क्रिप्टो मार्केट की मंदी से NFT सेल्स पर पड़ी चोट

इस सेगमेंट में कारोबार बढ़ने के साथ ही स्कैम के मामलों में भी तेजी आई है। ऐसे कुछ मामलों में NFT खरीदने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। अमेरिका में इस सेगमेंट से जुड़े धोखाधड़ी के कुछ बड़े मामलों का खुलासा हुआ है

क्रिप्टो मार्केट की मंदी से NFT सेल्स पर पड़ी चोट

NFT में ब्लॉकचेन के इस्तेमाल से यूनीक आइटम्स के टोकन्स को ऑथेंटिकेट किया जाता है

विज्ञापन
पिछले कुछ महीनों से लगातार गिरावट का सामना कर रही क्रिप्टो मार्केट का असर नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) की सेल्स पर भी पड़ा है। बड़े NFT मार्केटप्लेस में शामिल OpenSea पर मासिक सेल्स वॉल्यूम जून में गिरकर लगभग 70 करोड़ डॉलर रह गई, जो इससे पिछले महीने लगभग 2.6 अरब डॉलर की थी। 

ब्लॉकचेन Ethereum और Ronin पर सेल्स को ट्रैक करने वाली NonFungible.com के डेटा से पता चलता है कि जून के अंत में औसत NFT सेल्स गिरकर लगभग 412 डॉलर की थी, यह आंकड़ा अप्रैल के अंत में लगभग 1,754 डॉलर का था। Reuters की रिपोर्ट में NonFungible.com के को-फाउंडर Gauthier Zuppinger के हवाले से बताया गया है, "क्रिप्टो मार्केट में मंदी का निश्चित तौर पर NFT पर असर पड़ा है। हमने इस प्रकार के एसेट को लेकर काफी सट्टेबाजी देखी है। लोगों को यह समझ आ गया है कि वे इससे दो दिनों में मिलिनेयर नहीं बन सकते।"  

मार्केट कैपिटलाइजेशन के लिहाज से सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin की वैल्यू इस वर्ष के पहले छह महीनों में लगभग 57 प्रतिशत और Ether की लगभग 71 प्रतिशत कम हुई है। NFT में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से यूनीक आइटम्स के टोकन्स को ऑथेंटिकेट किया जाता है जो दोबारा प्रोड्यूस किए जा सकने वाले डिजिटल एसेट्स से जुड़े होते हैं। इनमें आर्ट, म्यूजिक, इन-गेम आइटम्स और वीडियो शामिल हो सकते हैं। इनकी ऑनलाइन ट्रेडिंग की जा सकती है लेकिन इन्हें डुप्लिकेट नहीं किया जा सकता।

इस सेगमेंट में कारोबार बढ़ने के साथ ही स्कैम के मामलों में भी तेजी आई है। ऐसे कुछ मामलों में NFT खरीदने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। अमेरिका में इस सेगमेंट से जुड़े धोखाधड़ी के कुछ बड़े मामलों का खुलासा हुआ है। इनमें कुछ आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया है। इन मामलों से इस सेगमेंट में ट्रेडिंग को लेकर आशंका बढ़ी है। NFT की लोकप्रियता में भी बढ़ोतरी हो रही है। स्पोर्ट्स क्लब, ऑटोमोबाइल कंपनियां और पॉप स्टार्स भी इस कारोबार में उतर रहे हैं। हाल ही में चीन में फाइनेंशियल और सिक्योरिटी ऑर्गनाइजेशंस ने NFT से जुड़े वित्तीय जोखिमों के खिलाफ चेतावनी दी थी। फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी मास्टरकार्ड की ओर से हाल ही में 40 देशों में लगभग 35,000 लोगों के एक सर्वे में पता चला था कि इनमें से लगभग 45 प्रतिशत लोगों ने NFT खरीदे हैं या खरीदने पर विचार कर सकते हैं। 


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

भारतीय एक्सचेंजों में क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें

Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: Crypto, Marketplace, NFT, Bitcoin, Investors, America, Loss, Ether, Regulators
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Sonos Ace: इस वायरलेस हेडफोन में है 30 घंटे की बैटरी लाइफ और Dolby हेड-ट्रैकिंग फीचर, जानें कीमत
  2. सूर्यग्रहण बहुत दूर है! उससे पहले आसमान में दिखेंगे 6 ग्रह, जानें डिटेल
  3. Xiaomi के नए MIJIA Floor Fan Pro को बॉक्स में कर सकते हैं बंद, इस कीमत में हुआ लॉन्च
  4. क्रिप्टो मार्केट में मामूली गिरावट, बिटकॉइन का प्राइस 72,000 डॉलर से ज्यादा
  5. Realme Buds Air 6 Launched in india : रियलमी के नए ईयरबड्स लॉन्‍च, 40 घंटों तक सुन पाएंगे म्‍यूजिक, जानें प्राइस
  6. Xiaomi की Civi सीरीज जल्द हो सकती है भारत में लॉन्च 
  7. Xiaomi ने भारत में लॉन्‍च किए 32, 40, 43 इंच के नए Smart TV, कीमत 12,999 रुपये से शुरू
  8. Realme GT 6T Launched in India : 5500mAh बैटरी, 120W चार्जिंग, 12GB रैम के साथ नया रियलमी फोन लॉन्‍च, जानें प्राइस
  9. Vivo X Fold 3 Pro की लॉन्‍च डेट गलती से हो गई लीक! फीचर्स का भी पता चला
  10. Samsung Galaxy Z Flip 6 की कैमरा डिटेल लीक, BIS पर दिखा! नए फोल्‍ड के साथ हो सकता है लॉन्‍च
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »