Cryptocurrency पर बोले Elon Musk इसे नष्ट नहीं कर सकती कोई सरकार!

अमेरिका के लॉस एंजिल्स के बेवर्ली हिल्स में "Code 2021" कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते समय मस्क ने दिया मैसेज।

Cryptocurrency पर बोले Elon Musk इसे नष्ट नहीं कर सकती कोई सरकार!

एलन मस्क का मानना ​​​​है कि क्रिप्टोकरेंसी भविष्य में भी बनी रहेगी।

ख़ास बातें
  • Tesla के सीईओ एलन मस्क ने दुनिया भर की सरकारों को दिया मैसेज।
  • मस्क ने कहा- डिजिटल एसेट्स को मिटाया नहीं जा सकता है।
  • बिटकॉइन माइनिंग के कारण पर्यावरण पर दुष्प्रभाव को लेकर बढ़ी चिंताएँ।
Tesla के सीईओ एलन मस्क ने दुनिया भर की सरकारों को एक मैसेज के द्वारा कहा कि क्रिप्टोकरेंसी की एडवांसमेंट को धीमा किया जा सकता है, लेकिन इन डिजिटल एसेट्स को मिटाया नहीं जा सकता है। उन्होंने कथित तौर पर अमेरिकी सरकार को क्रिप्टो-स्पेस को रेगुलेट करने के बारे में "कुछ नहीं" करने की सलाह दी, यदि उनका लक्ष्य क्रिप्टो-विस्तार को रोकना है। 50 वर्षीय मल्टी बिलिनियर का बयान तब आया जब वह अमेरिका के लॉस एंजिल्स के बेवर्ली हिल्स क्षेत्र में "Code 2021" कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे।

"मुझे लगता है कि सेंट्रलाइज्ड गवर्नमेंट की पावर क्रिप्टोकरेंसी के रहते कम हो सकती है जिसे वे पसंद नहीं कर रहे हैं।" समाचार पोर्टल decrypt.co ने बुधवार 29 सितंबर को मस्क के हवाले से लिखा। "मुझे लगता है, क्रिप्टो को मिटाना संभव नहीं है, लेकिन सरकारों के लिए इसकी एडवान्समेंट को धीमा करना संभव है"।

दुनिया के सबसे ज्यादा आबादी वाले देश चीन ने कुछ दिन पहले ही क्रिप्टोकरेंसी की माइनिंग और ट्रेड पर पूरी तरह से बैन लगा दिया है और अब मस्क का यह बयान उसके बाद आया है। चीन के प्रतिबंध के बाद, इस सप्ताह क्रिप्टो बाजार में बड़े उतार-चढ़ाव देखे गए, बिटकॉइन और ईथर जैसे अत्यधिक वैल्यू वाले टोकनों की कीमतों में बढ़ोत्तरी से ज्यादा गिरावट देखी गई। 

टेस्ला के सीईओ, जो EV निर्माता टेस्ला के अलावा स्पेस कंपनी SpaceX के भी हेड हैं, ने कथित तौर पर कहा, "इसका एक भाग वास्तव में चीन के कई हिस्सों में बिजली की कमी के कारण हो सकता है। दक्षिण चीन के बहुत सारे हिस्से में अभी रैंडम पावर कट की स्थिति चल रही है क्योंकि बिजली की मांग इसकी सप्लाई से अधिक है। क्रिप्टो माइनिंग का इसमें रोल हो सकता है।” 

2019 में, वैज्ञानिक पत्रिका Joule द्वारा एक स्टडी में कहा गया है कि निकट भविष्य में बिटकॉइन के प्रोडक्शन से पैदा होने वाली कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा 22 से 22.9 मिलियन मीट्रिक टन हो सकती है।
बिटकॉइन माइनिंग का पर्यावरण पर जो प्रभाव पड़ रहा है उसने दुनिया भर में चिंताएँ बढ़ा दी हैं। वहीं दूसरी ओर जब चीन और रूस जैसे देशों ने क्रिप्टो स्पेस को अवैध करार दे दिया है, अल सल्वाडोर और मियामी जैसे अन्य क्षेत्रों, अमेरिका में फ्लोरिडा, क्रिप्टो माइनिंग की सुविधा के लिए क्लीन एनर्जी का माध्यम तलाशने की कोशिश कर रहे हैं।

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. Crypto बैन फैसले की वापसी का मार्केट पर दिखा असर, Bitcoin, Ether समेत सभी कॉइन उछले
  2. Rs 75 में BSNL दे रहा 50 दिन की वैलिडिटी के साथ डाटा और कॉलिंग बेनेफिट्स
  3. ढे़रों नए फीचर के साथ आया Truecaller 12, जानें अपडेट की सभी खासियतें
  4. Tether: इस क्रिप्टोकरेंसी में क्या अच्छा है, क्या बुरा और क्या हो सकता है इसका भविष्य?
  5. Dogecoin इन्वेस्टर्स को Elon Musk की सलाह, क्रिप्टो एसेट्स की कस्टडी रखें अपने पास
  6. सिंगल चार्ज में 1000 km की रेंज देगी यह इलेक्ट्रिक कार, देखें इसका डिज़ाइन
  7. Regal Cinemas में मूवी टिकट्स के लिए क्रिप्टोकरंसीज से की जा सकेगी पेमेंट
  8. Vi के इन 3 रीचार्ज प्लान में अब नहीं मिलेगा डेली 4GB डाटा, जानें सभी बदलाव...
  9. 1024GB स्टोरेज, 18GB रैम वाला फोन ZTE Axon 30 Ultra Aerospace Edition लॉन्च, जानें कीमत
  10. Airtel के इन 4 रीचार्ज पर मिलेगा रोज़ाना 500MB फ्री डाटा, कीमत 265 रुपये से शुरू...
#ताज़ा ख़बरें
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com