अपना नेविगेशन सिस्टम पाने के करीब पहुंचा भारत, लॉन्च हुआ IRNSS-1G

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से गुरुवार को देश का सातवां और अंतिम नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस- 1जी सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
अपना नेविगेशन सिस्टम पाने के करीब पहुंचा भारत, लॉन्च हुआ IRNSS-1G
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र से गुरुवार को देश का सातवां और अंतिम नौवहन उपग्रह आईआरएनएसएस- 1जी सफलतापूर्वक लॉन्च कर दिया गया।

इसरो के मुताबिक, 44.4 मीटर लंबा और 320 टन वजनी यह ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) भारतीय क्षेत्रीय नौवहन उपग्रह प्रणाली (आईआरएनएसएस-1जी) के साथ अंतरिक्ष के लिए प्रस्थान कर गया।

करीब 20 मिनट की उड़ान में यह यान 1,425 किलोग्राम वजनी आईआरएनएसएस-1जी उपग्रह को 497.8 किलोमीटर की ऊंचाई पर कक्षा में स्थापित कर देगा।

पीएसएलवी ठोस तथा तरल ईंधन द्वारा संचालित चार चरणों/इंजन वाला एक प्रक्षेपण यान है।

यह उपग्रह, आईआरएनएसएस-1जी (भारतीय क्षेत्रीय नौवहन उपग्रह प्रणाली-1जी) के सात उपग्रहों के समूह का हिस्सा है। इसका उद्देश्य उपयोगकर्ताओं के लिए 1,500 किलोमीटर तक के विस्तार में देश और इस क्षेत्र की स्थिति की सटीक जानकारी प्रदान करना है।

अब तक भारत छह क्षेत्रीय नौवहन उपग्रहों (आईआरएनएसएस -1 ए, 1बी, 1सी, आईडी, 1ए और 1जी) का प्रक्षेपण कर चुका है।

इसरो के अधिकारियों ने हालांकि पहले कहा था कि यद्यपि इस पूरी प्रणाली में नौ उपग्रह शामिल हैं। जिनमें से सात कक्षीय और दो पृथ्वी पर स्थित हैं, लेकिन चार उपग्रहों के साथ भी इस नौवहन सेवा को संचालित किया जा सकता है।

इस प्रत्येक उपग्रह की लागत 150 करोड़ रुपये के करीब है। वहीं पीएसएलवी-एक्सएल प्रक्षेपण यान की लागत 130 करोड़ रुपये के आसपास है। सातों प्रक्षेपण यानों की कुल लागत करीब 910 करोड़ रुपये है।

अगर सब कुछ सुचारु रूप से हुआ तो समग्र आईआरएनएसएस प्रणाली के सातों उपग्रह गुरुवार को सफलतापूर्वक कक्षा में स्थापित हो जाएंगे।

यह क्षेत्रीय नौवहन प्रणाली स्थापित हो जाती है, तो भारत को अन्य मंचों पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा।
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. Whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी का असर: 82% भारतीय यूजर्स व्हाट्सएप छोड़ने को तैयार!
  2. Airtel Xstream Fiber ब्रॉडबैंड प्लान के साथ अब मिलेगा कॉम्पलिमेंट्री 1Gbps वाई-फाई राउटर
  3. PUBG Mobile के कॉम्पटीटर FAUG के भारत में लॉन्च होने में बचे हैं महज 7 दिन, जानें सबकुछ
  4. Vu Cinema TV Action Series 55LX और 65LX भारत में लॉन्च, जानें कीमत और खासियतें
  5. Amazon & Flipkart Republic Day Sale: हाथ से जानें न दें स्मार्टफोन्स पर मिल रही ये शानदार डील्स...
  6. Realme X सीरीज़ के तहत भारत में जल्द लॉन्च होगा नया फोन, Realme X7 Pro होने की है संभावना
  7. Vivo Y20G ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप के साथ भारत में लॉन्च, जानें कीमत और सारे स्पेसिफिकेशन
  8. WhatsApp पर चैटिंग होगी अब नए अंदाज़ में
  9. WhatsApp Status को चुटकियों में ऐसे करें डाउनलोड
  10. Jio TV ऐप के लिए भी आया पिक्चर-इन-पिक्चर सपोर्ट
#ताज़ा ख़बरें
  1. BSNL Bharat Fiber के चार प्लान्स पर अब मिलेगा 1 साल तक का सब्सक्रिप्शन: रिपोर्ट
  2. Mi 11 Pro फोन 120X ज़ूम सपोर्ट के साथ दे सकता है दस्तक
  3. Vivo Y31 स्नैपड्रैगन 662 प्रोसेसर के साथ भारत में लॉन्च, जानें कीमत व अन्य खूबियां
  4. Poco M3 भारत में फरवरी में हो सकता है लॉन्च, इन खूबियों से है लैस
  5. Whatsapp की नई प्राइवेसी पॉलिसी पर बवाल, भारत सरकार ने CEO को लिखा पत्र, वापस लें प्राइवेसी पॉलिसी
  6. Motorola Edge S नए स्नैपड्रैगन 870 प्रोसेसर के साथ 26 जनवरी को होगा लॉन्च
  7. Realme X सीरीज़ के तहत भारत में जल्द लॉन्च होगा नया फोन, Realme X7 Pro होने की है संभावना
  8. Samsung Galaxy A52 के क्वाड रियर कैमरा और 3.5mm ऑडियो जैक की मिली झलक!
  9. Tata Sky यूजर्स के लिए खुशखबरी, कैशबैक के साथ जीतें कार
  10. Xiaomi Republic Day सेल में Redmi Note 9 सीरीज़ व Mi Watch Revolve जैसे डिवाइस पर मिल रही जबरदस्त छूट
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
गैजेट्स 360 स्टाफ को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी
 
 
 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com