• होम
  • मोबाइल
  • ख़बरें
  • Xiaomi ने अमेरिका और यूरोप में भ्रष्ट कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता!

Xiaomi ने अमेरिका और यूरोप में भ्रष्ट कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता!

पश्चिमी यूरोप और लैटिन अमेरिका में कंपनी के मैनेजर्स को गहराई तक करप्शन में डूबा हुआ बताया गया।

Xiaomi ने अमेरिका और यूरोप में भ्रष्ट कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता!

Xiaomi ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़े कदम उठाते हुए दो बड़े कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाया है।

ख़ास बातें
  • Xiaomi ने जताया कंपनी में भ्रष्टाचारी कर्मचारियों के लिए कोई जगह नहीं।
  • यूरोप में कंपनी का मार्केट शेयर 16 प्रतिशत बताया गया है।
  • Xiaomi वर्तमान में यूरोप के अंदर Samsung और Apple से संघर्ष कर रही है।
विज्ञापन
Xiaomi ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़े कदम उठाते हुए दो बड़े कर्मचारियों को कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाया है। शाओमी ने लैटिन अमेरिका और यूरोप से दो निर्देशकों को हटा दिया है। कंपनी के अनुसार, ये कई बार भ्रष्टाचार में लिप्त पाए गए थे। कंपनी का कहना है कि दोनों मैनेजर खास सुविधा ले रहे थे, साथ ही उनको लोगों से कई सारे उपहार और लुभावनी चीजें भी दी जाती थीं। वे कंपनी में अपने पद का नाजायज फायदा उठा रहे थे। 

पश्चिमी यूरोप और लैटिन अमेरिका में कंपनी के मैनेजर्स को गहराई तक करप्शन में डूबा हुआ बताया गया। अकेले लैटिन अमेरिका में शाओमी ने 50 लाख से ज्यादा स्मार्टफोन पहली ही तिमाही में सेल किए। जबकि यूरोप में कंपनी स्मार्टफोन शिपिंग में तीसरे नम्बर पर बेस्ट सेलिंग स्मार्टफोन ब्रैंड के रूप में काबिज है। ITHome की रिपोर्ट के अनुसार, लैटिन अमेरिका क्षेत्र में पूर्व जनरल डायरेक्टर Chen Bingxu पर आरोप है कि उन्होंने रिश्वत ली, गिफ्ट लिए, और खास मदद देने के बदले में महंगे मनोरंजन का लुत्फ लिया। पूर्व मैनेजर ने दूसरी कंपनियों के साथ कमर्शियल एग्रीमेंट साइन करने के बदले में स्पेशल ट्रीटमेंट लिया था। 

इसी तरह कंपनी के पश्चिमी यूरोप के पूर्व डायरेक्टर Owen ने गिफ्ट आदि के लालच में आकर बड़ी कीमत के कई एग्रीमेंट साइन किए। कंपनी ने न केवल ओवन को नौकरी से निकाल दिया, बल्कि उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी शुरू कर दी है। कंपनी ने पूर्व डायरेक्टर पर आपराधिक मामला दर्ज करवाया है और सिविल डैमेज का भी मामला दर्ज करवाया है। इस तरह से Xiaomi ने जता दिया है कि कंपनी में भ्रष्टाचारी कर्मचारियों के लिए कोई जगह नहीं है। 

कंपनी की परफॉर्मेंस की बात करें तो Xiaomi वर्तमान में यूरोप के अंदर Samsung और Apple से संघर्ष कर रही है। लैटिन अमेरिका में भी यही स्थिति है। क्षेत्रीय लीडर्स के इस तरह के घपलों के कारण कंपनी को जाहिर तौर पर इन क्षेत्रों में नुकसान हुआ है। Canalys की रिपोर्ट के अनुसार, लैटिन अमेरिका में कंपनी 5.3 मिलियन यूनिट्स 2024 की पहली तिमाही में सेल कीं। यहां पर कंपनी का मार्केट शेयर 15.3 प्रतिशत है। कंपनी को 45 प्रतिशत ईयर ओवर ईयर ग्रोथ हासिल हुई है। यूरोप में कंपनी का मार्केट शेयर 16 प्रतिशत बताया गया है। 
 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: Xiaomi, Xiaomi corruption issue, corruption in xiaomi
हेमन्त कुमार

हेमन्त कुमार Gadgets 360 में सीनियर सब-एडिटर हैं और विभिन्न प्रकार के ...और भी

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

विज्ञापन

#ताज़ा ख़बरें
  1. भारत से ऑटोमोबाइल का एक्सपोर्ट 15 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ा
  2. स्मार्टफोन के इंटरनेशनल मार्केट की शिपमेंट्स 6 प्रतिशत बढ़ी, सैमसंग का पहला स्थान
  3. Honor Magic V3 स्मार्टफोन 16GB रैम, वायरलेस चार्जिंग सपोर्ट के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स
  4. Elon Musk की Tesla Robotaxi के आने में हुई देरी, जानें अब कब लॉन्च होगी अपने आप चलने वाली टैक्सी?
  5. Acerpure ने 65-इंच तक स्क्रीन साइज वाले 4 स्मार्ट टीवी भारत में किए लॉन्च, कीमत 11,490 रुपये से शुरू
  6. Huawei की ट्राई-फोल्ड स्मार्टफोन लॉन्च करने की तैयारी, 10 इंच की हो सकती है स्क्रीन
  7. बिटकॉइन में हुई रिकवरी, प्राइस 62,700 डॉलर से ज्यादा
  8. Realme 13 Pro सीरीज होगी 30 जुलाई को लॉन्च,क्या कुछ होगा खास यहां जानें सबकुछ
  9. Kia ने EV6 इलेक्ट्रिक कार की भारत में बिकी 1,138 यूनिट्स को वापस सर्विस सेंटर बुलाया, पाई गई ये गंभीर समस्या
  10. Jio के ये प्लान पूरे 365 दिन देते हैं डेली 2.5GB डाटा और अनलिमिटेड कॉलिंग का लाभ!
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »