• होम
  • इंटरनेट
  • ख़बरें
  • सोलर पावर से चार्ज होने वाली इस इलेक्ट्रिक वैन ने जगाई सीरिया के स्वास्थ्य कर्मचारियों की टूटी उम्मीदें

सोलर पावर से चार्ज होने वाली इस इलेक्ट्रिक वैन ने जगाई सीरिया के स्वास्थ्य कर्मचारियों की टूटी उम्मीदें

Syria में कई वर्षों से चल रहे संघर्ष ने 40 लाख से अधिक लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच से वंचित कर दिया है। इसका मुख्य कारण हवाई बमबारी से स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे का नष्ट होना है।

सोलर पावर से चार्ज होने वाली इस इलेक्ट्रिक वैन ने जगाई सीरिया के स्वास्थ्य कर्मचारियों की टूटी उम्मीदें

सोलर से चार्ज होती है यह इलेक्ट्रिक वैन

ख़ास बातें
  • हेल्थ इंटिग्रेटिड रसिलिएंस सिस्टम (HIRS) के नाम से जाना जाता है यह सिस्टम
  • यह प्रोजेक्ट यूनियन ऑफ मेडिकल केयर एंड रिलीफ ऑर्गनाइजेशन का है
  • Creating Hope in Conflict: a Humanitarian Grand Challenge द्वारा है फंडेड
विज्ञापन
सीरिया के हालात शायद ही किसी से छिपे हो। देश में कई वर्षों से चल रहे संघर्ष ने 40 लाख से अधिक लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंच से वंचित कर दिया है। इसका मुख्य कारण हवाई बमबारी से स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे का नष्ट होना है। इसके अलावा, फ्यूल की कमी भी इसका एक कारण माना जा सकता है। हालांकि, अब उत्तरी सीरिया में एक इलेक्ट्रिक व्हीकल चिकित्सा कर्मचारियों के लिए मसीहा बनकर आया है। इसका इस्तेमाल रोगियों तक पहुंचने और आवश्यक टीकों (वैक्सीन) को लाने-लेजाने के लिए किया जा रहा है

Power Engineering International की एक रिपोर्ट बताती है कि उत्तरी सीरिया में एक प्रोजेक्ट शुरू किया गया है, जिसमें कई इलेक्ट्रिक गाड़ियों को आपाकालीन वाहन के रूप में इस्तेमाल किया जाएगा। इनमें से पहली इलेक्ट्रिक वैन क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं व वैक्सीन पहुंचाने के लिए चलनी शुरू हो गई है। इसे हेल्थ इंटिग्रेटिड रसिलिएंस सिस्टम (HIRS) कहा जाता है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि यह 100% इलेक्ट्रिक वैन लिथियम बैटरी का इस्तेमाल करती है, जिसे सौर ऊर्जा के जरिए चार्ज किया जाता है। इस प्रोजेक्ट को सीरिया सोलर पहल के तहत शुरू किया गया है। इस प्रोजेक्ट को यूनियन ऑफ मेडिकल केयर एंड रिलीफ ऑर्गनाइजेशन (UOSSM) द्वारा चलाया जा रहा है और Creating Hope in Conflict: a Humanitarian Grand Challenge द्वारा फंड किया गया है।

PEI से बात करते हुए UOSSM के पर्यावरण एंजिनीयर एवं प्रोग्राम को-ऑर्डिनेटर अली मोहम्मद (Ali Mohamad) ने कहा "हमारी टीम काबिल इंजीनियर और डॉक्टर से बनी है, जो इस प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।"  

मोहम्मद ने इस प्रोजेक्ट के भविष्य को लेकर कहा कि " इससे दुनिया भर में संकट और युद्ध के क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं के भविष्य के संचालन में बड़ा बदलाव आ सकता है - विशेष रूप से डीप डीकार्बोनाइजेशन के लिए क्लाइमेट लक्ष्यों को पूरा करने के लिए तात्कालिकता को देखते हुए।"
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

ये भी पढ़े: , Syria, Syria Electric Van, Electric van, Electric vehicles
नितेश पपनोई Nitesh has almost seven years of experience in news writing and reviewing tech products like smartphones, headphones, and smartwatches. At Gadgets 360, he is covering all ...और भी
Share on Facebook Gadgets360 Twitter ShareTweet Share Snapchat Reddit आपकी राय google-newsGoogle News
 
 

विज्ञापन

Advertisement

#ताज़ा ख़बरें
  1. iQOO Pad 2 Pro, iQOO Pad 2 Pro स्पेसिफिकेशंस हुए लीक, जानें सबकुछ
  2. Infinix GT 20 Pro Launched : 12GB रैम, 108MP कैमरा के साथ इनफ‍िनिक्‍स का नया फोन लॉन्‍च, जानें प्राइस
  3. POCO Pad की लॉन्चिंग से पहले 10000mAh बैटरी वाला Redmi Pad Pro इन देशों में पेश
  4. TCL ने पेश किया दुनिया का पहला फंक्शनल ट्राई-फोल्डेबल फोन, जानें क्या है खास
  5. Vivo X Fold 3 Pro भारत में इस दिन होगा लॉन्च, जानें सबकुछ
  6. iQoo Neo 9S Pro स्मार्टफोन 16GB रैम, 1TB स्टोरेज के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत
  7. Infinix GT 20 Pro की लॉन्च तारीख, अनुमानित कीमत से लेकर फीचर्स और स्पेसिफिकेशंस का खुलासा
  8. Noise Vibe 2 Launched : Rs 1499 में नॉइस ने लॉन्‍च किया पोर्टेबल ब्‍लूटूथ स्‍पीकर
  9. Android 15 से क्या 3 घंटे बढ़ जाएगी बैटरी लाइफ?
  10. Xiaomi ने लॉन्‍च किया 43 इंच का नया स्‍मार्ट TV, FHD रेजॉलूशन, 8GB स्‍टोरेज समेत कई खूबियां
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2024. All rights reserved.
ट्रेंडिंग प्रॉडक्ट्स »
लेटेस्ट टेक ख़बरें »