Bitcoin माइनिंग पर बैन के बाद ईरान ने फिर उठाया यह कदम!

अवैध रूप से चल रहे बिटकॉइन खनन को रोकने के लिए ईरान के राष्ट्रपति बिटकॉइन को रेगुलेट करने पर कर रहे विचार।

Bitcoin माइनिंग पर बैन के बाद ईरान ने फिर उठाया यह कदम!

मई महीने में ईरान ने चार महीने के लिए बिटकॉइन खनन पर लगा दिया है पूर्ण प्रतिबंध।

ख़ास बातें
  • बिटकॉइन को रेगुलेट करने की दिशा में ईरान ने शुरू की कवायद।
  • अल साल्वाडोर लीगल टेंडर के रूप में बिटकॉइन को कर चुका है स्वीकार।
  • विषम आर्थिक परिस्थितियों के बावजूद बिटकॉइन को लेकर गंभीर है ईरान।
क्रिप्टोकरेंसी मार्केट को अनिश्चितताओं का बाजार कहा जाता है। बावजूद इसके दुनिया के अलग अलग देश डिजिटल करेंसी को लेकर अब गंभीर होने लगे हैं। अब ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने अपनी सरकार से बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी को रेगुलेट करने के लिए एक रूपरेखा पर काम शुरू करने के लिए कहा है। उनका मानना ​​​​है कि कानूनों और नियमों के बारे में स्पष्ट कम्यूनिकेशन का होना बेईमान क्रिप्टो व्यवसायों को हतोत्साहित करने में मदद करेगा, जो अब तक बेधड़क चलते आ रहे थे। जबकि ईरान ने बिजली की कमी के कारण इस साल चार महीने के लिए बिटकॉइन माइनिंग पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया था।

ज्ञात हो कि अभी हाल ही में अल साल्वाडोर ने बिटकॉइन को लीगल टेंडर के रूप में स्वीकार किया है। हालांकि अमेरिकन डॉलर का उपयोग भी देश में इसके लिए जारी रहेगा मगर बिटकॉइन को लीगल टेंडर के रूप में स्वीकार करने वाला साल्वाडोर पहला देश बन गया है। इससे संकेत मिलता है कि क्रिप्टोकरेंसी मार्केट के लिए भविष्य में अपार संभावनाएं हैं। 11 जून को खबर लिखने तक भारत में बिटकॉइन की कीमत 27.2 लाख रुपये थी।  

अमेरिका ने ईरान पर प्रतिबंध अधिनियम के माध्यम से अमेरिका के विरोधियों का मुकाबला करने वाला कानून CAATSA लगा दिया है। इससे अमेरिकन कंपनियां अब स्वीकृत संस्थाओं के साथ व्यापार नहीं कर सकती हैं। हालाँकि, आर्थिक प्रतिबंध ईरान को एक स्थान पर रखते हैं क्योंकि पश्चिम से संबद्ध कंपनियाँ इसे नकारने के लिए बाध्य हैं, जिससे एक लहर प्रभाव पैदा होता है जो ईरान के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार को गंभीर रूप से प्रभावित करता है। 

अब ईरान ने फिर से एक पहल की है। अमेरिकी डॉलर के माध्यम से व्यापार प्रतिबंधित होने के चलते यह देश मुख्य रूप से वैश्विक बैंकिंग प्रणाली से अलग हो जाता है। इस तरह की विषम परिस्थितियों के चलते भी ईरान ने क्रिप्टोकरेंसी क्रांति का दिल खोलकर स्वागत किया है। Elliptic की एक स्टडी के अनुसार ईरान का बिटकॉइन हैश रेट 4.5 प्रतिशत है। बिटकॉइन हैश रेट साधारणतया नेटवर्क की अच्छी बुरी स्थिति के बारे में बताने वाला एक पैमाना है। अधिक हैश रेट यानि नेटवर्क के अंदर अधिक प्रोसेसिंग पावर मौजूद है। उदाहरण के लिए चीन 55 प्रतिशत हैश रेट के साथ सबसे अग्रणी है और अमेरिका 11 प्रतिशत हैश रेट के साथ दूसरे स्थान पर है। 

बिटकॉइन माइनिंग के दैरान दिन रात हजारों की संख्या में कंप्यूटर मशीनों द्वारा जटिल समीकरणों पर काम चलता है जिससे इस प्रक्रिया में ऊर्जा खपत बहुत बढ़ जाती है। दो साल पहले चीनी खननकारियों को बड़े पैमाने पर ईरान में सेटअप के लिए प्रोत्साहित किया गया क्योंकि वहां पर बिजली काफी सस्ती थी। जुलाई 2020 से लेकर ईरान ने 50 बिटकॉइन माइनिंग कंपनियों को लाइसेंस दिए। मगर यह ज्यादा दिन तक चल नहीं पाया। ईरान में बिटकॉइन माइनिंग के चलते बिजली संकट गहराने लगा था। देश में अनियोजित ब्लैक आउट होने लगे और इसी कारण ईरानी सरकार ने बिटकॉइन माइनिंग पर इस साल मई महीने में चार महीने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया। मगर बावजूद इसके रिपोर्ट्स कहती हैं कि अवध रूप से यह खनन अभी भी जारी है।

राष्ट्रपति रूहानी ने कहा कि अवैध रूप से क्रिप्टोकरेंसी खनन कर रही कंपनियां 6 से 7 गुना तक ज्यादा बिजली खपत कर रही हैं। तेल भंडारण के मामले में ईरान विश्व में चौथे स्थान पर आता है। मगर इकोनॉमिक सेंक्शन के चलते यह इसका लाभ नहीं उठा सकता है। इसलिए इस ऊर्जा का इस्तेमाल देश ने बिटकॉइन की माइनिंग के लिए किया। 
Comments

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
  1. सिंगल चार्ज में 475 किलोमीटर दौड़ने वाली Kia EV6 इलेक्ट्रिक कार लॉन्च, जानें कीमत और खूबियां
  2. Revolt जल्द पेश करेगी 'किफायती' Made in India RV1 इलेक्ट्रिक बाइक, जानें कितनी होगी कीमत
  3. Video: तेज़ रफ्तार Tesla इलेक्ट्रिक कार में सोया ड्राइवर, ऑटोपायलट ने ऐसे बचाई जान
  4. 5,000mAh बैटरी के साथ Vivo Y12G फोन भारत में लॉन्च, जानें कीमत
  5. आज से लाइव होने वाला Ethereum 2.0 कर सकता है Bitcoin से बेहतर प्रदर्शन!
  6. 7,000mAh बैटरी वाला Samsung Galaxy F62 फोन हुआ 6,000 रुपये सस्ता, जानें नई कीमत...
  7. सिंगल चार्ज में 75 किलोमीटर चलने वाले दो Made in India इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च, फ्री में हो रही है बुकिंग
  8. 64MP कैमरा के साथ लॉन्च हुआ Honor Play 5T Pro स्मार्टफोन, जानें कीमत और खासियतें
  9. ये मेड-इन-इंडिया इलेक्ट्रिक बाइक देती हैं 150KM की रेंज और 120Kmph की टॉप स्पीड, Revolt RV400 को देगी टक्कर!
  10. सिंगल चार्ज में 419 KM चलने वाली MG की इलेक्ट्रिक कार मचा रही है धूम, जुलाई में मिली 600 से ज्यादा बुकिंग
#ताज़ा ख़बरें
  1. 64MP कैमरा के साथ लॉन्च हुआ Honor Play 5T Pro स्मार्टफोन, जानें कीमत और खासियतें
  2. Realme Narzo 30 के 6GB रैम और 64GB स्टोरेज की सेल शुरू, जानें कीमत
  3. 7,000mAh बैटरी वाला Samsung Galaxy F62 फोन हुआ 6,000 रुपये सस्ता, जानें नई कीमत...
  4. 446% बढ़ी भारतीय कंपनी Joy e-Bike की इलेक्ट्रिक बाइक सेल, 2 रुपये के खर्च में चलती है 5 किलोमीटर
  5. Xiaomi ने भारत में लॉन्च किया 16 हज़ार रुपये से भी सस्ता टीवी, ये हैं खूबियां
  6. 5,000mAh बैटरी के साथ Tecno Pop 5P फोन लॉन्च, जानें कीमत और स्पेसिफिकेशन
  7. अब इस रेस्टोरेंट में Bitcoin के जरिए खरीद सकते हैं फूड
  8. 64MP कैमरे वाला Huawei Nova 8 फोन नए प्रोसेसर के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत
  9. 8GB रैम और Snapdragon 855 प्रोसेसर से लैस होगा Lenovo Tab P12 Pro!
  10. Samsung Galaxy A52s 5G इन रंगों में दे सकता है दस्तक, रेंडर्स हुए लीक
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2021. All rights reserved.
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com