Dogecoin के बाद मीमकॉइन्स की है बाढ़, जानें कौन से नए कॉइन्स हैं शामिल

DOGE की सफलता से प्रेरित होकर अब क्रिप्टो जगत में बहुत सारे ऐसे ही मीम कॉइन आ गए हैं जो निवेशकों का ध्यान अपनी ओर खींच रहे हैं।

Dogecoin के बाद मीमकॉइन्स की है बाढ़, जानें कौन से नए कॉइन्स हैं शामिल

मीम कॉइन की लिस्ट में डॉजकॉइन के बाद में सबसे पहले शिबा इनु का नाम आता है।

ख़ास बातें
  • किशु इनु DOGE जैसे नए altcoins में से एक है।
  • शीबा इनु ने 2020 में इथेरियम ब्लॉकचेन के तहत लॉन्च किया।
  • Husky कॉइन भी एलन मस्क और डॉजकॉइन से ही जुड़ा है।
विज्ञापन
Dogecoin वास्तव में उन लोगों के लिए एक मजाक के तौर पर बनाया गया था जिनमें क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कुछ ज्यादा ही क्रेज था। इसका नाम शीबा इनु कुत्ते के चेहरे की विशेषता वाले एक पॉपुलर मीम से लिया गया था। 2013 में बनाए गए इस क्रिप्टो-एसेट ने वास्तव में नए altcoins के सागर के बीच उड़ान नहीं भरी, लेकिन 2020 में मुख्य रूप से मशहूर हस्तियों और एंत्रप्रीन्योर जैसे कि टेस्ला के सीईओ एलन मस्क, डलास मावेरिक्स के मालिक मार्क क्यूबन और यहां तक ​​​​कि रैपर स्नूप डोग के सपोर्ट के कारण यह पॉपुलर कॉइन्स की लिस्ट में शामिल हो गया। 

DOGE की इस सक्सेस से प्रेरित होकर अब क्रिप्टो जगत में बहुत सारे ऐसे ही मीम कॉइन आ गए हैं जो निवेशकों का ध्यान अपनी ओर खींच रहे हैं। फिलहाल इस लिस्ट में सबसे आगे Shiba Inu या SHIB का नाम है। इसे जापानी डॉग की उसी ब्रीड के एक कुत्ते के नाम पर बनाया गया है जिस ब्रीड से Dogecoin जुड़ा हुआ है। मगर इसके अलावा और भी बहुत से कॉइन हैं जो भीड़ से हटकर लोगों का ध्यान खींचने में लगे हुए हैं। 

सबसे पहले Shiba Inu से ही शुरू करते हैं और जानते हैं कि यह कैसे और कहां से अस्तित्व में आया। उसके बाद और भी कई सारे कॉइन्स हैं जिनके बारे में अभी बहुत ज्यादा चर्चा नहीं होती है।  
 

Shiba Inu (SHIB)

शीबा इनु ने 2020 में इथेरियम ब्लॉकचेन के ईआरसी -20 स्टैंडर्ड के तहत अपना लॉन्च किया और यह डीसेंट्रेलाइज्ड Uniswap नेटवर्क पर ट्रेड करता है। इसे एक गुमनाम फाउंडर के द्वारा बनाया गया था जिसे "रयोशी" कहा जाता है। कॉइन को अब "डॉजकॉइन किलर" के नाम से भी जाना जाता है। CoinMarketCap के अनुसार वर्तमान में SHIB में 394,796 बिलियन की सर्कुलेटिंग सप्लाई है और निश्चित रूप से यह डॉजकॉइन के बाद मीमकॉइन में सबसे फेमस है।
 

Kishu Inu (KISHU)

किशु इनु DOGE जैसे नए altcoins में से एक है। अप्रैल 2021 में लॉन्च किया गया यह "पूरी तरह से डिसेंट्रलाइज्ड कॉइन है। यह प्रोजेक्ट यूजर्स के लिए इंस्टेंट रिवॉर्ड्स देता है। KISHU होल्डर्स को नेटवर्क में प्रत्येक ट्रांजेक्शन का 2 प्रतिशत प्राप्त होगा। यह अप्रोच गारंटी देती है कि यूजर जितना अधिक एक्टिवली किशू टोकन का इस्तेमाल करते हैं, उतने ही अधिक रिवार्ड्स पाते हैं। इसका प्लैटफ़ॉर्म एक Uniswap पावर्ड डीसेंट्रेलाइज्ड एक्सचेंज (KISHU Swap) उपलब्ध करवाता है, जो टोकन होल्डर्स के बीच किसी भी ERC20 टोकन की अदला-बदली की सुविधा मुहैया करवाती है।
 

UnderDog (DOG)

DOGE नाम से मशहूर अन्य कॉइन्स की तरह ही ये भी DOGE नाम से प्रेरित है। यह क्रिप्टो कॉइन कम्यूनिटी आधारित प्रोजेक्ट है जो एक स्पेशल बर्न एंड रिवॉर्ड मैकेनिज्म पर काम करता है। 
इसका मतलब है कि UnderDog चेन में होने वाले प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर 5 प्रतिशत की फीस लगती है जिसमें 4 प्रतिशत का रिवॉर्ड बनता है जो सभी होल्डर्स को जाता है। जबकि 1 प्रतिशत बर्न के लिए चला जाता है। यह PancakeSwap पर ट्रेड करता है और इसके कॉइन्स की अधिकतम सप्लाई 1 बिलियन कॉइन है। 
 

Floki Inu (FLOKI)

Floki Inu कॉइन एलन मस्क के शीबा इनु-नस्ल के पालतू जानवर से सीधे प्रेरित एक altcoin है, जिसका नाम "'फ्लोकी" है। क्रिप्टो-एसेट की वेबसाइट का दावा है कि यह कॉइन फैन्स और शिबा इनु कम्यूनिटी के मेंबर्स द्वारा बनाया गया था। वेबसाइट में लिखा है: "फ्लोकी इनु #DogeFather Elon Musk के अपने शीबा इनु से प्रेरित है।"
डिजिटल कॉइन का प्लैटफॉर्म भी "#DogeFather के भाई किम्बल मस्क के Million Garden's Movement के साथ पार्टनरशिप करने वाला एकमात्र क्रिप्टोकरेंसी प्रोजेक्ट होने का दावा करता है।
 

Husky Coin (HUSKY)

नए DOGE-प्रेरित कॉइन्स में से एक, Husky कॉइन की जड़ें भी एलन मस्क और डॉजकॉइन से ही जुड़ी हैं। असल में इस प्रोजेक्ट की वेबसाइट पर भी लिखा है कि हस्की "डॉजकॉइन का छोटा भाई" है।
यह भी मीम आधारित खोज है। इसे डिसेंट्रलाइज्ड कम्यूनिटी ने एक एक्सपेरिमेंट के तौर पर शुरू किया था। इसका मतलब यह है कि इसका न तो कोई फाउंडर है और न ही इसकी कोई टीम है। डेवलेपर्स ने इसके सप्लाई के 45 प्रतिशत हिस्से को Uniswap के लिए और 5 प्रतिशत को टीम टोकन के लिए लॉक कर दिया। बचा हुआ 50 प्रतिशत हिस्सा Ethereum के को-फाउंडर Vitalik Buterin के पास है। 
 

Doge Token (DOGET)

अक्सर Doge Token कॉइन को Dogecoin समझ लिया जाता है। मगर यह Dogecoin का कज़िन है जो डॉजकॉइ से ज्यादा इकोफ्रेंडली है। यह Stellar पर रन करता है और अधिक तेज ट्रांजेक्शन स्पीड देता है। इसके प्रत्येक ट्रांजेक्शन की लागत भी काफी कम है और ट्रांजेक्शन में सुरक्षा से भी कोई समझौता नहीं किया जाता है। 
 

Doge Killer (LEASH)

Doge Killer एक और फेमस डॉजकॉइन क्लोन है जिसने सितंबर 2021 में काफी ग्रोथ की। यह इथेरियम ब्लॉकचेन पर काम करता है। इस कॉइन की असली अपील इसकी सप्लाई में कमी है क्योंकि इसमें 1,07,647 कॉइन की बहुत थोड़ी सप्लाई है, जो इसे बहुत ज्यादा स्टेबल भी बनाती है।
इसे मुट्ठी भर व्हेल अकाउंट्स के लिए जाना जाता है जो मार्केट प्राइस को काफी ज्यादा प्रभावित करने का दम रखते हैं।
 

DogeFi (DOGEFI)

यह दूसरे कम्यूनिटी आधारित altcoins से थोड़ा अलग है। DOGEFI एक गेमीफाइड कम्यूनिटी है जो अपने मेंबर्स के लिए स्पेशल यील्ड फार्मिंग (खास उपज कृषि) प्रोजेक्ट्स तक एक्सेस देती है। DogeFi के पास 1,000,000 कॉइन्स की सर्कुलेटिंग सप्लाई है और Cointiger पर इसका ट्रेड किया जा सकता है।

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े:
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. क्‍या है एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल? सेना ने 17 हजार फीट की ऊंचाई पर किया ट्रायल
  2. Electric Scooter Price Hike: Bajaj, TVS, Ather और Hero Vida के ई-स्कूटर हुए महंगे, 15 अप्रैल से Ola भी बढ़ाएगा कीमत
  3. MI Vs CSK Live: मुंबई इंडियंस Vs चेन्नई सुपर किंग्स का IPL मैच कुछ देर में, देखें फ्री!
  4. Black Shark Ring सिंगल चार्ज में चलेगी 180 दिन! टीजर आउट
  5. WhatsApp में AI की एंट्री, मिलेगा हर सवाल का जवाब! ऐसे करें इस्तेमाल
  6. LSG Vs KKR Live: लखनऊ और कोलकाता के बीच IPL मैच कुछ ही देर में, यहां देखें फ्री!
  7. आ..छी..! बेबी तारों को भी आती है ‘छींक’, नई रिसर्च में वैज्ञानिकों ने किया दावा
  8. Poco F6 होगा रीब्रांडेड Redmi Turbo 3, भारत में सबसे पहले होगा लॉन्च! यहां हुआ खुलासा
  9. 84 दिनों तक 126GB डेटा, अनलिमिटिड 5G, कॉलिंग, Free Apps वाला Airtel का धांसू प्लान!
  10. 33 देशों में 30 हजार कर्मचारियों वाली यह कंपनी दे रही फुल टाइम वर्क फ्रॉम होम!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »