Coronavirus से लड़ने के लिए 'PM-CARES FUND' में करना है दान? ये हैं आसान तरीके

आप PM CARES Fund में कई तरीकों से दान कर सकते हैं, जैसे डेबिट और क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, यूपीआई पेमेंट के साथ-साथ RTGS/NEFT का माध्यम

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
Coronavirus से लड़ने के लिए 'PM-CARES FUND' में करना है दान? ये हैं आसान तरीके

COVID-19 की वजह से देशभर में है 21 दिनों का लॉकडाउन

ख़ास बातें
  • कई माध्यम से कर सकते हैं PM CARES Fund में दान
  • फंड के लिए बनी वेबसाइट पर मिलेगा डोनेशन फॉर्म
  • डोनेशन की यूपीआई आईडी है pmcares@sbi
Coronavirus महामारी के कब्जे में इस वक्त पूरी दुनिया है, हर देश COVID-19 यानी कोरोना वायरस महामारी से बचने और फैलने से रोकने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं। भारत में इन दिनों 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है, जिस वजह से हर गली-मोहल्ला और राज्य की सीमाएं बंद है। सरकारें जो भी योजनाएं व कदम उठा रही हो, इसमें फंड इकट्ठा करना बेहद ही गंभीर मुद्दा है। इसके लिए प्राइम मिनिस्टर सिटीज़न असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन फंड (PM CARES Fund) की शुरूआत की गई है, जहां कोई भी कितनी भी राशि सरकार को इस महामारी से लड़ने के लिए डोनेट कर सकता है। इस फंड को अक्षय कुमार जैसे कई सेलिब्रिटीज़ का समर्थन मि रहा है। अक्षय कुमार ने अकेले इस फंड में 25 करोड़ रुपये दान दिए हैं। इसके अलावा टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा ने भी 500 करोड़े रुपये की राशि इस फंड को दान की है। आप भी 'पीएम केयर फंड' में डोनेशन देकर इस लड़ाई में शामिल हो सकते हैं।

आप इस फंड में कई तरीकों से दान कर सकते हैं, जैसे डेबिट और क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, यूपीआई पेमेंट के साथ-साथ RTGS/NEFT का माध्यम। इसके लिए आपको https://pmnrf.gov.in/en/online-donation वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपको डोनेशन फॉर्म मिलेगा, जिसे भरकर आप पेमेंट कर सकते हैं। डोनेशन भेजने की यूपीआई आईडी है pmcares@sbi।

सरकार के द्वारा ज़ारी प्रेस रिलीज़ में कहा गया है कि पीएम-केयर्स फंड में आप जो भी राशि डोनेट करते हैं, उसपर इनकम टैक्स सेक्शन 80(जी) के तहत टैक्स में छूट मिलेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट करते हुए पीएम-केयर्स फंड का जिक्र किया और कहा कि आपके द्वारा किए कम से कम दान का भी इस फंड में स्वागत है। ट्वीट में कहा गया है, “यह राशि आपदा प्रबंधन क्षमताओं की ताकत बनेगी और नागरिकों की रक्षा के अनुसंधान को प्रोत्साहित करेगी। आइए, हम अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए भारत को स्वस्थ और समृद्ध बनाएं।"

दूसरे देशों की तरह भारत भी पूरी तरह से लॉकडाउन है, ताकि बड़ी संख्या में लोग एक-दूसरे के संपर्क में न आए। यह इस खतरनाक वायरस को फैलने से रोकने का सबसे महत्वपूर्ण कदम है। कई कंपनियों से कहा गया है कि वह अपने सभी कर्मचारियों से वर्क-फ्रॉम-होम कराएं, ताकि वह अपने घर पर सुरक्षित रहें और बढ़ते कोरोना वायरस के केस में सुधार आए।
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2020. All rights reserved.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com