• होम
  • सोशल
  • ख़बरें
  • Afghanistan Taliban Crisis: Facebook, Twitter और LinkedIn ने अफगानिस्तानी यूजर्स के अकाउंट्स को दी सुरक्षा

Afghanistan-Taliban Crisis: Facebook, Twitter और LinkedIn ने अफगानिस्तानी यूजर्स के अकाउंट्स को दी सुरक्षा

अफगान महिला फ़ुटबॉल टीम की पूर्व कप्तान ने भी खिलाड़ियों से सोशल मीडिया को हटाने और अपनी सार्वजनिक पहचान मिटाने का आग्रह किया है।

Afghanistan-Taliban Crisis: Facebook, Twitter और LinkedIn ने अफगानिस्तानी यूजर्स के अकाउंट्स को दी सुरक्षा

Facebook ने अफगानिस्तान में यूजर्स के लिए अपने खातों को बंद करने के लिए "वन-क्लिक टूल" लॉन्च किया था।

ख़ास बातें
  • एमनेस्टी इंटरनेशनल के अनुसार हजारों अफगानियों की प्राइवेसी खतरे में है।
  • LinkedIn ने अफ़ग़ानिस्तान में यूजर्स के अकाउं अस्थायी रूप से छिपा दिए।
  • Twitter सरकारी संगठनों से जुड़े खातों की निगरानी कर रहा है।
Facebook, Twitter और LinkedIn ने अफगानिस्तान में अपनी सेवाओं के प्रतिबंध को लेकर बयान जारी किया है। इन्होंने कहा कि इस सप्ताह इन्होंने तालिबान के द्वारा अफगानिस्तान पर तेजी से कब्जे के बीच अफगानियों के अकाउंट्स की सुरक्षा सुनिश्चित की है। Facebook ने अफगानिस्तान में लोगों की फ्रेंड लिस्ट को देखने या खोजने की क्षमता को अस्थायी रूप से हटा दिया है, इसके सिक्योरिटी पॉलिसी के हेड Nathaniel Gleicher ने गुरुवार को इस बारे में ट्वीट किया।

Gleicher ने यह भी कहा कि कंपनी ने अफगानिस्तान में यूजर्स के लिए अपने खातों को बंद करने के लिए "वन-क्लिक टूल" लॉन्च किया था, इसलिए जो लोग उनके फेसबुक फ्रेंड नहीं हैं वे अपनी टाइमलाइन पोस्ट देखने या अपनी प्रोफ़ाइल फ़ोटो शेयर करने में असमर्थ होंगे।

मानवाधिकार समूहों ने चिंता व्यक्त की है कि तालिबान अफगानियों की डिजिटल हिस्ट्री या सोशल कनेक्शन को ट्रैक करने के लिए ऑनलाइन प्लैटफॉर्म का उपयोग कर सकता है। Amnesty International ने इस सप्ताह कहा था कि शिक्षाविदों, पत्रकारों और मानवाधिकार रक्षकों सहित हजारों अफगानों पर तालिबान के प्रतिशोध का गंभीर खतरा है।

अफगान महिला फ़ुटबॉल टीम की पूर्व कप्तान ने भी खिलाड़ियों से सोशल मीडिया को हटाने और अपनी सार्वजनिक पहचान मिटाने का आग्रह किया है। Twitter ने कहा कि वह देश में समूहों को सहायता प्रदान करने के लिए नागरिक समाज के भागीदारों के संपर्क में है और आर्काइव किए गए ट्वीट्स को हटाने के लिए डायरेक्ट रिक्वेस्ट में तेजी लाने के लिए Internet Archive के साथ काम कर रहा है।

इसमें कहा गया है कि यदि व्यक्ति उन खातों तक पहुंचने में असमर्थ थे, जो उन्हें जोखिम में डाल सकते थे, जैसे कि डायरेक्ट मैसेज या फॉलोअर्स, कंपनी तब तक खातों को अस्थायी रूप से सस्पेंड कर सकती है जब तक कि यूजर एक्सेस नहीं ले लेते और अपने कंटेंट को डिलीट करने में सक्षम नहीं हो जाते।

Twitter ने यह भी कहा कि वह सरकारी संगठनों से संबद्ध खातों की लगातार निगरानी कर रहा है और उनकी पहचान कन्फर्म करने हेतु अतिरिक्त जानकारी के लिए लंबित खातों को अस्थायी रूप से सस्पेंड कर सकता है। LinkedIn के एक प्रवक्ता ने कहा कि Microsoft के स्वामित्व वाली पेशेवर नेटवर्किंग साइट ने अफगानिस्तान में अपने यूजर्स के कनेक्शन अस्थायी रूप से छुपाए हैं ताकि अन्य यूजर उन्हें देख न सकें।

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. Cryptocurrency Bill : क्रिप्‍टो में निवेश करने वालों को जेल, जमानत भी नहीं मिलेगी!
  2. Airtel के 99 रुपये के प्लान से बेहतर है Jio का 91 रुपये का रीचार्ज, जानें कैसे?
  3. Ethereum Whale 'Gimli' ने पोर्टफोलियो में 28 अरब Shiba Inu टोकन जोड़े
  4. बैंकों और मर्चेंट्स को Cryptocurrency के बारे में समझाएगी Visa, शुरू की एडवाइजरी सर्विस
  5. Apple AirTags के इस्तेमाल से चोरी हो रही कारें, पुलिस ने लोगों को किया अलर्ट
  6. 12GB रैम और स्नैपड्रैगन 888 प्रोसेसर के साथ आएगा Oppo का पहला फोल्डेबल फोन!
  7. COVID-19 वैक्सीन सर्टिफिकेट कैसे करें ऑनलाइन डाउनलोड? ये रहा तरीका...
  8. Bitcoin में गिरावट को El Salvador ने फिर किया कैश, खरीदें 150 और Bitcoin
  9. 64MP कैमरा और 33W फास्ट चार्जिंग के साथ Xiaomi 11 Youth (Vitality Edition) लॉन्च, जानें कीमत
  10. इलेक्ट्रिक गाड़‍ियों के लिए सरकार की बड़ी तैयारी, ARAI डेवलप कर रही फास्‍ट चार्जर
#ताज़ा ख़बरें
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
गैजेट्स 360 स्टाफ को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी
 
 
 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com