सरकार की इस Apple डिवाइस को लेकर गंभीर चेतावनी, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे यूज?

जवाब में, Apple ने Vision Pro डिवाइस के लिए एक अहम सॉफ्टवेयर अपडेट जारी किया है। CERT-In सभी यूजर्स को इन खामियों को कम या खत्म करने के लिए इस अपडेट को तुरंत इंस्टॉल करने की सलाह देता है।

सरकार की इस Apple डिवाइस को लेकर गंभीर चेतावनी, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे यूज?
ख़ास बातें
  • CERT-In ने पब्लिक एडवाइजरी जारी की है
  • Vision Pro के VisionOS वर्जन पर कुछ खामियों के बारे में चिंता जताई
  • इन खामियों का अटैकर्स फायदा उठा सकते हैं
विज्ञापन
CERT-In ने Apple Vision Pro के लिए एक चेतावनी जारी की है। डिवाइस कंपनी के VisionOS पर चलता है, जिसमें सरकारी एजेंसी के अनुसार, कुछ खामियां पाई गई है। चेतावनी का लेवल गंभीर है, जिसे लेकर Apple ने भी तुरंत कदम उठाया। Apple के अनुसार, इस खामी को अपडेट के जरिए फिक्स कर दिया गया है। CERT-In के अनुसार, ये खामियां बड़ा सिक्योरिटी जोखिम पैदा करती हैं, जिसका फायदा उठाकर अटैकर्स यूजर्स के डेटा को चुरा सकते हैं और यहां तक की डिवाइस पर रिमोटली कंट्रोल कर सकते हैं।

CERT-In ने पब्लिक एडवाइजरी जारी की है, जिसमें Vision Pro डिवाइस पर चल रहे एक VisionOS वर्जन पर कुछ खामियों के बारे में चिंता जताई गई है। सरकारी एजेंसी का कहना है कि इन खामियों का अटैकर्स फायदा उठा सकते हैं। एडवाइजरी में बताया गया है कि खामियों के जरिए सबसे पहले अटैकर्स कर्नेल प्रिविलेज के साथ अपना मनमाना कोड डाल सकते हैं, जिससे डिवाइस में मौजूद सिक्योरिटी सिस्टम को बायपास किया जा सकता है। इस तरह हैकर्स सिस्टम पर फुल कंट्रोल हासिल कर सकते हैं। यदि ऐसा होता है तो हैकर्स डिवाइस पर रिमोटली दुर्भावनापूर्ण सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कर सकते हैं या सिस्टम सेटिंग्स में छेड़-छाड़ कर यूजर डेटा को चुरा सकते हैं।
 
CERT-In की Apple Vision Pro को लेकर आधिकारिक चेतावनी

CERT-In की Apple Vision Pro को लेकर आधिकारिक चेतावनी
Photo Credit: CERT-In


Apple के Vision Pro में ये खामियां यूजर को उनके डिवाइस का उपयोग करने के तरीके के आधार पर अनधिकृत प्रोफाइलिंग की अनुमति दे सकती हैं। यह यूजर की प्राइवेसी का उल्लंघन करता है और पर्सनल डेटा की सुरक्षा को लेकर चिंता पैदा करता है। खामियों के कारण डिनायल ऑफ सर्विस (DoS) अटैक हो सकते हैं। इसका मतलब यह है कि हमलावर बहुत अधिक अनुरोधों के साथ डिवाइस को ओवरलोड कर सकते हैं या इसे क्रैश करने के लिए कमजोरियों का फायदा उठा सकते हैं।

जवाब में, Apple ने Vision Pro डिवाइस के लिए एक अहम सॉफ्टवेयर अपडेट जारी किया है। CERT-In सभी यूजर्स को इन खामियों को कम या खत्म करने के लिए इस अपडेट को तुरंत इंस्टॉल करने की सलाह देता है।
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

नितेश पपनोई Nitesh has almost seven years of experience in news writing and reviewing tech products like smartphones, headphones, and smartwatches. At Gadgets 360, he is covering all ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. भारत से ऑटोमोबाइल का एक्सपोर्ट 15 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ा
  2. स्मार्टफोन के इंटरनेशनल मार्केट की शिपमेंट्स 6 प्रतिशत बढ़ी, सैमसंग का पहला स्थान
  3. Honor Magic V3 स्मार्टफोन 16GB रैम, वायरलेस चार्जिंग सपोर्ट के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स
  4. Elon Musk की Tesla Robotaxi के आने में हुई देरी, जानें अब कब लॉन्च होगी अपने आप चलने वाली टैक्सी?
  5. Acerpure ने 65-इंच तक स्क्रीन साइज वाले 4 स्मार्ट टीवी भारत में किए लॉन्च, कीमत 11,490 रुपये से शुरू
  6. Huawei की ट्राई-फोल्ड स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी, 10 इंच की हो सकती है स्क्रीन
  7. बिटकॉइन में हुई रिकवरी, प्राइस 62,700 डॉलर से ज्यादा
  8. Realme 13 Pro सीरीज होगी 30 जुलाई को लॉन्च,क्या कुछ होगा खास यहां जानें सबकुछ
  9. Kia ने EV6 इलेक्ट्रिक कार की भारत में बिकी 1,138 यूनिट्स को वापस सर्विस सेंटर बुलाया, पाई गई ये गंभीर समस्या
  10. Jio के ये प्लान पूरे 365 दिन देते हैं डेली 2.5GB डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »