग्रेजेगोर्ज़ सोचैकी ने कहा कि रोबोट के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वे जो खाना बना रहे हैं उसका स्वाद लेने में सक्षम हों। रिसर्चर्स ने पाया है कि इंसानी शेफ के नजरिए को समझकर रोबोट की कैपिस‍िटी में बढ़ोतरी हुई है। इंजीनियरिंग विभाग और पेपर के को-ऑथर डॉ आर्सेन अब्दुलाली ने कहा कि खाना चबाने के काम के दौरान इंसान का दिमाग लगातार प्रतिक्रिया देता है। अब्दुलाली ने कहा कि उनका इरादा रोबोटिक सिस्टम में चबाने और चखने की प्रक्रिया की नकल करना है, जिससे एक स्वादिष्ट प्रोडक्‍ट तैयार हो सके। 

बेहतर नतीजे पाने के लिए रिसर्चर्स ने हरेक डिश में अलग-अलग मात्रा में टमाटर मिलाए। नमक की मात्रा भी कम-ज्‍यादा की। रोबोट ने इन्‍हें एक पैटर्न में टेस्‍ट किया और कुछ ही सेकंड में रीडिंग तैयार कर ली। बाद में रिसर्चर्स ने सभी डिशों को एकसाथ मिला दिया और रोबोट को टेस्‍ट करने के लिए दिया। रोबोट ने फ‍िर से उनकी रीडिंग तैयार कर ली। रिसर्चर्स के निष्‍कर्ष बताते हैं कि खाने में नमक टेस्‍ट करने के लिए जो इलेक्ट्रॉनिक तरीके आजमाए जाते हैं, उनके मुकाबले रोबोट यह आकलन करने में कहीं बेहतर थे। रिसर्चर्स को रोबोट शेफ में और सुधार की उम्‍मीद है, ताकि वह ना सिर्फ नमकीन बल्कि मीठा खान भी टेस्‍ट कर सकें। 
 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: Robot, robot chefs, Robot Chef, Cambridge University, Research
गैजेट्स 360 स्टाफ The resident bot. If you email me, a human will respond. और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. 60 किलोमीटर रेंज के साथ Xiaomi Electric Scooter 4 Pro Max हुआ लॉन्च, जानें फीचर्स
  2. Ulefone Armor 23 Ultra स्मार्टफोन सैटेलाइट कनेक्टिविटी के साथ MWC 2024 में हुआ पेश
  3. Cult Active TR लॉन्च हुई 1.52" डिस्प्ले, 7 दिन बैटरी लाइफ के साथ, जानें स्मार्टवॉच की कीमत
  4. टैटू बनवाने वाले सावधान! सेहत को हो सकता है नुकसान
  5. Realme 12 5G, 12+ 5G की कीमत लीक, 8GB रैम, 5000mAh बैटरी के साथ 6 मार्च को होंगे लॉन्च
  6. TVS Motor की सेल्स 33 प्रतिशत बढ़कर 3.68 लाख यूनिट्स से ज्यादा
  7. Samsung की Galaxy S25 सीरीज में हो सकता है Exynos चिप
  8. Cognizant के कर्मचारियों को हफ्ते में 3 दिन आना होगा ऑफिस, कंपनी ने लॉन्च किया एक स्पेशल ऐप
  9. Google भी चला Apple की राह! स्मार्टफोन यूजर्स के लिए रिलीज हो सकता है नया 'Satellite SOS' फीचर
  10. Apple पर लगा 2 अरब डॉलर का जुर्माना, ऐप स्टोर के गलत इस्तेमाल का आरोप
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »