जियो फोन पर फेसबुकः ऐसा रहा हमारा अनुभव

अगर आप जियो फोन में फेसबुक चलाना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको करना होगा इन दिशा-निर्देशों का पालन...

जियो फोन पर फेसबुकः ऐसा रहा हमारा अनुभव
ख़ास बातें
  • जियो फोन में फेसबुक चलाने के आसान स्टेप
  • कैसा रहा फेसबुक चलाने का अनुभव, आप भी जानें
  • क्या हैं जियो फोन में दिए गए फेसबुक ऐप की खूबियां और खामियां
विज्ञापन
जियो फोन में फेसबुक चलने की खुशखबरी पिछले महीने ही आ चुकी है। 14 फरवरी से जियो फोन में उपलब्ध फेसबुक के खास वर्ज़न को जियो ऐप स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह ऐप खास तौर पर जियो काईओएस के लिए तैयार किया गया है। ज्ञात हो कि जियो का 'स्मार्ट' 4जी फीचर फोन वेब-आधारित काई ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है। आइए जानें, जियो फोन पर फेसबुक कैसे काम करता है? इसे इस्तेमाल करने के दौरान हमें कैसा अनुभव मिला...

अगर आप जियो फोन में फेसबुक चलाना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको मेन्यू बार में दिए गए विकल्पों में से 'जियो स्टोर' पर क्लिक करना होगा। जियो स्टोर में जाते ही आपको कई ऐप्लिकेशन दिखेंगी, जिनमें फेसबुक भी होगा। फेसबुक पर क्लिक करके डाउनलोड कर लें। अगर आप बेहतर कनेक्टिविटी वाली जगह पर हैं तो चंद सेकेंड के भीतर ही यह डाउनलोड हो जाएगा। फेसबुक को ओपन करें। लॉग-इन पेज पर पहली नज़र पड़ते ही आपको फेसबुक का मोबाइल ब्राउज़र इंटरफेस याद आएगा। इस तरह आप जियो फोन में फेसबुक चला सकते हैं। फीचर और यूज़र इंटरफेस में कुछ नया नहीं है। 
 
jio phone

 अपनी कीमत के लिहाज़ से जियो फोन में दिया गया फेसबुक फीचर बेहतर है। फेसबुक डाउनलोड करने में हमें चंद सेकेंड ही लगे, जो अनुभव के लिहाज़ से अच्छी बात है। इसके बाद फेसबुक लॉग-इन से लेकर नोटिफिकेशन, मैसेज चेक करने, स्क्रॉल अप-डाउन करने में कोई दिक्कत पेश नहीं आई। यूज़र इंटरफेस के मामले में जियो फोन का फेसबुक, आपको उन शुरुआती फोन की याद दिलाता है, जिनमें फेसबुक इस्तेमाल करने के लिए प्वॉइंटर/ट्रैकबॉल दिया जाता था। हमने फोन का सर्च बार इस्तेमाल किया।


हमने अकाउंट से फेसबुक फ्रेंड सर्च किए। दोस्तों की प्रोफाइल देखी। ग्रुप में जाकर कई गतिविधियां कीं। लाइक, कमेंट और शेयर जैसे फीचर भी इसमें आसानी से काम कर रहे हैं। आपको इसमें पता चल जाता है कि कितने नोटिफिकेशन आए। इन पर आसानी से प्वॉइंटर ले जाकर आप अपनी व अपने क्लोज़ फ्रेंड की पोस्ट को लाइक, कमेंट और शेयर कर सकते हैं। अगर आप एंड्रॉयड स्मार्टफोन या आईओएस पर फेसबुक चलाने के आदी हैं, तो यहां फेसबुक इस्तेमाल करना आपको अखर सकता है। लेकिन, इस बजट सेगमेंट में शायद ही जियो फीचर फोन से बेहतर फेसबुक यूज़र एक्सपीरिएंस संभव हो। प्वॉइंटर तो स्मूथ है ही, साथ ही उदाहरण के लिए अगर आप नोटिफिकेशन से मैसेज की तरफ जा रहे हैं तो आपको खाली जगह में प्वॉइंटर मूव नहीं करना होगा। एक दिशा में स्विच करते हुए प्वॉइंटर अगले फीचर पर अपने आप ड्रैग होकर रुक जाता है। इस तरह जियो फोन से फेसबुक चलाते हुए आपको बिल्कुल भी ऐसा नहीं लगता कि अगर दूसरा कोई फोन होता, तो आप अमुक फीचर का भी इस्तेमाल करते।

 
यहां आप स्टेटस अपडेट कर सकते हैं। किसी को संदेश भेज सकते हैं। किसी का भेजा हुआ संदेश आसानी से देख सकते हैं। नोटिफिकेशन पर क्लिक कर लाइक, शेयर और कॉमेंट भी बिना किसी दिक्कत के कर सकते हैं। साथ ही सेटिंग मेन्यू में जाकर आम फोन की तरह आप इसमें पासवर्ड और अन्य सेटिंग्स को अपने हिसाब से सेट कर पाएंगे। यानी फेसबुक पर आप जितनी गतिविधियां किसी अन्य फोन से कर सकते हैं, वे आपके इस जियो फीचर फोन की मदद से भी संभव हैं।

अब बात खामियों की। जियो फोन में फेसबुक इस्तेमाल करते हुए जो मुख्य समस्याएं पेश आती हैं, उनमें से एक फॉन्ट/पिक्चर साइज। आपको स्क्रॉल अप और स्क्रॉल डाउन करते हुए टेक्सट और पिक्चर बेहद छोटे दिखाई देते हैं, जो यूज़र को अखर सकता है। एक बड़े आकार वाली स्क्रीन और एंड्रॉयड वाले अनुभव से बाहर निकलकर जब आप इसमें फेसबुक चलाते हैं तो लगता है कि आप किसी छोटे से बॉक्स में फंसे हैं, जहां लाइक, कॉमेंट और शेयर जैसी गतिविधियां कोई खास दिलचस्पी नहीं देतीं। यूज़र को मोबाइल ब्राउज़र से हटकर इंटरफेस दिया जाता तो बताईं गईं खामियां काफी हद तक छिप सकती थीं।

भले ही इस्तेमाल करने के दौरान फेसबुक फीचर आपको थोड़ा 'आउटडेटेड', लगे, लेकिन एक फीचर फोन के लिहाज़ से इतना स्मूथ एक्सपीरिएंस देना रिलायंस जियो की बड़ी उपलब्धि है।

ज्ञात हो, जियो फोन पिछले महीने से ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेज़न इंडिया पर भी बिक्री के लिए उपलब्ध करवाया गया है। इससे पहले जियो फोन सिर्फ रिलायंस डिजिटल स्टोर, जियो वेबसाइट, मायजियो ऐप और रिलायंस जियो के साझेदार स्टोर पर ही बिक्री के लिए उपलब्ध होता था। फोन की कीमत 1,500 रुपये है। बता दें कि यूज़र 3 साल बाद अगर इस फोन को वापस करते हैं तो उन्हें 1,500 रुपये वापस मिल जाएंगे।
 

जियो फोन के स्पेसिफिकेशन

एक सिम वाले जियोफोन में 2.4 इंच का क्यूडब्ल्यूवीजीए (240x320 पिक्सल) डिस्प्ले है। इसमें 1.2 गीगाहर्ट्ज़ स्प्रेडट्रम SPRD 9820A/QC8905 डुअल कोर प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है। माली-400 जीपीयू इंटिग्रेटेड है। साथ में मौज़ूद है 512 एमबी रैम। इनबिल्ट स्टोरेज 4 जीबी है और आप 128 जीबी तक का माइक्रोएसडी कार्ड इस्तेमाल कर पाएंगे।

फोन के पिछले हिस्से पर 2 मेगापिक्सल का कैमरा है। और फ्रंट पैनल पर वीजीए कैमरा है। JioPhone की बैटरी 2000 एमएएच की है। इसके बारे में 12 घंटे तक के टॉक टाइम और 15 दिन तक के स्टैंडबाय टाइम का दावा किया गया है। कनेक्टिविटी फीचर में 4जी वीओएलटीई, ब्लूटूथ वी4.1, वाई-फाई, एनएफसी, एफएम रेडियो, जीपीएस और यूएसबी 2.0 सपोर्ट शामिल हैं।
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: jio, jio phone, facebook, facebook with jio

संबंधित ख़बरें

Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. Lava Blaze Curve 5G स्मार्टफोन 64MP कैमरा, 16GB RAM के साथ लॉन्च, जानें खासियतें
  2. 60 किलोमीटर रेंज के साथ Xiaomi Electric Scooter 4 Pro Max हुआ लॉन्च, जानें फीचर्स
  3. Ulefone Armor 23 Ultra स्मार्टफोन सैटेलाइट कनेक्टिविटी के साथ MWC 2024 में हुआ पेश
  4. Cult Active TR लॉन्च हुई 1.52" डिस्प्ले, 7 दिन बैटरी लाइफ के साथ, जानें स्मार्टवॉच की कीमत
  5. टैटू बनवाने वाले सावधान! सेहत को हो सकता है नुकसान
  6. Realme 12 5G, 12+ 5G की कीमत लीक, 8GB रैम, 5000mAh बैटरी के साथ 6 मार्च को होंगे लॉन्च
  7. TVS Motor की सेल्स 33 प्रतिशत बढ़कर 3.68 लाख यूनिट्स से ज्यादा
  8. Samsung की Galaxy S25 सीरीज में हो सकता है Exynos चिप
  9. Cognizant के कर्मचारियों को हफ्ते में 3 दिन आना होगा ऑफिस, कंपनी ने लॉन्च किया एक स्पेशल ऐप
  10. Google भी चला Apple की राह! स्मार्टफोन यूजर्स के लिए रिलीज हो सकता है नया 'Satellite SOS' फीचर
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »