• होम
  • फ़ोटो
  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    NASA ने मंगल ग्रह (Mars) के बारे में जितनी हो सके उतनी जानकारियां प्राप्त करने के लिए MARS Exploration Program शुरू किया था, जिसमें उसके सबसे सक्षम रोवर्स Perseverance और Curiosity शामिल हैं। दोनों रोवर मंगल ग्रह में जीवन और ग्रह के भूगोल के बारे में जानकारी इक्ट्ठा करते हैं। इसके अलावा, अमेरिकी स्पेस एजेंसी के पास Mars Reconnaissance Orbiter भी है, जो मंगल ग्रह की अदभुत हाई-रिजॉल्यूशन तस्वीरें लेता है। यहां हम आपको पांच ऐसी अदभुत तस्वीरें दिखा रहे हैं, जो इन रोवर्स व ऑर्बिटर ने कैप्चर की है और इन्हें NASA की JPL (Jet Propulsion Laboratory) द्वारा शेयर किया है।

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    पृथ्वी के विपरीत, मंगल के दो चंद्रमा हैं - Phobos and Deimos और इन दोनों चंद्रमा को ग्रह से एक साथ देखा जा सकता है। दोनों में से बड़ा फोबस है, जिसे तस्वीर के सबसे ऊपरी हिस्से में देखा जा सकता है, जबकि डीमोस को दूसरे हिस्से में देखा जा सकता है, जिसे NASA के ओडिसी ऑर्बिटर (Odyssey Orbiter) के थर्मल एमिशन इमेजिंग सिस्टम (THEMIS) कैमरे द्वारा कैप्चर किया गया है। पृथ्वी के गोलाकार चंद्रमा के विपरीत, फोबोस का आकार थोड़ा अजीब है और वह दिन में तीन बार मंगल की परिक्रमा करता है। बड़ा चंद्रमा भी अपने ग्रह के सबसे करीब परिक्रमा करता है। इसके अगले 50 मिलियन वर्षों में ग्रह के चारों ओर एक रिंग में दुर्घटनाग्रस्त होने या टूटने की भी उम्मीद है।

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    लगभग 2.5 अरब साल पहले, मंगल ग्रह में भूजल खत्म होने का अनुमान लगाया गया है, जिसने ग्रह के दक्षिणी उच्चभूमि में बाढ़ प्रणाल (फ्लड चैनल्स) को बहुत तेज़ी से उकेरा। ये फ्लड चैनल आज लगभग 173 मील (280 km) व्यास के एक प्राचीन इम्पेक्ट क्रेटर में उत्थापित ब्लॉकों के बीच बेसाल्टिक टीलों के रूप में दिखाई दे रहे हैं। ऊपर की तस्वीर इस इम्पेक्ट क्रेटर के भीतर स्थित अराम कैओस (Aram Chaos) नाम की एक साइट की है, जिसमें Ares Vallis नाम का एक बड़ा आउटफ्लो चैनल भी है, जो उत्तर-पश्चिम की ओर एक हजार मील (1,600 km) से अधिक तक उत्तरी तराई में क्रिस प्लैनिटिया में चलता है।

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    इसिडिस प्लैनिटिया (Isidis Planitia) के पश्चिमी किनारे पर स्थित, Jezero Crater मंगल ग्रह की भूमध्य रेखा के ठीक उत्तर में है। वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि 28 मील (45 km) चौड़ा गड्ढा प्राचीन नदी डेल्टा का घर है और प्राचीन काल से संरक्षित कार्बनिक अणुओं और माइक्रोबियल जीवन के संकेतों का घर हो सकता है।

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    मंगल ग्रह पर सभी क्रेटर लाखों साल पुराने नहीं हैं। दिसंबर 2019 में, MRO ने लाल ग्रह के उत्तरी ध्रुव पर इस अपेक्षाकृत नए क्रेटर को कैप्चर किया था। मंगल ग्रह की सतह पर कम तापमान ने क्रेटर को बर्फ से भर दिया है। क्योंकि हमें अब तक ग्रह पर पानी का कोई निशान नहीं मिला है, इसलिए कार्बन डाइऑक्साइड के बाद बर्फ बनाई गई है, जो कि ग्रह पर सबसे प्रचुर मात्रा में गैस है, जो कम तापमान के कारण जमी है।

  • मंगल ग्रह की ये पांच तस्वीरें उड़ा देंगी आपके होश

    Danielson Crater मंगल ग्रह के दक्षिण-पश्चिम अरब टेरा क्षेत्र में स्थित एक इम्पेक्ट क्रेटर (गड्ढा) है। क्रेटर का व्यास लगभग 42 मील (67 km) है और 2019 में Mars Reconnaissance Orbiter (MRO) द्वारा खींची गई यह तस्वीर क्रेटर में चट्टान और रेत को दिखाती है। नासा का कहना है कि क्रेटर में चट्टान का निर्माण लाखों साल पहले हुआ होगा, जब ढीले तलछट क्रेटर में बस गए। मंगल ग्रह की हवाओं ने इन परतों पर रेत बिखेर दी है, जो इसे जेबरा की पट्टी जैसा रूप देती है।

Share on Facebook Tweet Share Snapchat Reddit आपकी राय
Comments
 
 

ADVERTISEMENT

Advertisement

© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2022. All rights reserved.