सावधान! अपने Google Chrome को तुरंत करें अपडेट, सरकार ने जारी की चेतावनी

यूजर्स अपने सिस्टम को सुरक्षित रखने के लिए कोई पॉपुलर या विश्वसनीय एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग भी कर सकते हैं। इसके अलावा, मौजूदा सॉफ्टवेयर को अपडेट रखना भी समझदारी होगी।

सावधान! अपने Google Chrome को तुरंत करें अपडेट, सरकार ने जारी की चेतावनी
ख़ास बातें
  • CERT-In की यूजर्स को Google Chrome OS को तुरंत अपडेट करने की सलाह
  • ब्राउज करते समय सतर्क रहने का भी सुझाव भी दिया है
  • यूजर्स को ब्राउजर को 114.0.5735.350 या नए वर्जन में अपडेट करना चाहिए
विज्ञापन
भारत की साइबर सुरक्षा एजेंसी CERT-In ने Google Chrome OS के पुराने वर्जन में संभावित खतरों के बारे में चेतावनी जारी की है। उनका कहना है कि खामियों को दूर करने के लिए और भविष्य में किसी खतरे से बचाव के लिए यूजर्स को अपने ब्राउजर को 114.0.5735.350 या नए वर्जन में अपडेट करना चाहिए। ये कमजोरियां रिमोट अटैकर्स को हानिकारक कोड एग्जिक्यूट करने, रूट प्रिवलेज प्राप्त करने, सिक्योरिटी सॉल्यूशन को बायपास करने या प्रभावित सिस्टम पर सर्विस को बाधित करने की अनुमति दे सकती हैं।

समस्याएं मुख्य रूप से साइड पैनल सर्च फीचर की खामी और एक्सटेंशन में अपर्याप्त डेटा वैरिफिकेशन से पैदा होती हैं। अटैकर यूजर्स को किसी खास वेबसाइट पर जाने के लिए प्रेरित करके कमजोरियों को सक्रिय कर सकता है और इन कमजोरियों का फायदा उठा सकता है। 

सुरक्षित रहने के लिए, CERT-In यूजर्स को अपने Google Chrome OS को तुरंत अपडेट करने की सलाह दे रहा है। इतना ही नहीं, विभाग ने ब्राउज करते समय सतर्क रहने का भी सुझाव दिया है, खासकर अपरिचित या संदिग्ध वेबसाइटों पर जाने के लिए अविश्वसनीय सोर्स के लिंक पर क्लिक ना करने या अनचाहे ईमेल और मैसेज का जवाब ना देने की भी सलाह दी है। 

यूजर्स अपने सिस्टम को सुरक्षित रखने के लिए कोई पॉपुलर या विश्वसनीय एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग भी कर सकते हैं। इसके अलावा, मौजूदा सॉफ्टवेयर को अपडेट रखना भी समझदारी होगी।

CERT-In वर्तमान में 15 फरवरी, 2024 तक "Cyber Swachhta Fortnight" चला रहा है, जिसमें एंड- यूजर सिस्टम के लिए खतरा पैदा करने वाले बॉटनेट से साइबरस्पेस को सुरक्षित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया है। इस पहल के हिस्से के रूप में, उन्होंने eScan के सहयोग से 'साइबर स्वच्छता केंद्र' (CSK) की शुरुआत की है। 

ईस्कैन बॉटनेट स्कैनिंग और क्लीनिंग टूलकिट लैपटॉप, डेस्कटॉप और स्मार्टफोन के लिए उपलब्ध है। यह टूलकिट यूजर्स को अपने डिवाइस को स्कैन करने और साफ करने, बॉटनेट संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा को मजबूत करने और पूरे डिजिटल सेफ्टी में योगदान करने का अधिकार देता है।
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

नितेश पपनोई Nitesh has almost seven years of experience in news writing and reviewing tech products like smartphones, headphones, and smartwatches. At Gadgets 360, he is covering all ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Realme Narzo 70 Pro 5G में होगा सर्कुलर शेप वाला कैमरा
  2. Vivo के  X100s में मिल सकता है MediaTek का पावरफुल चिपसेट Dimensity 9300+
  3. 2024 Bajaj Pulsar NS160 और NS200 हुए भारत में लॉन्च, जानें कीमत और बदलाव
  4. Samsung Galaxy A55 की कीमत, स्पेसिफिकेशन्स के साथ लॉन्च डेट भी हुई लीक
  5. MWC 2024: Samsung Galaxy Ring से लेकर Xiaomi 14 Ultra, Tecno Pova 6 Pro, Honor Magic 6 सीरीज और Lenovo ट्रांसपेरेंट लैपटॉप हुए पेश
  6. रिलायंस जियो और Qualcomm की एंट्री-लेवल 5G स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी!
  7. Nothing Phone 2a के डिजाइन का खुलासा, 5 मार्च को होगा लॉन्च
  8. सिर्फ 299 रुपये में डेली 2GB डाटा, अनलिमिटेड कॉलिंग और पूरे महीने मिलेंगे गजब के फायदे
  9. Big Breaking : ‘गगनयान’ मिशन में उड़ान भरेंगे ये 4 अंतरिक्ष यात्री, PM मोदी ने किया ऐलान
  10. बिटकॉइन ने बनाया 2 वर्ष का हाई, प्राइस 57,000 डॉलर तक पहुंचा
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »